Home | Rajasthan | Narlai | पुल नहीं बनने से बारिश में तीन महीने तक टापू बना रहता है खोबा गुड़ा गांव

पुल नहीं बनने से बारिश में तीन महीने तक टापू बना रहता है खोबा गुड़ा गांव

देसूरी | खोबा गुड़ा व बावरियों झूपा के बीच स्थित बरसाती नाला। देसूरी जाने वाला मार्ग भी है कच्चा बरसात के...

Bhaskar News Network| Last Modified - Jul 04, 2018, 06:10 AM IST

पुल नहीं बनने से बारिश में तीन महीने तक टापू बना रहता है खोबा गुड़ा गांव
पुल नहीं बनने से बारिश में तीन महीने तक टापू बना रहता है खोबा गुड़ा गांव
देसूरी | खोबा गुड़ा व बावरियों झूपा के बीच स्थित बरसाती नाला।

देसूरी जाने वाला मार्ग भी है कच्चा

बरसात के शुरू होते ही खोबा गुडा गांव के ग्रामीणों का नारलाई की तरफ आवागमन लगभग बंद हो जाता है। ऐसे में इस गांव की जरूरतमंद वस्तुओं के लिए देसूरी आना पड़ता है। मगर यह रास्ता भी पुरी तरह से कच्चा है ऐसे में बरसात के मौसम में यह रास्ता भी खराब हो जाता है।

पुलिया निर्माण का प्रस्ताव स्वीकृति के लिए भेज रखा है

बावरियों का झूपा और खोबा गुडा गांव के बीच बरसाती नाला मौजूद है जिसमें बरसात शुरू होते ही इस नाले में पानी की आवक शुरू हो जाती है। जिसके कारण दोनों गांवों का संपर्क टूट जाता है। इस बरसाती नाले पर पुलिया निर्माण को लेकर प्रस्ताव स्वीकृति के लिए भेजा गया है। कमलेन्द्रसिंह, सरपंच माडपुर

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now