• Hindi News
  • Rajya
  • Rajasthan
  • Nagour
  • Nagaur News rajasthan news we explained where beniwal was supposed to be when he came along with us he could also become a minister he came to bjp39s jhansi will repent now cm

हमने समझाया पर बेनीवाल कहां मानने वाले थे, हमारे साथ आते तो मंत्री भी बन सकते थे, वे बीजेपी के झांसे में आए, अब पछताएंगे: सीएम

Nagour News - हमने बेनीवाल को खूब समझाया कि राजनीति में दुश्मनी नहीं होती। आपके ज्योति से राजनीतिक संबंध अच्छे बनने चाहिएं।...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 09:15 AM IST
Nagaur News - rajasthan news we explained where beniwal was supposed to be when he came along with us he could also become a minister he came to bjp39s jhansi will repent now cm
हमने बेनीवाल को खूब समझाया कि राजनीति में दुश्मनी नहीं होती। आपके ज्योति से राजनीतिक संबंध अच्छे बनने चाहिएं। पुरानी बातें भूलो और नया अध्याय शुरू करो। लेकिन आप जानते हो कि हनुमान बेनीवाल समझ सकते हैं क्या? अगर समझते तो उनका भविष्य उज्जवल होता। हमारी सरकार में आ सकते थे, मंत्री भी बन सकते थे पर जिस प्रकार उनका नेचर है, आप जानते हो, वे नहीं माने। मैंने तीन बार समझाने का प्रय| किया। आखिर में वो अमित शाह और उनकी टीम के झांसे में आ गए। वे झांसेबाज तो हैं ही साथ ले गए। अब बेनीवाल जिंदगीभर पछताएंगे।

यह बात सीएम अशोक गहलोत ने मंगलवार को पशु प्रदर्शनी स्थल पर कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति मिर्धा के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा में कही। अशोक गहलोत ने कहा कि देश खतरनाक मोड़ पर खड़ा है। ये चुनाव लोकतंत्र, देश और संविधान को बचाने का है। बातों ही बातों में कहा कि चुनाव बाद राष्ट्रीयकृत बैंकों के कर्ज को माफ करने की कोशिश रहेगी। गहलोत ने दो बार कहा- कृपा करके ज्योति काे जिताओ। बोले- अगर 70 साल में वास्तव में ही कांग्रेस ने कुछ नहीं किया तो आप मोदी जी को वोट दो, नहीं तो जब मोदी आएं तो उनसे पूछिए कि उन्होंने 5 साल में क्या किया? बोले- बीजेपी को चुनाव के समय ही गाय और राम मंदिर याद आते हैं। हरियाणा के पूर्व सीएम भुपेंद्र हुड्डा ने कहा, मेरा बेटा रोहतक से चुनाव लड़ रहा है मगर मुझे खुशी तब होगी जब जितने मतों से दीपेंद्र जीते, उससे अधिक मतों से आप ज्योति को जिताएंगे।

इस दौरान मंत्री रघु शर्मा, मास्टर भंवरलाल मेघवाल, सुखराम बिश्नोई, उपमुख्य सचेतक महेंद्र चौधरी सहित विधायक रामनिवास गावड़िया, चेतन डूडी, मंजू मेघवाल, मुकेश भाकर, पूर्व विधायक और कांग्रेस जिलाध्यक्ष जाकिर हुसैन गैसावत, हबीबुर्रहमान, सवाईसिंह चौधरी सहित राधेश्याम सदावत सहित अन्य अनेक कांग्रेसी मौजूद रहे।

नागौर. सभा में मौजूद अतिथि एवं सभा के दौरान मौजूद नागरिक।

विरासत से सियासत तक पहुंचाने के चलाए तीर

गहलोत ने ज्योति मिर्धा के दादा नाथूराम मिर्धा का जिक्र करते हुए कहा- आपातकाल के समय 1977 में उतर भारत में एकमात्र सीट नाथूराम मिर्धा ने जीती, ये बड़ी बात है। कहा- यहां बलदेव राम, नाथूराम मिर्धा, रामनिवास मिर्धा जिन्होंने 50 साल से अधिक समय तक सेवा की और किसानों को राहत दिलाई। उसी लाइन पर नई पीढ़ी आगे बढ़ रही है।

ज्योति बोलीं- मंच पर एक वर्तमान, एक पूर्व और एक भावी सीएम

अपने उद्बोधन में नागौर से लोकसभा प्रत्याशी ज्योति मिर्धा ने कहा कि मंच पर एक वर्तमान सीएम, एक पूर्व और एक भावी सीएम बैठे हैं। संभवत: ज्योति का इशारा भावी सीएम के लिए सचिन पायलट की ओर था। ज्योति के इस बयान की राजनीतिक गलियारों में खासा चर्चा रही।

वसुंधरा को राजस्थान से बाहर भेज दिया, अब भाजपा का नेता कौन? : सचिन

डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा ने वसुंधरा को राजस्थान से बाहर भेज दिया है। प्रदेश में इनके नेता कौन है इन्हें मालूम नहीं है। अब आपस में झगड़े कर रहे है और विरोधाभास भी है। फिर भी भाजपाई अफवाह फैला रहे हैं कि सचिन पायलट और अशोक गहलोत की आपस में बनती नहीं। हकीकत में ऐसा नहीं है। हम सब साथ हैं और एक हैं। हमारी मजबूती की वजह से हम मिशन 25 पूरा करेंगे। भाजपा ने कहा था- भ्रष्टाचार खत्म कर देंगे, 2 करोड़ नौकरियों और 15 लाख देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा- विस चुनावों में योगी जब राजस्थान में प्रचार करने आए तो उन्हें उन्होंने चुनौती दी फिर भी वे टोंक नहीं आए।

...और बेनीवाल बोले- मंत्री पद कई बार ठुकरा चुका

उधर, एनडीए प्रत्याशी हनुमान बेनीवाल ने सीएम गहलोत और ज्योति मिर्धा की बातों का जवाब दिया है। बेनीवाल ने कहा, वे मंत्री पद कई बार ठुकरा चुके हैं। गहलोत ने खुद मंत्री बनाने का प्रस्ताव दिया था। कांग्रेस ने सरकार को समर्थन देने को भी कहा। मैंने प्रस्ताव ठुकरा दिया। राष्ट्रहित में मंत्री पद क्या मायने रखता है? कांग्रेस खुद उनके दरवाजे पर आई थी। ज्योति मिर्धा खुद भी दो साल से मुझसे समझौता करने के लिए घूम रही है। बेनीवाल ने ज्योति के आरोप का भी जवाब दिया। कहा- भागने और भगाने की बात बोलने वाले लोगों का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। ये बयान उकसावे वाले हैं। शो फ्लॉप होने के बाद ऐसा ही होता है। ज्योति मिर्धा खुद निर्दलीय लड़े तो 5 हजार से ज्यादा वोट नहीं मिलेंगे।

मेरे सगा भाई नहीं, आप सब ही भाई, वोटों का मायरा भरना: ज्योति

मिर्धा ने मारवाड़ी में बेनीवाल को मारवाड़ी में मिन्नी तक बोल दिया। कहा, कांग्रेसी समझदार थे, बेनीवाल की बातों में नहीं आए, बीजेपी वाला ठगीज गा। बोलीं- बेनीवाल ने रोड शो में 3-4 जगह बहन ज्योति मिर्धा के नाम से पुकारा। मैं कहती हूं धिक्कार है ऐसे कलयुगी भाई पर, उन्होंने कई बार मेरे लिए हल्के शब्द बोले हैं। कहा- मेरे भी सगा भाई नहीं है। खिंयाला की बहन के जब भाई न था तो चौधरी ने मायरा भरा। आज तुम ही मेरे भाई हो। वोटों से अब मेरा मायरा भरना है। वादा किया कि वो मायरा मीठा करवाने उनके गांव तक पहुंचेगी।

गहलोत, पायलट व पांडे आज डेगाना में

डेगाना। सीएम अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे, चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा आज डेगाना आएंगे। राजसमंद से प्रत्याशी देवकीनंदन काका, पूर्व विधायक रिछपाल मिर्धा, विधायक विजयपाल मिर्धा भी मौजूद रहेंगे।

Nagaur News - rajasthan news we explained where beniwal was supposed to be when he came along with us he could also become a minister he came to bjp39s jhansi will repent now cm
X
Nagaur News - rajasthan news we explained where beniwal was supposed to be when he came along with us he could also become a minister he came to bjp39s jhansi will repent now cm
Nagaur News - rajasthan news we explained where beniwal was supposed to be when he came along with us he could also become a minister he came to bjp39s jhansi will repent now cm
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना