पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Nagaur News Rajasthan News Daughters Of Mps Taking Home Planks Bid Guinness School Should Be Done Through Hindi Medium

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सांसद के घर तख्तियां ले पहुंची बेटियां, बोली-गिनाणी स्कूल में हिंदी माध्यम से ही हो पढ़ाई

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय गिनाणी की छात्राएं परिजनों के साथ रविवार को तख्तियां लेकर स्टेडियम के सामने स्थित सांसद हनुमान बेनीवाल के घर पहुंची।

हाथों में तख्तियां लेकर विरोध कर रही बेटियों सांसद बेनीवाल से कहा- साहब हम पढ़ना चाहते है, आप हमारे स्कूल में हिंदी की पढ़ाई शुरू करवाओ। मौके पर छात्राओं के साथ आए परिजनों ने कहा- कि हमारी बेटियों सालों से गिनाणी स्कूल में हिंदी माध्यम की पढ़ाई करती आई है। लेकिन सरकार ने स्कूल को अंग्रेजी माध्यम में परिवर्तित कर यहां अध्ययनरत 550 बेटियों की पढ़ाई संकट में डाल दी है। उन्होंने सांसद से मांग की कि वो अपनी बेटियों को दूर की स्कूलों में पढ़ने के लिए अकेले नहीं भेज सकते। ऐसे में गिनाणी स्कूल में ही दुबारा हिंदी माध्यम की पढ़ाई शुरू करवाई जाए। इसे लेकर सांसद बेनीवाल ने छात्राओं व परिजनों को आश्वासन देते हुए कहा- कि जल्द ही गिनाणी स्कूल में हिंदी माध्यम की पढ़ाई शुरू होगी, इसका समाधान जल्द ही निकाला जाएगा। गौरतलब है कि शनिवार को स्कूल प्रशासन द्वारा बेटियों को बाहर निकाले जाने के बाद स्कूल के मुख्य गेट के आगे तख्तियों के साथ प्रदर्शन करते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया था।

अंग्रेजी माध्यम शहर के दूसरे स्कूल में शिफ्ट हो : हबीबुर्रहमान

पूर्व विधायक हबीबुर्रहमान ने सीएम अशोक गहलोत व शिक्षा मंत्री गोविंदसिंह डोटासरा को अलग-अलग पत्र लिखकर शहर के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय गिनाणी में हिंदी माध्यम की पढ़ाई जारी रखने की मांग की है। उन्होंने पत्र में अवगत करवाया कि राज्य सरकार द्वारा नागौर शहर की गिनाणी स्कूल को हिन्दी माध्यम से अंग्रेजी माध्यम में परिवर्तित करने के आदेश जारी किए हैं। सरकार के इन आदेशों के बाद इस स्कूल में हिन्दी माध्यम से अध्ययन कर रही सभी वर्गों की करीब साढे 500 बालिकाओं के समक्ष पढ़ाई के लिए संकट उत्पन्न हो गया है। उन्हें दूर दराज की स्कूलों में प्रवेश लेना भी संभव नहीं है। इस स्कूल की छात्राएं व उनके अभिभावक पिछले कुछ दिनों से हिन्दी माध्यम का ही रखने की मांग कर रहे हैं। ऐसे में सरकार इन बिन्दुओं को ध्यान में रखते हुए गिनाणी स्कूल को हिन्दी माध्यम का रखा जाए और अंग्रेजी माध्यम स्कूल को शहर के भीतर ही किसी सरकारी स्कूल में शिफ्ट करवाने की कार्यवाही करें।

नागौर. सांसद बेनीवाल के घर के बाहर तख्तियां लेकर बैठी छात्राएं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें