• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagour
  • Nagaur News rajasthan news barefoot college receives 39take for good award39 for teaching deprived children in night night

शिक्षा से वंचित बच्चों को रात्रिशाला में पढ़ाने पर बेयरफुट कॉलेज को मिला ‘टेक फॉर गुड अवॉर्ड’

Nagour News - सुरेन्द्र वैष्णव| हरमाड़ा-तिलोनिया बैंगलुुरु में राष्ट्रीय संस्थान नासकॉम फाउंडेशन की ओर से टेक फॉर गुड...

Dec 10, 2019, 10:05 AM IST
Nagaur News - rajasthan news barefoot college receives 39take for good award39 for teaching deprived children in night night
सुरेन्द्र वैष्णव| हरमाड़ा-तिलोनिया

बैंगलुुरु में राष्ट्रीय संस्थान नासकॉम फाउंडेशन की ओर से टेक फॉर गुड सम्मिट 2019 में तिलोनिया बेयरफुट कॉलेज को सोलर डिजिटल नाइट स्कूल प्रोजेक्ट के तहत शिक्षा के क्षेत्र में विशेष कार्य करने पर पुरस्कार दिया गया।

कॉलेज की ओर से यह पुरस्कार डिजिटल नाइट स्कूल की डिजिटल लिटरेसी पाठ्यक्रम डेवलपर मदयास, प्रोग्राम मैनेजर कीर्ति व हसीना ने ग्रहण किया। मदयास ने बताया कि नासकॉम फाउंडेशन संगठन तकनीकी क्षेत्र में कार्य करता है। यह फाउंडेशन अपने सामाजिक कार्यों के तहत पर्यावरण, आपदा प्रबंधन, स्वास्थ्य, शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने वालों को सम्मानित करता हैं। बैंगलुरु में टेक फाॅर गुड समिट 2019 में आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला में प्रशस्ति पत्र देकर सम्मान किया था। देशभर से लगभग 400 आवेदन प्राप्त हुए थे। जिनमें से बेयरफुट का डिजिटल स्कूल का प्रोग्राम प्रथम स्थान पर रहा।

शिक्षा के क्षेत्र में श्रेष्ठ कार्य करने पर बेयरफुट कॉलेज तिलोनिया को मिला टेक फॉर गुड अवॉर्ड तथा रात्रिशाला में टेबलेट से अध्ययन करते बच्चे।

क्या है डिजिटल नाइट स्कूल प्रोग्राम

बेयरफुट कॉलेज द्वारा सोलर डिजिटल नाइट स्कूल प्रोग्राम चलाया जा रहा है। भारत के 10 राज्यों में 47 रात्रि शालाओं का संचालन किया जा रहा है। इन रात्रिशाला में संचालन एप्पल, ओरेकल, माइक्रोसॉफ्ट वल्ड रीडर, पेपाल कंपनी के सहयोग से कर रहा है। यह स्कूल ऐसे बच्चों के लिए गांव में चलाए जा रहे हैं जो कि भौगोलिक, आर्थिक, सामाजिक, पारिवारिक कारणों से शिक्षा की मुख्यधारा से जुड़कर स्कूलों में नहीं जा पाते हैं। वे बच्चे इन रात्रिशालाओं में अध्ययन करते हैं। हर वर्ष बेयरफुट कॉलेज तिलोनिया 2 हजार से भी अधिक बच्चों को इन रात्रिशालाओं में बच्चों को टेबलेट सोलर प्रोजेक्टर के माध्यम से भाषा, गणित, जेंडर, पर्यावरण, नागरिकता, विज्ञान जैसे विषय आदि की शिक्षा देता है।

दस राज्यों में चल रहे 47 नाइट स्कूल

बेयरफुट काॅलेज द्वारा भारत के दस राज्यों में 47 स्कूलें संचालित की जा रही है। राजस्थान में अजमेर, नागौर, बाडमेर, जयपुर में चल रहे है। अजमेर जिले के कोटड़ी क्षेत्र में तीन, काकलवाड़ा क्षेत्र में दो, जवाजा में चार, टिकावड़ा में एक, जयपुर जिले के शोलावता में दो स्कूलें संचालित है।

गांव के बच्चे चला रहे हैं टेबलेट : बेयरफुट कॉलेज द्वारा संचालित इन रात्रिशालाओं के बच्चे जो दिन में किसी कारण स्कूल नहीं जा पाते हैं। या अपने घर के कामकाज में किसी कारण व्यस्त रहते हैं। या फिर दिन में भेड़ बकरी चराते हैं। ऐसे बच्चे इन रात्रिशालाओं में अध्ययन करते हैं। गांव के ऐसे बच्चे भी आज टेबलेट और प्रोजेक्टर के माध्यम से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

Nagaur News - rajasthan news barefoot college receives 39take for good award39 for teaching deprived children in night night
X
Nagaur News - rajasthan news barefoot college receives 39take for good award39 for teaching deprived children in night night
Nagaur News - rajasthan news barefoot college receives 39take for good award39 for teaching deprived children in night night
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना