• Home
  • Rajasthan News
  • Nagour News
  • पार्थिव शिवलिंग का दस द्रव्यों से किया अभिषेक, गिन्नाणी तालाब में हुआ विसर्जन
--Advertisement--

पार्थिव शिवलिंग का दस द्रव्यों से किया अभिषेक, गिन्नाणी तालाब में हुआ विसर्जन

नगर सेठ बंशीवाला मंदिर परिसर में हरियाली अमावस्या के मौके पर शनिवार को पार्थिव शिवलिंग का सहस्रघट रूद्राभिषेक...

Danik Bhaskar | Aug 12, 2018, 05:46 AM IST
नगर सेठ बंशीवाला मंदिर परिसर में हरियाली अमावस्या के मौके पर शनिवार को पार्थिव शिवलिंग का सहस्रघट रूद्राभिषेक किया गया। सबसे पहले सुबह 11 बजे गणेश पूजा के साथ कार्यक्रम शुरू हुआ। दोपहर 12:30 बजे भगवान शिव के पार्थिव शिवलिंग का दूध, दही, घी, शकर, शहद, पंचामृत, गंगाजल, भांग, गन्ने का रस और इत्र आदि को मिलाकर भगवान शिव के पार्थिव शिवलिंग का रूद्राभिषेक किया गया। इस दौरान हितेश गुरु महाराज और 11 पंडितों ने शिव चालीसा के पाठ किए। स्व. नंदकिशोर पुरोहित की प्रेरणा से पिछले 16 सालों से लगातार यह कार्यक्रम हो रहा है। इस मौके पर शाम को 6 बजे शोभायात्रा निकाली गई।

शोभायात्रा का जगह-जगह पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया। शोभायात्रा बंशीवाला मंदिर परिसर से शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए गिन्नाणी तालाब पहुंची।

जहां पर शोभायात्रा का विसर्जन किया गया। इस मौके पर मगनलाल, नगेंद्र पुरोहित, लक्ष्मीनारायण, ओमप्रकाश सोनी, पदमचंद्र प्रजापत, शशीकांत, मनीष पुरोहित, नृसिंह राठी, ललित, शिवप्रकाश जोशी, ओमप्रकाश मूथा और गणेश आदि मौजूद थे।

रोल | गांव के शीतला माता डूंगरी स्थित बर्फानी महादेव मंदिर में शनिवार को हरियाली अमावस्या को लेकर अनेक धार्मिक आयोजन हुए। संत रामदास महाराज, पंडित ललित दाधीच व पं.किशन दाधीच के सान्निध्य में मंदिर में रुद्राभिषेक, विशेष-पूजा अर्चना, प्रसाद सहित अनेक धार्मिक आयोजन हुए। नागौर से आए राधेश्याम कांगसिया व मनीष कांगसिया तथा अन्य भक्तों द्वारा महादेव का हरियालो महादेव के रूप में शृंगार किया गया। इस दौरान अनेक भक्त उपस्थित थे।

नागौर. बंशीवाला मंदिर में हरियाली अमावस्या के अवसर पर उमड़े श्रद्धालु।