• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagour
  • Nagaur News rajasthan news pause on the speculation about going to congress bjp rlp will fight in all 25 seats in collaboration with other parties
विज्ञापन

कांग्रेस-भाजपा में जाने की अटकलों पर विराम; आरएलपी अन्य दलों के साथ मिलकर सभी 25 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 05:10 AM IST

Nagour News - राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी सभी 25 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। हालांकि इसके लिए भाजपा-कांग्रेस छोड़कर अन्य...

Nagaur News - rajasthan news pause on the speculation about going to congress bjp rlp will fight in all 25 seats in collaboration with other parties
  • comment
राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी सभी 25 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। हालांकि इसके लिए भाजपा-कांग्रेस छोड़कर अन्य दलों के साथ गठबंान भी करेगी। यह बात रालोपा संयोजक और खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने शनिवार को जयपुर में पत्रकार वार्ता में कही। हालांकि वे खुद चुनाव लड़ेंगे या नहीं, इस पर बेनीवाल ने अभी खुलासा नहीं किया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनावों में राज्य में आरएलपी ने 57 उम्मीदवार उतारे थे। जिसमें दलित, मुस्लिम, ओबीसी के साथ ही हर वर्ग के उम्मीदवार शामिल थे।

इन चुनावों में आरएलपी के कार्यकर्ताओं ने भाजपा और कांग्रेस दोनों को अपनी ताकत दिखाई। वर्षों बाद दोनों पार्टियों के अलावा अन्य पार्टियाें के विधायक जीते हैं। जिन मुद्दों को लेकर हुंकार रैलियां हुई, उन मुद्दों को लेकर अभी भी संघर्ष जारी है। किसानों के लिए आरएलपी की ओर से ऋण माफी के लिए प्रयास किया था तो कांग्रेस सरकार में दो लाख रुपए तक के ऋण माफ हो रहे हैं। बेरोजगारी भत्ता भी घोषित हुआ। लेकिन वह लागू नहीं हुआ। किसानों को अधिक लाभ नहीं हुआ। आरएलपी के कार्यकर्ताओं ने किसान हितों के लिए काम किया। अब युवा लोकसभा चुनाव पर नजर गड़ाए बैठा है। उन्होंने भाजपा और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों पार्टियां सत्ता का भोग कर रही है। सभी को सत्ता में अाने की चिंता है। अब आरएलपी 25 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। सहयोगी दलों के साथ गठजोड़ किया जाएगा। बेनीवाल ने दावा किया कि बसपा, कम्युनिस्ट पार्टी, बीटीपी आदि दलों से महत्वपूर्ण दौर की बात हो रही है।

प्रहार... कांग्रेस और भाजपा पर साधा निशाना, कहा- जब आरएलपी है तो उनके साथ क्यों?

नागौर. जयपुर में प्रेस वार्ता करते बेनीवाल।

ऐसी रणनीति : किसान और बेरोजगारी रहेंगे मुख्य मुद्दे

लोकसभा चुनाव में पार्टी की भूमिका सहित विभिन्न मुद्दों पर बेनीवाल ने बात रखी और कहा कि किसानों की कर्ज माफी, बेरोजगारी की समस्या का समाधान व अपराध पर लगाम लगाने, स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करवाने सहित दर्जनों जनहित के मुद्दों को लेकर जन आंदोलन किया था उसके बाद नए राजनीतिक दल का गठन किया है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने प्रदेश में आठ लाख से अधिक मत हासिल किए हैं और विधानसभा में तीन विधायक जीतकर आए हैं। रालोपा के चुनाव लड़ने की वजह से भारतीय जनता पार्टी सत्ता से बेदखल हो गई, वहीं कांग्रेस भी वेंटिलेटर पर आ गई है। उन्होंने कहा कि राज्य में सड़कों के काम बंद हो गए हैं। ईमानदार लोग भी कम हो गए हैं। जनता ईमानदार लोगों के साथ आए। बेनीवाल बोले कि सभी के समर्थन से आरएलपी आगे बढ़ी है। उन्होंने कहा कि आरएलपी किसानों सहित सभी वर्गों को साथ लेकर चलने वाली पार्टी है।

गहलोत सदन में बात बोल कर भूल गए, किसान परेशान बेनीवाल ने प्रेस वार्ता में सीएम गहलोत और पीएम नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 4 लाख खाली पद हैं। वहीं, संविदाकर्मियों को 100 दिन में नियमित करने की बात थी लेकिन वह नहीं हुआ। इसके साथ ही जितने भी मूंग के टोकन लेने की बात थी। वह भी पूरी नहीं हुई। यह बात विधानसभा में खुद सीएम ने कही थी कि कैसी भी स्थिति होगी, राज्य सरकार खरीदेगी। लेकिन सदन की घोषणा भी जाया चली गई। भाजपा कांग्रेस के गठबंधन को तोड़ने का प्रयास आरएलपी ने किया था। बेनीवाल ने कहा की राज्यपाल के अभिभाषण पर जवाब देते हुए सदन में सीएम ने टोकन काटने के बाद मूंग खरीद से वंचित रहे किसानों से मूंग खरीदने की घोषणा की और एक महीने से अधिक समय हो जाने के बाद भी सदन में मुख्यमंत्री की घोषणा को अमलीजामा नहीं पहनाना इस बात की और इंगित कर रहा है की किसान हित के नाम पर वोट लेने के बावजूद कांग्रेस किसानों का भला नहीं चाहती।

कहा-मैं टूट सकता हूं, मगर झुकूंगा नहीं

हनुमान बेनीवाल के अनुसार आरएलपी अभी दूसरे राज्यों में चुनाव नहीं लड़ेंगी। उनका पूरा फोकस राजस्थान पर ही रहेगा। देश के लिए लड़ने वाले कम बचे हैं। हनुमान बेनीवाल ने राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सभी नेताआें को बुलाया। उन्होंने कहा कि मैं टूट सकता हूं। झुक नहीं सकता। जनता साथ है।

पीएम मोदी पर भी निशाना... कहा-केंद्र सरकार को कोई बड़ी कामयाबी नहीं मिली

बेनीवाल बोले कि सीमा पर हमले हुए हैं। उरी और पुलवामा में हमले किए गए। लेकिन देश की उम्मीद के अनुसार काम नहीं हुआ। किसान का बेटा शहादत दे रहा है। केंद्र सरकार ऐसे कदम उठाए कि पाकिस्तान और चीन की बोलती बंद हो जाए। केंद्र सरकार को ऐसी कोई कामयाबी नहीं मिली है। क्योंकि दाउद इब्राहिम, मसूद अजहर, नीरव मोदी, विजय माल्या देश से अभी तक बाहर ही है। राम मंदिर नहीं बना और धारा 370 भी वही है। हनुमान बेनीवाल ने कहा की नरेंद्र मोदी जब पीएम बने तो देश को उम्मीद थी कि पाकिस्तान व आंतक के खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी। सेना ने प्रयास किया मगर सरकार कूटनीतिक स्तर पर आतंक को रोकने में सक्षम नहीं रही।

सेना को बधाई, नागौर में सैनिक परिवार खूब

बेनीवाल ने सेना को सर्जिकल स्ट्राइक की बधाई दी। बहावलपुर में केंद्र सरकार हमले के आदेश दे। आतंकवाद के अड्डे का सफाया करें। सरकार तय करें कि देश सुरक्षित हाथों में रहे। जवान शहीद होता है तो राष्ट्र का प्रत्येक आदमी निराश होता है क्योंकि सैनिक सभी के परिवार के सदस्य हैं।

नजदीकी के सवाल पर ठहाके भी खूब लगे

बेनीवाल ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों उनकी नजदीकी ही है। एक ओर राजेंद्र राठौड़ का बंगला है और एक ओर सचिन पायलट का। वे बोले कि दोनों उनके नजदीकी हैं। इस बात पर प्रेस वार्ता में ठहाके लगे। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के साथ कभी गठबंधन नहीं करेंगे और कांग्रेस को भी मुद्दों पर घेरेंगे।

शाह और गहलोत से नजदीकी की बात केवल अफवाह : उन्होंने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सीएम गहलोत से बातचीत को लेकर सब अफवाह है। बेनीवाल ने कहा कि वे भाजपा से चुनाव क्यों लड़ंे जब आरएलपी है। वे भाजपा और कांग्रेस का विरोध करते हैं। मुद्दों को लेकर हमेशा सरकार से लड़ाई लड़ी है। शाह और गहलोत से नजदीकी नहीं है। बेनीवाल ने सभी बातों को खारिज करते हुए इसे केवल अफवाह बताया।

यह रहे उपस्थित: प्रेस वार्ता में आरएलपी संयोजक ने अपनी ताकत भी दिखाई। बेनीवाल ने राज्य भर के नेताओं को जयपुर बुला लिया। रालोपा संयोजक के अलावा मेड़ता विधायक इंदिरा देवी बावरी, भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग, दलित नेता उदाराम मेघवाल, सताराम देवासी, छुट्टन यादव, नारायण बेनीवाल, उम्मेदराम चौधरी, आरके मेहर, मनीष चौधरी, यूआर बेनीवाल मौजूद रहे।

खुद लोकसभा चुनाव लड़ेंगे या नहीं, तय नहीं

हनुमान बेनीवाल ने कहा 25 सीटों पर गठबंधन के साथ चुनाव लड़ेंगे। यह तय है कि नागौर, पाली, बाड़मेर, जोधपुर, जालोर जैसी सभी सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। वसुंधरा के खिलाफ भी लड़ेंगे। अन्य दलों से बात हो रही है। हनुमान बेनीवाल बोले कि वे लोकसभा उम्मीदवार बनेंगे या नहीं यह कोर कमेटी तय करेंगी। इसकी बैठक दो दिन बाद है। उन्होंने आईपीएस पंकज चौधरी से चुनाव को लेकर चर्चा से इनकार किया। बेनीवाल ने कहा कि वे हमेशा आमजन के साथ रहेंगे।

X
Nagaur News - rajasthan news pause on the speculation about going to congress bjp rlp will fight in all 25 seats in collaboration with other parties
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन