• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagour
  • जिन अधिकारियों के पास दो दिन बाद पेंशन सत्यापन के मामले लंबित, उन्हें मिलेगी 17 सीसीए की चार्जशीट
--Advertisement--

जिन अधिकारियों के पास दो दिन बाद पेंशन सत्यापन के मामले लंबित, उन्हें मिलेगी 17 सीसीए की चार्जशीट

Nagour News - सतर्कता समिति की बैठक में विधायक हनुमान बेनीवाल ने कहा कि खरनाल- बरणगांव सड़क को आगामी तेजाजी का मेला देखते हुए...

Dainik Bhaskar

Aug 10, 2018, 06:06 AM IST
जिन अधिकारियों के पास दो दिन बाद पेंशन सत्यापन के मामले लंबित, उन्हें मिलेगी 17 सीसीए की चार्जशीट
सतर्कता समिति की बैठक में विधायक हनुमान बेनीवाल ने कहा कि खरनाल- बरणगांव सड़क को आगामी तेजाजी का मेला देखते हुए जल्दी से बनाई जाए। जिस पर कलेक्टर ने तहसीलदार व सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देशित कर मौका नक्शा सुपुर्द करके सड़क बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर कुमारपाल गौतम ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक माह के दूसरे गुरुवार को होने वाली जनसुनवाई में प्राप्त प्रकरणों को संबंधित विभाग के अधिकारी को प्रेषित किया जाता है। अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि जनसुनवाई से प्राप्त प्रकरणों का निस्तारण शीघ्रता से कर शिकायतकर्ता को राहत पहुंचाई जाए। इसमें किसी भी स्तर पर देरी अथवा कोताही नहीं होनी चाहिए। जनसुनवाई में आवेदन करने वाले को इस बात का एहसास होना चाहिए कि जनसुनवाई में दिए गए आवेदन पर सरकार द्वारा तत्काल कार्यवाही कर राहत पहुंचाई जाती है।

गौतम गुरुवार को कलेक्ट्रेट परिसर स्थित अटल सेवा केंद्र में जिला जन अभाव अभियोग सतर्कता समिति की मासिक बैठक तथा जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों के बाद उपस्थित अधिकारियों तथा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के समस्त अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि 2 दिन बाद जिन अधिकारियों के पास पेंशन सत्यापन के प्रकरण लंबित रहेंगे उन्हें राजकीय सेवा नियमों के तहत 17 सीसीए की चार्जशीट दी जाएगी।

अतिक्रमण हटाने की मांग, 20 प्रकरणाें का निस्तारण

भास्कर संवाददाता | नागौर

सतर्कता समिति की बैठक में विधायक हनुमान बेनीवाल ने कहा कि खरनाल- बरणगांव सड़क को आगामी तेजाजी का मेला देखते हुए जल्दी से बनाई जाए। जिस पर कलेक्टर ने तहसीलदार व सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देशित कर मौका नक्शा सुपुर्द करके सड़क बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर कुमारपाल गौतम ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक माह के दूसरे गुरुवार को होने वाली जनसुनवाई में प्राप्त प्रकरणों को संबंधित विभाग के अधिकारी को प्रेषित किया जाता है। अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि जनसुनवाई से प्राप्त प्रकरणों का निस्तारण शीघ्रता से कर शिकायतकर्ता को राहत पहुंचाई जाए। इसमें किसी भी स्तर पर देरी अथवा कोताही नहीं होनी चाहिए। जनसुनवाई में आवेदन करने वाले को इस बात का एहसास होना चाहिए कि जनसुनवाई में दिए गए आवेदन पर सरकार द्वारा तत्काल कार्यवाही कर राहत पहुंचाई जाती है।

गौतम गुरुवार को कलेक्ट्रेट परिसर स्थित अटल सेवा केंद्र में जिला जन अभाव अभियोग सतर्कता समिति की मासिक बैठक तथा जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों के बाद उपस्थित अधिकारियों तथा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के समस्त अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि 2 दिन बाद जिन अधिकारियों के पास पेंशन सत्यापन के प्रकरण लंबित रहेंगे उन्हें राजकीय सेवा नियमों के तहत 17 सीसीए की चार्जशीट दी जाएगी।

अतिक्रमण हटाने की मांग, 20 प्रकरणाें का निस्तारण

जन सुनवाई के दौरान जायल के सुगन सिंह ने बताया कि छाजोली के पास रास्ता बंद होने के कारण उन्हें तथा आमजन को परेशानी हो रही है। जिला कलेक्टर ने तहसीलदार जायल को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर निर्देश दिए की रास्ता खुलवाने का कार्य तुरंत किया जाए। इन्दावड़ा के मंगलाराम ने उपस्थित होकर कहा की इन्दावड़ा में ब्लाॅक का उपयोग सरपंच द्वारा निजी सड़क निर्माण में लिया है जो कि गलत है जिला कलक्टर ने पूरे प्रकरण की जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जन सुनवाई के दौरान नरेगा में भुगतान, अतिक्रमण हटाने, सीमाज्ञान करवाने तथा प्रधानमंत्री आवास योजना में शामिल कर, लाभ उपलब्ध करवाने के आवेदन संबंधित अधिकारियों को भेजे गए हैं। इन सभी पर तत्काल कार्रवाई कर आमजन को लाभांवित किया जाए। बैठक में खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल द्वारा खरनाल के पास सड़क बनाने की बात कही। जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग तथा भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी तहसीलदार नागौर अवधेश मीणा को निर्देश दिए कि खरनाल में प्रस्तावित सड़क सीमाज्ञान का कार्य तत्काल कर सड़क निर्माण प्रारंभ की जाए। निंबी जोधा ग्राम पंचायत के लोगों ने उपस्थित होकर कलेक्टर को आवेदन कर बताया कि निंबीजोधा के राष्ट्रीय राजमार्ग 65 पर निर्माणाधीन नाला पिछले लंबे समय से बंद होने के कारण आमजन को काफी परेशानी हो रही है। भंवरी देवी ने उपस्थित होकर एक आवेदन देकर बताया कि उसका पति विदेश में काम करने के लिए गया था, मगर अब तक वापस नहीं लौटा है उसे पुनः स्वदेश आने में परेशानी हो रही है। अटल सेवा केंद्र में आयोजित जिला जन अभाव अभियोग एवं सतर्कता समिति की मासिक बैठक में कुल 20 प्रकरणों पर विचार-विमर्श किया गया। नागौर के सुगन सिंह सर्किल के पास आम रास्ते पर बनी दुकानों को हटाने का आवेदन मूलाराम व रामचंद्र द्वारा किया गया था। पत्रावली विशेष पत्रवाहक के साथ अजमेर के सेटलमेंट ऑफिस भेजकर निस्तारित करवाने के निर्देश दिए। समिति में पंचायत समिति जायल के सरपंच बस्तीराम ने अतिक्रमण होने की शिकायत की। खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल तथा सरपंच बस्तीराम ने बताया की पंचायत समिति के पास अतिक्रमण हटाने के संसाधन नहीं है। विकास अधिकारी अतिक्रमण हटाने के लिए संसाधन व पुलिस जाप्ता उपलब्ध करवाएं, तो अतिक्रमण शीघ्रता से हट जाएगा। समिति में लाडनूं तहसील के सीताराम ने बताया कि सिवायचक भूमि में अतिक्रमण हो रखा है इससे आमजन को रास्ता नहीं मिल रहा है। पूरा प्रकरण तहसीलदार लाडनूं के न्यायालय में विचाराधीन है। जिला कलक्टर ने उपखंड अधिकारी को निर्देश दिए कि न्यायालय में लंबित प्रकरण का निस्तारण शीघ्र करवाएं तथा आम रास्ता चालू करवाया जाए।

X
जिन अधिकारियों के पास दो दिन बाद पेंशन सत्यापन के मामले लंबित, उन्हें मिलेगी 17 सीसीए की चार्जशीट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..