--Advertisement--

निराशा से आशा और पापों से छुटकारा दिलाने का पर्व है ईस्टर

मसीह समाज ने रविवार को मार्टिन मेमोरियल चर्च में ईस्टर पुनरुत्थान दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर पर आयोजित विशेष...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 05:45 AM IST
निराशा से आशा और पापों से छुटकारा दिलाने का पर्व है ईस्टर
मसीह समाज ने रविवार को मार्टिन मेमोरियल चर्च में ईस्टर पुनरुत्थान दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर पर आयोजित विशेष आराधना सभा में प्रेस बिटर इंचार्ज रेव्हरन सिलवेस्टर जैकब ने ईस्टर को निराशा से आशा, पापों से छुटकारा, अंधकार से ज्योति की ओर ले जाना वाला पर्व बताते हुए कहा कि ये पुनरुत्थान दिवस है और जीवन में नई आशाएं जगाने वाला पर्व है।

आराधना सभा को संबोधित करते हुए अतिथि वक्ता रेव्हरन ए नथानियल ने कहा कि यीशु मसीह के जीवित हो जाने के साथ हमारी आशाएं भी जीवित हो गई है। प्रभु यीशु परमेश्वर के पुत्र है और वे शांति का संदेश लेकर दुनिया में आए। विशेष आराधना के बाद प्रेसबिटर इंचार्ज रेव्हरन जैकब और रेव्हरन नथानियल ने उपस्थित सभी मसीह समाज के सदस्यों को ईस्टर की बधाई दी।

पास्ट्रेट कमेटी के सचिव रिचर्ड संजय बैपटिस्ट के अनुसार इससे पूर्व तड़के 5 बजे चर्च में सनराइज आराधना आयोजित की गई। इस दौरान मिशन स्कूल के चबूतरे से समाज सदस्यों से कैंडल जुलूस निकाला जो मिशन कम्पाउंड में विभिन्न मार्गों से होता हुआ चर्च पहुंचा। यहां सनराइज सर्विस का आयोजन किया गया। विशेष आराधना के बाद समाज के लोगों ने एक दूसरे को ईस्टर की बधाइयां दी। इस अवसर पर समाज के युवाओं द्वारा चर्च में विशेष सजावट भी की गई। कार्यक्रम में समाज सदस्यों द्वारा संगीत की मधुर धुनों पर मसीही भजन भी प्रस्तुत किए। प्रार्थना सभा में बड़ी संख्या में समाज के पुरुष, महिलाएं, युवा एवं बच्चे उपस्थित थे।

नसीराबाद. ईस्टर के अवसर पर रविवार को आयोजित प्रार्थना सभा में उपस्थित समाज सदस्य।

ईस्टर के अवसर चर्च में प्रवचन देते रेव्हरन जैकब।

X
निराशा से आशा और पापों से छुटकारा दिलाने का पर्व है ईस्टर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..