कमियां हर जगह, हर संस्थान में होती हैं, उन्हें सुधारने के लिए बदलाव कभी भी कहीं से भी हो सकता है : शर्मा

Nagour News - भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी शहर के राजकीय चिकित्सालय के शिशुरोग इकाई (एनबीएसयू) और रोगी परिजन आवास समेत...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 09:25 AM IST
Kuchaman News - rajasthan news the drawbacks are everywhere in every institute changes can be done from anywhere to improve them sharma
भास्कर संवाददाता | कुचामन सिटी

शहर के राजकीय चिकित्सालय के शिशुरोग इकाई (एनबीएसयू) और रोगी परिजन आवास समेत विभिन्न सुविधाओं को प्रदेश स्तरीय कार्यशाला में चिकित्सा मंत्री और एनएचएम के केन्द्रीय मिशन निदेशक की मौजूदगी में सराहा गया। दरअसल, गत दिवस जयपुर के एक होटल में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की कायाकल्प, गुणवत्ता आश्वासन की एक कार्यशाला का आयोजन किया गया था।

जिसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा, एनएचएम के केन्द्रीय मिशन निदेशक मनोज झालानी, एनएचएम के राज्य मिशन निदेशक डॉ. समित शर्मा आदि मौजूद थे। कुचामन के राजकीय अस्पताल के पीएमओ डॉ. रघुवीरसिंह र|ू ने बताया कि कार्यशाला में एनएचएम मिशन निदेशक डॉ. समित शर्मा ने पिछले दिनों में 56 चिकित्सा संस्थानों पर खुद के द्वारा किए दौरों के बारे में विस्तार से बताया। इस दौरान उन्होंने अस्पतालों में पाई खूबियों और खामियों को भी गिनाया। उन्होंने बताया कि कमियां हर जगह, हर संस्थान में होती हैं लेकिन बदलाव कभी भी कहीं से भी हो सकता है।

उन्होंने कहा कि यदि बदलाव की शुरूआत आपके जरिए होती है तो इससे आपका जीवन भी बदल जाएगा। उन्होंने कहा कि डॉक्टर्स को धरती का भगवान कहा जाता है, ऐसे में आमजन की उम्मीदें भी उनके कहीं अधिक होती हैं। इसलिए सभी डॉक्टर्स अपनी भूमिका समझें समय पर अस्पताल आएं, मरीजों से अच्छा व्यवहार करें और उन्हें गुणवत्ता चिकित्सा उपलब्ध कराने का हरसंभव कोशिश करें।डॉ. समित शर्मा ने इस दौरान अपने निरीक्षण से जुड़ा एक स्लाइड शो प्रजेंटेशन भी प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रस्तुत किया।

इस मौके पर अतिरिक्त मिशन निदेशक एसएल कुमावत, निदेशक जनस्वास्थ्य डॉ. वीके माथुर, निदेशक आरसीएच डॉ. श्रीराम मीणा, यूएनएफपीए के डॉ. सुनील थॉमस एवं चिकित्सा विभाग के सभी संयुक्त निदेशक, सीएमएचओ, डिप्टी सीएमएचओ, पीएमओ, आरसीएचओ, एनएचएम व एनयूएचएम के सभी जिलों में कार्यरत सलाहकार व प्रबंधकों ने हिस्सा लिया।

कुचामन सिटी. कार्यशाला में मौजूद कुचामन अस्पताल के पीएमओ।

ये 3 व्यवस्थाएं जो अन्य अस्पतालों में होनी चाहिए

अपने प्रजेंटेशन में डॉ. समित शर्मा ने कुचामन के राजकीय अस्पताल की 3 स्लाइड्स भी शामिल की। अस्पताल में उपलब्ध रोगी परिजन आवास की फोटो के साथ दिखाए गए प्रजेंटेशन में अस्पताल में आने वाले रोगियों के साथ जो अटेंडेंट पहुंचते हैं उन्हें भी ठहरने के लिए अच्छी व्यवस्था की गई है। डॉ. शर्मा ने अपने प्रजेंटेशन में कुचामन के राजकीय अस्पताल में संचालित हो रही शिशु रोग इकाई (एनबीएसयू) की व्यवस्थाओं को सर्वाधिक सराहा। उनका कहना था कि सरकारी अस्पताल में इस प्रकार की सुविधाएं दी जा रही है जो कि निजी अस्पतालों को भी मात दे रही है।

राज्य स्तर की बनाएंगे अन्य सुविधाएं


X
Kuchaman News - rajasthan news the drawbacks are everywhere in every institute changes can be done from anywhere to improve them sharma
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना