• Home
  • Rajasthan News
  • Nagour News
  • वार्ड 27 व 30 के 3 इलाकों में 3 साल से पेयजल किल्लत, अधिकारियों को बताया, समाधान नहीं
--Advertisement--

वार्ड 27 व 30 के 3 इलाकों में 3 साल से पेयजल किल्लत, अधिकारियों को बताया, समाधान नहीं

शहर के वार्ड 27 और 30 के तीन इलाकों में पेयजल किल्लत है। रमजान के महीने में इन इलाकों में पेयजल की समुचित व्यवस्था...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 05:55 AM IST
शहर के वार्ड 27 और 30 के तीन इलाकों में पेयजल किल्लत है। रमजान के महीने में इन इलाकों में पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के लिए भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला कार्यकारिणी सदस्य मोहम्मद इकबाल चौहान ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया है। इसमें उन्होंने बताया कि डेह रोड, चौधरी धर्मकांटा के पीछे और खान साहबों का मोहल्ला में तीन साल से पानी की समस्या है। इस बारे में नगर परिषद आयुक्त, सभापति और पीएचईडी के अधिकारियों को कई बार बताया। लेकिन समाधान नहीं हुआ। मोहम्मद हनीफ ने बताया कि रमजान का महीने शुक्रवार से शुरू हो रहा है। महिलाओं को पीने का पानी लाने के लिए भी मशक्कत करनी पड़ रही है। उन्होंने इन इलाकों में जाम हुई पानी की लाइनों को दुरुस्त करवाने की मांग की है।

गोगेलाव| ग्राम पंचायत सींगड़ में पानी की किल्लत को लेकर आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले एक साल से गांव में मीठे पानी की सप्लाई बंद होने से पानी की दिक्कत आ रही है। जलदाय विभाग द्वारा गांव में पानी की पाइप लाइन तो बिछा दी, लेकिन उनमें में पानी नहीं आ रहा है। उक्त समस्या को लेकर कई बार अधिकारियों को बताया गया लेकिन समाधान नहीं हुआ। ग्रामीण मांगीलाल बागड़िया, हरेन्द्र, शिवराम प्रजापत, किशोर, पुरखाराम आदि लोगों पानी की सुचारू आपूर्ति करवाने की मांग की है।

रोल| रोल काफी बड़ा कस्बा है तथा गांव में जलापूर्ति कराने का जिम्मा दो ही कार्मिकों के भरोसे होने से ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। गांव में जलदाय विभाग में मात्र दो ही हेल्पर कार्यरत है। जबकि गांव में 850 घरेलू नल कनेक्शन व ढाणियों में स्थित 6 जीएलआरों का जिम्मा इन्हीं पर होने से आमजन को अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। गांव में पानी की दो टंकियां बनी हुई है। जिसमें से एक जर्जर है। कामधेनु सेना के जायल तहसील अध्यक्ष व जल मित्र सुरेंद्रसिंह भाटी ने बताया गांव में कई जगहों पर नलों पर टूंटियां नहीं लगाने से पानी व्यर्थ बह रहा है। भाटी ने बताया कि नलोें पर टूंटियां लगाने, जल संरक्षण व उपयोगिता पर गांव में जन जागरण अभियान चलाया जाएगा।