साेशल मीडिया ग्रुप पर अश्लील वीडियाे, मैसेज वायरल करने के साथ देखने वाले भी अपराधी

Nagour News - सोशल मीडिया व्हाट्स एप पर अश्लील वीडियो पोस्ट करने के मामले में ग्रुप एडमिन, वीडियो काे एक दूसरे काे फॉरवर्ड करने...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:21 AM IST
Besroli News - rajasthan news obscene videos on sahel media group criminals who see messages with viral
सोशल मीडिया व्हाट्स एप पर अश्लील वीडियो पोस्ट करने के मामले में ग्रुप एडमिन, वीडियो काे एक दूसरे काे फॉरवर्ड करने वालाें के साथ वीडियो देखकर उसकी उपेक्षा करने वाले भी अभियुक्त माने जाएंगे। जिला पुलिस ने अाम जन काे सलाह दी है कि ऐसे मैसेज के बारे में जानकारी मिलते ही पुलिस काे सूचित करें। एसपी कुंवर राष्ट्रदीप के अनुसार पुलिस की अाईटी सेल ने साेशल मीडिया पर एेसे ग्रुप की पहचान की है, जिसमें भावनाएं अाहत करने वाले वीडियो अाैर मैसेज वायरल हाे रहे हैं।

साेशल मीडिया पर अश्लील विडियाे, मैसेज वायरल करने के मामले में ग्रुप एडमिन, आपत्तिजनक पाेस्ट काे फॉरवर्ड करने वाले सदस्य अाैर ग्रुप के एेसे सदस्य जाे आपत्तिजनक पाेस्ट काे देखकर अनभिज्ञ बन जाते हैं, इनके खिलाफ धारा 67-ख आईटी एक्ट 2000, 4/6 महिलाओं का अशिष्ट विरुपण (प्रतिषेध) अधिनियम 1986, 23 पोक्सो एक्ट एवं 292 भा.द.सं. में मुकदमा दर्ज हाे सकता है।

इंडियन ग्रुप में पाकिस्तानी नागरिक भी जुड़े

जानकारी के अनुसार साेशल मीडिया व्हाट्स एप पर इंडियन ग्रुप में अश्लील फाेटाे, पाॅर्न मूवी, दुराचार के वीडियो अाैर एेसे कई आपत्तिजनक मैसेज का अादान-प्रदान हाे रहा है, जिसमें बड़ी संख्या मे पाकिस्तान के काॅलर भी जुड़े हैं। खास बात यह है कि पाकिस्तानी काॅलर बाकायदा चेटिंग कर अपनी पसंद बताते हुए अश्लील वीडियो क्लीपिंग की डिमांड कर रहे हैं। यह विदेशी काॅलर भी अश्लीलता फैलाने वाले वीडियो अाैर मैसेज वायरल कर रहे हैं। साेशल मीडिया पर एेसे कई ग्रुप काे पुलिस ने चिन्हित कर इनके बारे में तफ्तीश शुरू कर दी है।

पुलिस संज्ञान लेकर खुद कर सकती है मुकदमा दर्ज

एसपी कुंवर राष्ट्रदीप के अनुसार एेसे मामलाें में ग्रुप में शामिल लाेगाें काे पुलिस काे सूचना देनी चाहिए अन्यथा एेसे लाेग भी अपराध में सहभागी करार दिए जा सकते हैं। पुलिस एेसे मामलाें में संज्ञान लेकर खुद मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई कर सकती है। पिछले दिनाें बारां जिला पुलिस की जानकारी में एक गंभीर मामला आया कि मांगरोल क्षेत्र की घटना बताकर व्हाट्स एप सोशल मीडिया पर अश्लील व भ्रामक सामग्री पोस्ट की गई है। स्वतः संज्ञान लेते हुए इस मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले में ग्रुप एडमिन सहित तीन लाेगाें काे गिरफ्तार किया था।

पाक के फर्जी व्हाट्सएप नंबर से भारत में फैल रही अश्लीलता।

X
Besroli News - rajasthan news obscene videos on sahel media group criminals who see messages with viral
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना