• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nagour
  • Degana News rajasthan news people stopped by putting the dead animal in the city into dumping jungle in degana

डेगाना में मृत जानवर को शहर के बीच बने हुए डम्पिंग जाेन में डालने से लोगों ने रोका

Nagour News - नगर पालिका प्रशासन की अाेर से शहर के बीच बनाए गए डम्पिंग जाेन का अब विरोध शुरू हो गया है। गुरुवार शाम को पालिका की...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:55 AM IST
Degana News - rajasthan news people stopped by putting the dead animal in the city into dumping jungle in degana
नगर पालिका प्रशासन की अाेर से शहर के बीच बनाए गए डम्पिंग जाेन का अब विरोध शुरू हो गया है। गुरुवार शाम को पालिका की अाेर से यहां मृत पशु डालने पर पास स्थित कॉलोनी गौरेड़ी करना के लाेग विरोध में उतर आए। काॅलाेनी वासियों ने यहां मृत पशु डालने से मना कर दिया। इस पर एकबारगी गहमागहमी की स्थिति बन गई। इस पर पालिका कर्मी ट्रैक्टर काे वापस ले गए। इसके बाद शाम काे कचरा लेकर अाए अाॅटाे टीपर से भी क्षेत्रवासियों ने कचरा खाली नहीं करने दिया। जानकारी के अनुसार शहर के वार्ड 4 पड़े मृत पशु से बदबू फैल रही थी। इस पर वार्डवासियों ने सफाई कार्मिकों काे पशु हटाने के लिए कहा ताे उसने विरोध के चलते अस्थायी डम्पिंग ज़ोन की और जाने से मना कर दिया। इस पर वार्डवासी पालिका कर्मी के साथ मृत पशु काे लेकर डंपिंग जाेन पहुंचे ताे निकटवर्ती गौरडी करना कॉलोनी के लालाराम खिलेरी, श्रीपाल मडवा सहित लाेगाें ने अस्थाई डम्पिंग जाेन से पूरे क्षेत्र परेशानी का हवाला देकर पशु डालने से मना कर दिया। इस पर थोड़ी गहमा गहमी भी हुई। इस पर पालिका कर्मी ट्रेक्टर लेकर वापस पालिका आ गए। काफी देर तक ये ट्रेक्टर पालिका के सामने खड़ा रहा। मृत पशु से पालिका के अास-पास के लाेग परेशान रहे। इसके बाद पालिका कर्मियों ने ट्रैक्टर काे अन्यत्र भिजवाया। वही देर शाम काे जाेन पर कचरा लेकर पहुंचे अाॅटाे टीपर्स काे भी विरोध झेलना पड़ा।

अाबादी के बीच में हाेने से हाे रहा है विराेध

पालिका की अाेर से बनाया गया यह डम्पिंग जाेन आबादी के बीचोंबीच है। इसके पास बालिका छात्रावास व गौरडी करना कॉलोनी भी है। ऐसे में यहां कचरा डालकर जलाने व मृत पशु डालने पर बदबू पूरे शहर में फैलने लगती हैं। इसकाे लेकर शहरवासी कई बार प्रशासन काे ज्ञापन भी दे चुके हैं। मगर पालिका की अाेर से कार्रवाई नहीं हुई।

डेगाना गांव में दो साल पहले आवंटित हुई थी जमीन

दो वर्ष पूर्व 4 अप्रैल 2017 को तत्कालीन कलक्टर राजन विशाल ने पालिका काे डेगाना गांव पंचायत के अधीन खाली पड़ी जमीन के खसरा संख्या 1352 में से 560 हैक्टेयर भूमि आवंटित की थी। इसमें से 460 हैक्टेयर भूमि कचरा निस्तारण के लिए व 1 हैक्टेयर भूमि मृत पशुओं के लिए थी। लेकिन दो साल बीतने के बाद भी पालिका समय पर कब्जा लेकर विवाद का निस्तारण करने में असफल रही।

X
Degana News - rajasthan news people stopped by putting the dead animal in the city into dumping jungle in degana
COMMENT