खेतों में बिजली के झूलते तारों से हर समय रहता है हादसों का डर

Nagour News - डिस्कॉम लंबे समय से विद्युत तंत्र में सुधार को लेकर अनेक योजनाएं चला रहा है। मगर खेतों में झूलते तारों की ओर ध्यान...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 05:31 AM IST
PHEE News - rajasthan news fears of electric scratches in the fields all the time are afraid of accidents
डिस्कॉम लंबे समय से विद्युत तंत्र में सुधार को लेकर अनेक योजनाएं चला रहा है। मगर खेतों में झूलते तारों की ओर ध्यान नहीं दे रहा। ऐसे में हादसों की आशंका बरकरार है। खेतों में कई जगह झूलते तार ग्रामीणों के लिए खतरा हैं। ग्रामीण समय समय पर झूलते तारों को कसने की मांग करते रहते हैं मगर फिर भी डिस्कॉम अभियंता रुचि नहीं ले रहे। ऐसे में हादसों की चिंता बनी हुई है। नियमानुसार डिस्कॉम को 18 फीट की ऊंचाई पर लाइन खींचनी होती है, लेकिन कही जगह तो हालात यह कि 11 केवी विद्युत लाइन के तार 7 से 8 फीट की उंचाई पर झूल रहे है। ऐसे में कई जगह तो ग्रामीणों ने अपने स्तर पर लकड़ी व पीवीसी पाइप के सहारे जुगाड़ कर झूलती केबल व तारों को ऊंचा कर रखा है। इन झूलते तारों के नीचे किसान ट्रैक्टर आदि से कार्य करते हैं जिसके चलते हर समय हादसे का अंदेशा बना रहता है। कई बार झूलते तारों के आपस में टकराने के कारण चिंगारी से आग भी लग जाती है। जिस कारण कई बार किसानों की फसल जल जाती है। जिससे उसे आर्थिक नुकसान उठाना पड़ता है। कस्बे में चंदाराम के खेत मे पिछले दो साल से विद्युत केबल चार फीट ऊंचाई पर झूल रही है। जिसके चलते कृषि कार्य के दौरान लकड़ी पोल के सहारे उसको ऊंचा करके ट्रैक्टर निकला जाता है।

X
PHEE News - rajasthan news fears of electric scratches in the fields all the time are afraid of accidents
COMMENT