नागौर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Nagour News
  • 1600 शिक्षक तबादलों की दौड़ में, 750 गृह जिले में जाना चाहते हैं, यह तय नहीं होंगे कब
--Advertisement--

1600 शिक्षक तबादलों की दौड़ में, 750 गृह जिले में जाना चाहते हैं, यह तय नहीं होंगे कब

प्रदेश सहित नागौर जिले के हजारों शिक्षकों को गृह जिले में तबादले के इंतजार में है। जिलेभर की स्कूलों में कार्यरत...

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 06:00 AM IST
प्रदेश सहित नागौर जिले के हजारों शिक्षकों को गृह जिले में तबादले के इंतजार में है। जिलेभर की स्कूलों में कार्यरत 1600 शिक्षक से अधिक ऐसे है जो तबादला चाहते है। उनमें 750 शिक्षक नागौर जिला छोड़ अपने गृह जिले की घर के नजदीक सरकारी स्कूलों में ट्रांसफर करवाना चाह रहे है।

वहीं 850 शिक्षक जिले के अंदर अपने गृह के नजदीक स्कूलों में जाना चाहते है। इसे लेकर जयपुर में एक माह से शिक्षा अधिकारियों को बुलाकर सूची बनवाई जा रही है और 20 मई तक पहली सूची जारी होने संभावना है। इस बीच जयपुर से एक सप्ताह से अधिक समय बाद डीईओ-प्रारंभिक रजिया सुल्ताना बिना तबादला सूची लौट आई हैं। शिक्षा राज्य मंत्री ने प्रारंभिक शिक्षा के सभी डीईओ को जयपुर बुलाया था। सूची तैयार कराने आए डीईओ और मातहतों के मोबाइल फोन उपयोग पर प्रतिबंध है। हालांकि अब वे लौट रहे हैं। अब माध्यमिक शिक्षा उपनिदेशक सीताराम गर्ग को सूचनाओं के साथ बुलाया गया है। पहले ग्रेड थर्ड और ग्रेड सेकंड शिक्षकों के तबादले होंगे। फिर अन्य पदों के तबादले किए जाएंगे।

अब मंत्रियों की अभिशंसा पर हो रहा है संशोधन

बताया जा रहा है कि कभी मंत्री तो कभी मुख्यमंत्री की अभिशंसा से आने वालों नामों पर सूची में संशोधन जारी है। इस बार सरकार ने अंतर जिला तबादलों की छूट दी है। ऐसे में बरसों से गृह जिले में आने का इंतजार कर रहे शिक्षकों का जनप्रतिनिधियों पर भारी दबाव है। शिक्षकों का मानना है कि वे अभी गृह जिले में लौटे तो मौका नहीं मिलेगा। 1200 से ज्यादा डिजायर अजमेर मंडल में शिक्षकों की ओर से आ चुकी है।

X
Click to listen..