20 मिनट के अंधड़ से जिले में 30 पोल गिरे, मंडियों में अनाज भीगा

Nagour News - माैसम विभाग की चेतावनी के बाद लगातार जिले में आंधी और बारिश का दौर जारी है। यह सिलसिला शुक्रवार को भी जारी रहा।...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:30 AM IST
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
माैसम विभाग की चेतावनी के बाद लगातार जिले में आंधी और बारिश का दौर जारी है। यह सिलसिला शुक्रवार को भी जारी रहा। दोपहर बाद अचानक फिर मौसम पलटा। आसमां में बादल छा गए और तेज अंधड़ के साथ कई जगह बारिश हुई। दोपहर 3 से शाम 4 बजते-बजते खींवसर, मूंडवा, कुचेरा, पादू कलां क्षेत्र में जोरदार बारिश हुई। कुचेरा और मूंडवा में सड़कों पर पानी एकत्रित होने से कई वाहन बंद हो गए।

कुचामन-डीडवाना, मकराना, डेगाना, जायल, लाडनूं, कोलिया, मौलासर क्षेत्र में शाम पौने 5 बजे भारी अंधड़ से कई बिजली के पोल टूट गए। इसके बाद तेज बारिश भी हुई। शाम साढ़े 5 बजे तक तेज अंधड़ से जनजीवन प्रभावित हुआ। ललासरी जीएसएस पर बिजली गिरने से ओसी जल गई और गणेशपुरा में एक बकरी मर गई। इसी तरह नावां, शेरानी आबाद, मंगलाना, गच्छीपुरा, बडूं, हरनावां में भी अंधड़ से जनजीवन प्रभावित हुआ। नावां में 4 घंटे बिजली गुल रही। परबतसर में 12 पोल टूट गए।

डीडवाना। शाम 4 बजे बाद अचानक बादल छा गए। करीब 30 मिनट तक बारिश हुई। गर्मी से कुछ राहत मिली।

डेगाना | शुक्रवार शाम चार बजे धूल भरी तेज आंधी चली। इसके बाद काली घटाएं आसमा में छा गई, बिजलियां चमकने के साथ तेज बारिश हुई। नालियों का पानी उफान पर रहा। शादियों के सीजन में तेज अंधड़ व बारिश से लोगों को दिक्कतें हुई। डेगाना क्षेत्र में 11 खंभे गिर गए। सहायक अभियंता ओपी बाना ने बताया कि कीतलसर में 3, मांझी में 2, गूंदीसर में 4 व बंवरला में 2 खंभे गिरे।

मकराना में जब इस तरह जब आंधी उठी तो चारों ओर अंधेरा छा गया

मकराना. मकराना में धूल भरी आंधी का दृश्य।

मकराना | मकराना में इस साल का सबसे तेज अंधड़ शुक्रवार को सांय 4:30 बजे आया, जिसने जनजीवन को पूरी तरह अस्त-व्यस्त कर दिया। पश्चिमी छोर से आए अंधड़ को देखकर लोगों ने अपने घरों के खिड़की दरवाजे बंद कर लिए। वहीं तेज व डरावने माहौल में घरों में दुबके लोग संभावित नुकसान को टालने की प्रार्थनाएं करते रहे। अंधड़ से कर्बला चौक में एक पेड़ टूटकर बिजली के तारों पर गिरा। डिस्कॉम ने अंधड़ के साथ ही बिजली काट दी। करीब 15 मिनट तक अंधड़ चलने के बाद हल्की बारिश हुई। शहर के माताभर, गुलजारपुरा, इकबालपुरा, पुलिया फाटक, बाइपास रोड, अब्दुल सराय क्षेत्रों में आंधी से टिन-टप्पर उड़ गए।

कुचामन मंडी में बारिश से भीग गया लाखों का अनाज

कुचामन सिटी| शहर में शुक्रवार शाम को तेज आंधी के बाद आई बारिश से कृषि मंडी परिसर में रखा लाखों रुपए का अनाज भीग गया। निमोद निवासी रामकिशोर अग्रवाल ने बताया कि उन्होंने शुक्रवार दोपहर 2 बजे ऑक्शन पर 20 लाख की इसबगोल खरीदी थी परन्तु इस माल को व्यापारियों द्वारा शेड के नीचे नहीं रखवाया गया, जिससे शाम को आई तेज बारिश से पूरा माल बारिश में भीग कर खराब हो गया। निमोद निवासी व्यापारी द्वारा ऑक्शन पर करीब 20 लाख की ईसबगोल खरीदी गई थी लेकिन शाम को बारिश आने से वह पूरी खराब हो गई। सचिव शिशुपाल सिंह ने बताया कि पिछले 5 दिनों से मौसम खराब होने की वजह से शेड के नीचे कुछ व्यापारियों ने अपनी जिंसें रख रखी थी जो मौसम खराब होने से वह वहां से उठवा नही पाये। शेड में व्यापारियों का माल रखा होने से वहां जगह नहीं थी इस वजह से निमोद निवासी व्यापारी का माल भीग गया। जल्दी ही शेड को खाली करवा देंगे, शेड किसानों और ऑक्शन के माल की खरीद-फरोख्त के लिए ही है।

कर्बला चौक में टूटकर गिरा पेड़।

नावां के आधा दर्जन गांवों में ट्रांसफार्मर भी गिरे

नावां सिटी | शहर में शुक्रवार को शाम तेज आंधी के साथ दर्जनों विद्युत पोल सहित ट्रांसफर गिर गए। नावां कनिष्ट अभियन्ता संजेश मंडीवाला ने बताया कि खाखड़की, जाब्दीनगर, मिठड़ी, नावां तथा नावां खारड़े इलाकों में विद्युत ट्रांसफार्मर गिर गए। आंधी की वजह से कई जगह पोल गिरने के साथ तार भी टूट गए, जिससे उन्हें रात को दुरूस्त नहीं किया जा सका। इस वजह से क्षेत्र के आधा दर्जन गांवों में देर रात 11 बजे तक बिजली आपूर्ति सुचारू नहीं की जा सकी।

इधर डीडवाना में तेज आंधी से 9 फ्लेमिंगों की मौत

डीडवाना | डीडवाना के नागौर रोड स्थित गंदे पानी की झील में लम्बे समय से विचरण करने वाले आस्ट्रेलियन पक्षी फ्लेमिंगो की जान को अब डीडवाना में खतरा उत्पन्न होने लगा है। पिछले दो दिनों से तेज आंधी व तूफान की वजह से झील में विचरण करने वाले फ्लेमिंगो विद्युत तारों से टकरा गए। 9 फ्लेमिंगों की मौत हो गई।

खेतों की बजाय शहरों में अधिक गिरे विद्युत पोल

नागौर | जिले भर में पिछले तीन-चार दिन से आ रहे तूफानी आंधी और बारिश के चलते बिजली व्यवस्था पूरी तरह गड़बड़ाई हुई है। मगर प्रशासन इसको लेकर जिम्मेदाराना जवाब नहीं दे पा रहा है। जिसका नुकसान आमजन को भुगतना पड़ रहा है।

जानकारी अनुसार पूरे जिले के 7 एक्सईएन क्षेत्र में करीब 300 खंभे एक साल में गिर चुके हैं जबकि शुक्रवार को 30 से अधिक पोल गिरे। रोचक तो यह है कि करीबन खंभे मजबूत जगहों पर गिर रहे है। जबकि खेतों जैसे मुलायम जगहों पर मजबूती से खड़े है। इसके पीछे कारण डिस्कॉम कार्मिकों की जल्दबाजी और लापरवाही है। जिसका खामियाजा जिले भर के लोगों को भुगतना पड़ रहा है। इसको लेकर प्रशासन द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। एक खंभा टूटता है तो डिस्कॉम को 2600 रुपए का नुकसान उठाना पड़ता है।

Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
X
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
Nagaur News - rajasthan news 30 pole fall in the district 20 minute darkness prevents grains in the mandis
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना