• Hindi News
  • National
  • Merta News Rajasthan News Examination Required To Sit On The Floor If There Is Not Enough Furniture In Pg College

पीजी कॉलेज में पर्याप्त फर्नीचर न होने पर परीक्षार्थियों को फर्श पर बैठकर देनी पड़ रही परीक्षा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता| मेड़ता सिटी (आंचलिक)

राजकीय महाविद्यालय मेड़ता सिटी महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित की जा रही कला वर्ग प्रथम वर्ष स्वयंपाठी परीक्षार्थियों को परीक्षा के दौरान बैठने के लिए फर्नीचर नहीं मिलने के कारण भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं महाविद्यालय में कई छात्रों को दरी तक उपलब्ध नहीं करवाई गई। ऐसे में परीक्षार्थियों को मजबूरन फर्श पर बैठकर परीक्षा देनी पड़ रही है। गुरुवार को इतिहास विषय का द्वितीय प्रश्न-पत्र परीक्षा के दौरान अनेकों छात्रों ने फर्श पर बैठकर परीक्षा दी। इस परीक्षा में 1058 परीक्षार्थी शामिल हुए। लेकिन महाविद्यालय में 900 परीक्षार्थियों के लिए ही फर्नीचर उपलब्ध है। जिसके चलते 150 परीक्षार्थियों ने फर्श बैठकर ही परीक्षा दी। कई छात्रों के पास परीक्षा देने के लिए तख्ती तक नहीं थी। महाविद्यालय छात्रों का कहना था कि बीते वर्षों में परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों के बैठने के लिए महाविद्यालय में पर्याप्त फर्नीचर उपलब्ध नहीं होने की दशा में महाविद्यालय में परिसर में टेंट व कुर्सियां लगवाकर उचित बैठने की व्यवस्था करवाई जाती थी। इस बार फर्नीचर का अभाव बना हुआ है। फर्श पर बैठकर 3 घंटे तक पेपर करना बड़ा मुश्किल हो रहा है। निर्धारित अवधि के दौरान पेपर को ठीक प्रकार से पूरा नहीं कर पाते हैं। इस संबंध में छात्र नेता सुरेन्द्र बापेडिया ने बताया कि ऐसी दशा में परीक्षा नियंत्रक सुबोध दत्ता से मिलकर इस समस्या के बारे में अवगत करवाया जाकर महाविद्यालय प्रशासन से परीक्षा के दौरान छात्रों के बैठने की व्यवस्था करवाएं जाने की पुरजोर मांग की जाएगी। जबकि विश्वविद्यालय की ओर से छात्रों से पूरी फीस ली जाती है। विश्वविद्यालय की लापरवाही का खामियाजा छात्रों को भुगतना पड़ रहा है। अगर समय रहते व्यवस्था सही नहीं की गई तो विश्वविद्यालय के खिलाफ छात्र आंदोलन करेंगे।

फर्श बैठकर परीक्षा देते विद्यार्थी
राजकीय महाविद्यालय में प्राचार्य सहित तीन व्यख्याता अवकाश पर, दो व्याख्याताओं का हो गया तबादला
मेड़ता राजकीय महाविद्यालय में नियुक्त प्राचार्य सहित तीन व्याख्याता अवकाश पर चल रहे हैं। इनमें प्राचार्य स्नेह सक्सेना, व्याख्याता डॉ. माला माथुर, राजेंद्र प्रसाद कस्वा, बलदेवराम शामिल हैं। जबकि व्याख्याता छवि मित्तल, चैनाराम बेनीवाल का अन्यत्र तबादला हो चुका है। ऐसे में परीक्षा सम्पन्न करवाने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

हां सही है, कुछ परीक्षार्थियों के लिए फर्नीचर की कमी है
हां सही है, महाविद्यालय प्रशासन की ओर से महाविद्यालय में जितना फर्नीचर उपलब्ध था उतना लगा दिया। इसमें कुछ परीक्षार्थियों के लिए फर्नीचर उपलब्ध नहीं हो पाया। बलवीर सैन, कार्यवाहक प्राचार्य

...इधर, 12वीं बोर्ड परीक्षा, पहले दिन हुआ अंग्रेजी का पेपर, प्रश्न-पत्र खोलने के दौरान कराई गई वीडियोग्राफी
जारोड़ा| राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं कक्षा की परीक्षाएं गुरुवार से शुरू हुई। कस्बे में स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सहित आस-पास के गांवों में स्थित स्कूलों में सीसीटीवी कैमरों की नजर में 12वीं कक्षा की अंग्रेजी विषय की परीक्षा संपन्न हुई। कस्बे के राउमावि में छापरी, ढावा सहित करीब चार स्कूलों का परीक्षा केन्द्र बनाया गया था। जिसमें 160 परीक्षार्थी परीक्षा में बैठने थे, लेकिन परीक्षा के पहले दिन तीन परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। वही जारोड़ा के राउमावि में पहेली बार परीक्षा सीसीटीवी कैमरे की नजर में परीक्षाएं संपन्न हुई। पहले दिन सम्पन्न हुए अंग्रेजी के पेपर को किसी ने सरल तो किसी कठिन बताया। परीक्षार्थी हरीश शर्मा ने बताया कि पेपर सरल था तय समय से पहले ही पेपर हल कर लिया गया।

बूड़सू के दो परीक्षा केन्द्रों पर 498 परीक्षार्थियों ने दी परीक्षा

बूड़सू| माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा आयोजित 12वीं बोर्ड परीक्षा गुरुवार को दो परीक्षा केन्द्रों पर आरंभ हुई। परीक्षा के पहले दिन दोनों परीक्षा केन्द्रों पर 498 परीक्षार्थियों ने अनिवार्य अंग्रेजी विषय की परीक्षा दी।

परीक्षा केन्द्र राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय में केंद्राधीक्षक सुखाराम के अनुसार कुल पंजीकृत 306 परीक्षार्थियों में से 304 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। वही दूसरे परीक्षा केन्द्र राजकीय बालिका माध्यमिक विद्यालय में केन्द्राधीक्षक मंगाराम बिजारणियां के अनुसार कुल पंजीकृत 197 परीक्षार्थियों में से 3 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। गुरुवार को परीक्षा शांतिपूर्वक हुई।

नावां सिटी| शहर में दो परीक्षा केन्द्रों पर गुरुवार से बारहवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं शुरू हुई। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय तथा बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के परीक्षा केन्द्र पर गुरुवार को विद्यार्थियों ने पहला पेपर दिया। परीक्षा के दौरान कानून व्यवस्था एवं नकल रोकने के लिए पुलिस के जवान तैनात रहे। परीक्षा के पश्चात केन्द्र के बाहर छात्र-छात्राएं अपने शिक्षकों से प्रश्न पत्र पर चर्चा करते हुए नजर आए।

खबरें और भी हैं...