निर्जला एकादशी: मंदिरों में दर्शन को उमड़े श्रद्धालु, शरबत पिला कमाया पुण्य

Nagour News - नागाैर. निर्जला एकादशी पर लोगों को शरबत पिलाते हुए समाजसेवी। भास्कर संवाददाता| नागौर शहर में गुरुवार को...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 09:50 AM IST
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
नागाैर. निर्जला एकादशी पर लोगों को शरबत पिलाते हुए समाजसेवी।

भास्कर संवाददाता| नागौर

शहर में गुरुवार को निर्जला एकादशी मनाई गई। इस मौके पर नगर सेठ बंशीवाला मंदिर में प्रतिमा को श्रृंगारित किया गया। जिसके बाद आरती की गई। बंशीवाले के दर्शन के लिए श्रद्धालु भी उमड़े। ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष गुरूवार को एकादशी है। जिसे निर्जला एकादशी भी कहते है। इस एकादशी का काफी महत्व होता है। जो साल में सिर्फ एक ही बार आती है। इस दिन शहरवासी निर्जला एकादशी का व्रत रख अपनी मनोकामना पुरी करते है। साथ ही लोगों द्वारा भाव अनुसार दान पुण्य भी करते है। मंदिरों में लोग दर्शन करने के लिए जाते है। भगवान विष्णु की इस दिन पूजा करने से व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो सकती है। शहरभर में भीषण गर्मी के चलते लोगों ने ठंडाई, शरबत, ज्यूस, गन्ने का रस, नींबू शिकंजी, पानी की व्यवस्था की गई। जिसमें इस गर्मी में लोगों को राहत महसूस हुई। इस दौरान शहर में हर चौराहे, गली मोहल्ले, दुकानों और टेंट लगाकर ठंडे पेयजलों की व्यवस्था नजर आई। काफी जगह दुकानदारों, संगठनों, मंडलियों ने मिलकर लोगों को ठंडा पेयजल पिला कर दान पुण्य किया।

पुराना बस स्टैंड पर दुकानदारों ने गन्ने का रस लोगों को पिलाया। जिसमें जगदीश प्रसाद टाक, राजेंद्र पंवार ने मिलकर गन्ने का रस की व्यवस्था कर निर्जला एकादशी में गर्मी में राहत प्रदान की। साथ ही सुगन सिंह सर्किल में सभी दुकानदारों व उनके मित्र मंडलियों ने मिलकर नींबू शिकंजी बनाकर लोगों को पिलाया। सदर बाजार के दुकानदारों जगदीश प्रसाद डागा, सुरजकरण, सुगनचंद मूलचंद कोठारी ने मिल शरबत बाजार में आए लाेगों को शरबत पिलाया। जेएलएन हाॅस्पिटल के पास लाल सिंह, श्रवण सिंह, गजेंद्र सिंह द्वारा शरबत की सेवा की गई। साथ ही नेमीचंद, गणेश प्रजापत, पहलाद प्रजापत, पीरबगस अली ने भी दान पुण्य किया।

इसी के साथ निर्जला एकादशी के व्रत पर लोगों ने सहगार के खाद्य सामग्री की भी भरमार रही। एकादशी के उपवास में दुकानों में सहगार के नमकीन, चिप्स, मिर्चीबड़े, कोप्ते भी लोगों ने खरीदे। इसके अलावा लोगों ने गर्मी को देखते हुए तरबूज, खरबुजा, आम, आईसक्रीम, रबड़ी भी खरीद कर उपवास कर गर्मी से राहत पाई।

इसी प्रकार विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय के सामने गुरूवार को निर्जला एकादशी का पावन पर्व गो चिकित्सालय की तरफ से यात्रियों एवं गौभक्तों को ठण्डा मीठा शर्बत पिलाकर मनाया। गो चिकित्सालय के सचिव पिन्टुलाल कच्छावा ने बताया कि संत गोविंदराम महाराज के सानिध्य में कामधेनु सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रवण सैन, श्रवणराम बिश्नोई, सीताराम पारीक, दीपचंद सांखला, मुकेश पारीक, बाबूलाल बिश्नोई, दीपेंद्र सिंह राठौड़, अशोक सोनी, भरत सिंह राठौड़, सोहनराम राड़, दिनेश ईनाणियां, मनीष वैष्णव सहित स्टाफ ने यात्रियों व गौभक्तों को विशेष प्रकार का ठंडा मीठा शर्बत बनाकर वितरित किया गया। सचिव ने बताया कि ब्राह्मणों को कपड़े, छाता, दूध, फल, तुलसी पत्तियां आदि दान करना शुभ माना जाता है। गौभक्तों व यात्रियों का आवागमन रहा। अनेक गौभक्तों ने गोवंश हितार्थ गुड़, गौ खाद्य सामग्री, हरा चारा, लापसी, दलिया इत्यादि दान कर पुण्य किया।

इसी प्रकार महावीर इंटरनेशनल की प्रेरणा से संस्था अध्यक्ष नरेंद्र कुमार संखलेचा व सदस्य रामस्वरूप कच्छावा व उनके सहयोगियों द्वारा ताउसर पर केरी पानी, आमरस का स्टॉल नागरिकों को वितरित किया गया। साथ ही संस्था उपाध्यक्ष राजकुमार मच्छी द्वारा कांजी हाउस में तरबूज गोवंशों को खिलाया। इस दौरान संस्था मैनेजर सुभाष कोठारी, उपाध्यक्ष गौतमचंद कोठारी, सचिव राजेश रावल, सदस्य रिखबचंद नाहटा, प्रवीण बांठिया, प्रमिल नाहटा उपस्थित रहे।

इसी प्रकार राजस्थान पेंशनर समाज जिला शाखा द्वारा निर्जला एकादशी पर गुरूवार सुबह 10 से 1 बजे तक जिला कोषाधिकारी किशोर कुमार गावड़िया द्वारा आमजन के लिए मिल्क रोज पिलाया गया। इस दौरान आसकरण ललवानी, मोतीलाल चंदेल, लक्ष्मीनारायण गौड़, माणकचंद, सत्यनारायण पारीक, सुरेंद्र सिंह, पुरूषोत्तम जोशी, हुक्माराम पोटलिया, जयकिशन सोनी, रामनिवास रिणवा, छगनलाल विजयवर्गीय, बस्तीमल राखेचा, अमृतलाल टाक, कृपाराम गहलोत, अक्षय कुमार, शिशुपाल सिंह, अमृतलाल, गजेंद्र माथुर, भंवरलाल पारासर आदि उपस्थित रहे।

नागौर| निर्जला एकादशी के अवसर पर शहर के युवाओं की टीम ने गुरूवार को रेलवे यात्रियों को शर्बत पिलाया। साथ ही जल सेवा की और परिंडो में पानी भरा। प्रेमसिंह चारण ने बताया की गुरूवार को निर्जला एकादशी पर रेलवे स्टेशन पर जल सेवा के लिए युवाओं की टीम पहुंची। इस दौरान प्रेमसिंह चारण, प्रकाशसिंह पटेल, रवि पारीक, सब्बीर ख़िलजी, एडवोकेट शमा परवीन, कपिल भाटी, मोहम्मद जानबाज, हिमांशु शर्मा, भंवरलाल शर्मा, रामप्रकाश बाना, नरेंद्र ताड़ा, संजय छाबा, गोविंद सिंह कविया, हर्षुल पटेल, भावेश टाक, प्रमोद भार्गव, नेमीचंद गुडला, जितेंद्र, तिलायचा सिंह, प्रद्युमन सिंह आदि मौजूद थे। इस अवसर पर अनेक धार्मिक कार्यक्रम हुए।

नागौर. निर्जला एकादशी पर बंशीवाला मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे श्रद्धालु।

भास्कर संवाददाता| नागौर

शहर में गुरुवार को निर्जला एकादशी मनाई गई। इस मौके पर नगर सेठ बंशीवाला मंदिर में प्रतिमा को श्रृंगारित किया गया। जिसके बाद आरती की गई। बंशीवाले के दर्शन के लिए श्रद्धालु भी उमड़े। ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष गुरूवार को एकादशी है। जिसे निर्जला एकादशी भी कहते है। इस एकादशी का काफी महत्व होता है। जो साल में सिर्फ एक ही बार आती है। इस दिन शहरवासी निर्जला एकादशी का व्रत रख अपनी मनोकामना पुरी करते है। साथ ही लोगों द्वारा भाव अनुसार दान पुण्य भी करते है। मंदिरों में लोग दर्शन करने के लिए जाते है। भगवान विष्णु की इस दिन पूजा करने से व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो सकती है। शहरभर में भीषण गर्मी के चलते लोगों ने ठंडाई, शरबत, ज्यूस, गन्ने का रस, नींबू शिकंजी, पानी की व्यवस्था की गई। जिसमें इस गर्मी में लोगों को राहत महसूस हुई। इस दौरान शहर में हर चौराहे, गली मोहल्ले, दुकानों और टेंट लगाकर ठंडे पेयजलों की व्यवस्था नजर आई। काफी जगह दुकानदारों, संगठनों, मंडलियों ने मिलकर लोगों को ठंडा पेयजल पिला कर दान पुण्य किया।

पुराना बस स्टैंड पर दुकानदारों ने गन्ने का रस लोगों को पिलाया। जिसमें जगदीश प्रसाद टाक, राजेंद्र पंवार ने मिलकर गन्ने का रस की व्यवस्था कर निर्जला एकादशी में गर्मी में राहत प्रदान की। साथ ही सुगन सिंह सर्किल में सभी दुकानदारों व उनके मित्र मंडलियों ने मिलकर नींबू शिकंजी बनाकर लोगों को पिलाया। सदर बाजार के दुकानदारों जगदीश प्रसाद डागा, सुरजकरण, सुगनचंद मूलचंद कोठारी ने मिल शरबत बाजार में आए लाेगों को शरबत पिलाया। जेएलएन हाॅस्पिटल के पास लाल सिंह, श्रवण सिंह, गजेंद्र सिंह द्वारा शरबत की सेवा की गई। साथ ही नेमीचंद, गणेश प्रजापत, पहलाद प्रजापत, पीरबगस अली ने भी दान पुण्य किया।

इसी के साथ निर्जला एकादशी के व्रत पर लोगों ने सहगार के खाद्य सामग्री की भी भरमार रही। एकादशी के उपवास में दुकानों में सहगार के नमकीन, चिप्स, मिर्चीबड़े, कोप्ते भी लोगों ने खरीदे। इसके अलावा लोगों ने गर्मी को देखते हुए तरबूज, खरबुजा, आम, आईसक्रीम, रबड़ी भी खरीद कर उपवास कर गर्मी से राहत पाई।

इसी प्रकार विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय के सामने गुरूवार को निर्जला एकादशी का पावन पर्व गो चिकित्सालय की तरफ से यात्रियों एवं गौभक्तों को ठण्डा मीठा शर्बत पिलाकर मनाया। गो चिकित्सालय के सचिव पिन्टुलाल कच्छावा ने बताया कि संत गोविंदराम महाराज के सानिध्य में कामधेनु सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रवण सैन, श्रवणराम बिश्नोई, सीताराम पारीक, दीपचंद सांखला, मुकेश पारीक, बाबूलाल बिश्नोई, दीपेंद्र सिंह राठौड़, अशोक सोनी, भरत सिंह राठौड़, सोहनराम राड़, दिनेश ईनाणियां, मनीष वैष्णव सहित स्टाफ ने यात्रियों व गौभक्तों को विशेष प्रकार का ठंडा मीठा शर्बत बनाकर वितरित किया गया। सचिव ने बताया कि ब्राह्मणों को कपड़े, छाता, दूध, फल, तुलसी पत्तियां आदि दान करना शुभ माना जाता है। गौभक्तों व यात्रियों का आवागमन रहा। अनेक गौभक्तों ने गोवंश हितार्थ गुड़, गौ खाद्य सामग्री, हरा चारा, लापसी, दलिया इत्यादि दान कर पुण्य किया।

इसी प्रकार महावीर इंटरनेशनल की प्रेरणा से संस्था अध्यक्ष नरेंद्र कुमार संखलेचा व सदस्य रामस्वरूप कच्छावा व उनके सहयोगियों द्वारा ताउसर पर केरी पानी, आमरस का स्टॉल नागरिकों को वितरित किया गया। साथ ही संस्था उपाध्यक्ष राजकुमार मच्छी द्वारा कांजी हाउस में तरबूज गोवंशों को खिलाया। इस दौरान संस्था मैनेजर सुभाष कोठारी, उपाध्यक्ष गौतमचंद कोठारी, सचिव राजेश रावल, सदस्य रिखबचंद नाहटा, प्रवीण बांठिया, प्रमिल नाहटा उपस्थित रहे।

इसी प्रकार राजस्थान पेंशनर समाज जिला शाखा द्वारा निर्जला एकादशी पर गुरूवार सुबह 10 से 1 बजे तक जिला कोषाधिकारी किशोर कुमार गावड़िया द्वारा आमजन के लिए मिल्क रोज पिलाया गया। इस दौरान आसकरण ललवानी, मोतीलाल चंदेल, लक्ष्मीनारायण गौड़, माणकचंद, सत्यनारायण पारीक, सुरेंद्र सिंह, पुरूषोत्तम जोशी, हुक्माराम पोटलिया, जयकिशन सोनी, रामनिवास रिणवा, छगनलाल विजयवर्गीय, बस्तीमल राखेचा, अमृतलाल टाक, कृपाराम गहलोत, अक्षय कुमार, शिशुपाल सिंह, अमृतलाल, गजेंद्र माथुर, भंवरलाल पारासर आदि उपस्थित रहे।

नागौर| निर्जला एकादशी के अवसर पर शहर के युवाओं की टीम ने गुरूवार को रेलवे यात्रियों को शर्बत पिलाया। साथ ही जल सेवा की और परिंडो में पानी भरा। प्रेमसिंह चारण ने बताया की गुरूवार को निर्जला एकादशी पर रेलवे स्टेशन पर जल सेवा के लिए युवाओं की टीम पहुंची। इस दौरान प्रेमसिंह चारण, प्रकाशसिंह पटेल, रवि पारीक, सब्बीर ख़िलजी, एडवोकेट शमा परवीन, कपिल भाटी, मोहम्मद जानबाज, हिमांशु शर्मा, भंवरलाल शर्मा, रामप्रकाश बाना, नरेंद्र ताड़ा, संजय छाबा, गोविंद सिंह कविया, हर्षुल पटेल, भावेश टाक, प्रमोद भार्गव, नेमीचंद गुडला, जितेंद्र, तिलायचा सिंह, प्रद्युमन सिंह आदि मौजूद थे। इस अवसर पर अनेक धार्मिक कार्यक्रम हुए।

नागाैर. निर्जला एकादशी पर लोगों को शिकंजी पिलाते हुए।

नागाैर. निर्जला एकादशी पर लोगों को ठंडाई पिलाते हुए।

नागौर. निर्जला एकादशी पर शृंगारित नगर सेठ बंशीवाला की प्रतिमा।

नागाैर. निर्जला एकादशी पर लोगों को गन्ने का रस पिलाते हुए लोग।

नागौर. बीकानेर बाइपास पर लोगों को ज्यूस पिलाते हुए।

भास्कर संवाददाता| नागौर

शहर में गुरुवार को निर्जला एकादशी मनाई गई। इस मौके पर नगर सेठ बंशीवाला मंदिर में प्रतिमा को श्रृंगारित किया गया। जिसके बाद आरती की गई। बंशीवाले के दर्शन के लिए श्रद्धालु भी उमड़े। ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष गुरूवार को एकादशी है। जिसे निर्जला एकादशी भी कहते है। इस एकादशी का काफी महत्व होता है। जो साल में सिर्फ एक ही बार आती है। इस दिन शहरवासी निर्जला एकादशी का व्रत रख अपनी मनोकामना पुरी करते है। साथ ही लोगों द्वारा भाव अनुसार दान पुण्य भी करते है। मंदिरों में लोग दर्शन करने के लिए जाते है। भगवान विष्णु की इस दिन पूजा करने से व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो सकती है। शहरभर में भीषण गर्मी के चलते लोगों ने ठंडाई, शरबत, ज्यूस, गन्ने का रस, नींबू शिकंजी, पानी की व्यवस्था की गई। जिसमें इस गर्मी में लोगों को राहत महसूस हुई। इस दौरान शहर में हर चौराहे, गली मोहल्ले, दुकानों और टेंट लगाकर ठंडे पेयजलों की व्यवस्था नजर आई। काफी जगह दुकानदारों, संगठनों, मंडलियों ने मिलकर लोगों को ठंडा पेयजल पिला कर दान पुण्य किया।

पुराना बस स्टैंड पर दुकानदारों ने गन्ने का रस लोगों को पिलाया। जिसमें जगदीश प्रसाद टाक, राजेंद्र पंवार ने मिलकर गन्ने का रस की व्यवस्था कर निर्जला एकादशी में गर्मी में राहत प्रदान की। साथ ही सुगन सिंह सर्किल में सभी दुकानदारों व उनके मित्र मंडलियों ने मिलकर नींबू शिकंजी बनाकर लोगों को पिलाया। सदर बाजार के दुकानदारों जगदीश प्रसाद डागा, सुरजकरण, सुगनचंद मूलचंद कोठारी ने मिल शरबत बाजार में आए लाेगों को शरबत पिलाया। जेएलएन हाॅस्पिटल के पास लाल सिंह, श्रवण सिंह, गजेंद्र सिंह द्वारा शरबत की सेवा की गई। साथ ही नेमीचंद, गणेश प्रजापत, पहलाद प्रजापत, पीरबगस अली ने भी दान पुण्य किया।

इसी के साथ निर्जला एकादशी के व्रत पर लोगों ने सहगार के खाद्य सामग्री की भी भरमार रही। एकादशी के उपवास में दुकानों में सहगार के नमकीन, चिप्स, मिर्चीबड़े, कोप्ते भी लोगों ने खरीदे। इसके अलावा लोगों ने गर्मी को देखते हुए तरबूज, खरबुजा, आम, आईसक्रीम, रबड़ी भी खरीद कर उपवास कर गर्मी से राहत पाई।

इसी प्रकार विश्व स्तरीय गो चिकित्सालय के सामने गुरूवार को निर्जला एकादशी का पावन पर्व गो चिकित्सालय की तरफ से यात्रियों एवं गौभक्तों को ठण्डा मीठा शर्बत पिलाकर मनाया। गो चिकित्सालय के सचिव पिन्टुलाल कच्छावा ने बताया कि संत गोविंदराम महाराज के सानिध्य में कामधेनु सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रवण सैन, श्रवणराम बिश्नोई, सीताराम पारीक, दीपचंद सांखला, मुकेश पारीक, बाबूलाल बिश्नोई, दीपेंद्र सिंह राठौड़, अशोक सोनी, भरत सिंह राठौड़, सोहनराम राड़, दिनेश ईनाणियां, मनीष वैष्णव सहित स्टाफ ने यात्रियों व गौभक्तों को विशेष प्रकार का ठंडा मीठा शर्बत बनाकर वितरित किया गया। सचिव ने बताया कि ब्राह्मणों को कपड़े, छाता, दूध, फल, तुलसी पत्तियां आदि दान करना शुभ माना जाता है। गौभक्तों व यात्रियों का आवागमन रहा। अनेक गौभक्तों ने गोवंश हितार्थ गुड़, गौ खाद्य सामग्री, हरा चारा, लापसी, दलिया इत्यादि दान कर पुण्य किया।

इसी प्रकार महावीर इंटरनेशनल की प्रेरणा से संस्था अध्यक्ष नरेंद्र कुमार संखलेचा व सदस्य रामस्वरूप कच्छावा व उनके सहयोगियों द्वारा ताउसर पर केरी पानी, आमरस का स्टॉल नागरिकों को वितरित किया गया। साथ ही संस्था उपाध्यक्ष राजकुमार मच्छी द्वारा कांजी हाउस में तरबूज गोवंशों को खिलाया। इस दौरान संस्था मैनेजर सुभाष कोठारी, उपाध्यक्ष गौतमचंद कोठारी, सचिव राजेश रावल, सदस्य रिखबचंद नाहटा, प्रवीण बांठिया, प्रमिल नाहटा उपस्थित रहे।

इसी प्रकार राजस्थान पेंशनर समाज जिला शाखा द्वारा निर्जला एकादशी पर गुरूवार सुबह 10 से 1 बजे तक जिला कोषाधिकारी किशोर कुमार गावड़िया द्वारा आमजन के लिए मिल्क रोज पिलाया गया। इस दौरान आसकरण ललवानी, मोतीलाल चंदेल, लक्ष्मीनारायण गौड़, माणकचंद, सत्यनारायण पारीक, सुरेंद्र सिंह, पुरूषोत्तम जोशी, हुक्माराम पोटलिया, जयकिशन सोनी, रामनिवास रिणवा, छगनलाल विजयवर्गीय, बस्तीमल राखेचा, अमृतलाल टाक, कृपाराम गहलोत, अक्षय कुमार, शिशुपाल सिंह, अमृतलाल, गजेंद्र माथुर, भंवरलाल पारासर आदि उपस्थित रहे।

नागौर| निर्जला एकादशी के अवसर पर शहर के युवाओं की टीम ने गुरूवार को रेलवे यात्रियों को शर्बत पिलाया। साथ ही जल सेवा की और परिंडो में पानी भरा। प्रेमसिंह चारण ने बताया की गुरूवार को निर्जला एकादशी पर रेलवे स्टेशन पर जल सेवा के लिए युवाओं की टीम पहुंची। इस दौरान प्रेमसिंह चारण, प्रकाशसिंह पटेल, रवि पारीक, सब्बीर ख़िलजी, एडवोकेट शमा परवीन, कपिल भाटी, मोहम्मद जानबाज, हिमांशु शर्मा, भंवरलाल शर्मा, रामप्रकाश बाना, नरेंद्र ताड़ा, संजय छाबा, गोविंद सिंह कविया, हर्षुल पटेल, भावेश टाक, प्रमोद भार्गव, नेमीचंद गुडला, जितेंद्र, तिलायचा सिंह, प्रद्युमन सिंह आदि मौजूद थे। इस अवसर पर अनेक धार्मिक कार्यक्रम हुए।

Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
X
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
Nagaur News - rajasthan news nirjala ekadashi the devotees of darshan are seen in the temples
COMMENT