--Advertisement--

सर्वोच्च न्यायालय का एससी-एसटी संबंधी फैसला बदलने की मांग

भारतीय वाल्मीकि कल्याण महासभा ने उपखंड अधिकारी वीरेंद्र यादव को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नाम ज्ञापन देकर...

Dainik Bhaskar

Mar 28, 2018, 05:40 AM IST
सर्वोच्च न्यायालय का एससी-एसटी संबंधी फैसला बदलने की मांग
भारतीय वाल्मीकि कल्याण महासभा ने उपखंड अधिकारी वीरेंद्र यादव को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के नाम ज्ञापन देकर सर्वोच्च न्यायालय द्वारा हाल में दिए गए एससीएसटी संबंधी फैसले को बदलने की मांग की।

ज्ञापन में संस्था के प्रदेशाध्यक्ष जसवंत चांवरियां ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने हाल में एससीएसटी एक्ट में ये फैसला दिया कि इस कानून का दुरुपयोग हो रहा है। इसलिए अब ऐसे मामलों में आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी ना होकर पहले डीएसपी कैडर के अधिकारी द्वारा मामले की सत्यता की जांच कराई जाएगी और उसके बाद ऐसे मामलों में कार्रवाई की जाएगी। महासभा के चांवरियां, पार्षद सीमा बोयत आदि ने इस फैसले को देश के 30 करोड़ दलित और आदिवासियों की जिंदगी पर कुठाराघात बताते हुए ज्ञापन में बताया कि आज भी कई स्थानों पर दलितों के दूल्हों को घोड़ी नसीब नहीं होती। चांवरिया ने केंद्र सरकार से सर्वोच्च न्यायालय में रिव्यू पिटिशन दाखिल कर पुराने एससीएसटी एक्ट को यथावत रखने या संसद में संशोधन बिल लाकर एक्ट को बदलने की मांग की। पार्षद सीमा बाेयत ने बताया कि आगामी 2 अप्रेल को भारत बंद का आह्वान किया गया है। इसके अंतर्गत नगर में भी बंद कराया जाएगा। ज्ञापन देते समय नरेश टांक एडवोकेट, मनोज सांगेला, इंद्रजीत चांवरियां, मदनलाल बीदावत, दिलीप गोयर, अनिल, राजेश करोती, राहुल नंगलिया, सुधेश बाेयत, राजेंद्र सुकरिया, अमित बीदावत, देवीलाल, ज्ञान करोती आदि उपस्थित थे।

नसीराबाद. एससी एसटी एक्ट में बदलाव पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपते हुए।

X
सर्वोच्च न्यायालय का एससी-एसटी संबंधी फैसला बदलने की मांग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..