नसीराबाद

--Advertisement--

अतिक्रमण हटाने के विरोध में आए सिंधी समाज के लोग

सिंधी पंचायत के सदस्यों ने शुक्रवार को छावनी अधिशाषी अधिकारी होशियार सिंह मीणा को ज्ञापन देकर समाज के सदस्य...

Dainik Bhaskar

Mar 10, 2018, 06:10 AM IST
अतिक्रमण हटाने के विरोध में आए सिंधी समाज के लोग
सिंधी पंचायत के सदस्यों ने शुक्रवार को छावनी अधिशाषी अधिकारी होशियार सिंह मीणा को ज्ञापन देकर समाज के सदस्य द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाने का कड़ा विरोध करते हुए इसे समाज पर अत्याचार बताया।

ज्ञापन में बताया गया कि समाज सदस्य चंद्रप्रकाश लालवानी ने मकान निर्माण के दौरान आने जाने के लिए सरकारी नाले पर पटि्टयां रखकर रास्ता बनाया था जिसे छावनी परिषद कर्मियों ने तोड़ दिया जिससे समाज में रोष व्याप्त है। ज्ञापन में बताया गया कि नगर में मकान, दुकान, शोरूम, अवैध माल, मीट-मछली की अवैध दुकानें, शराब की दुकानें, अवैध बाड़े और अवैध बूचड़खाने आदि के अवैध निर्माण हो रहे है लेकिन निशाना केवल सिंधी समाज को बनाया जा रहा है जो गलत है। समाज के मुखी काली बाबानी ने द्वेषतापूर्ण कार्रवाई बंद करने की मांग करते हुए चेतावनी दी कि यदि कार्यवाही नहीं रोकी गई तो समाज उग्र आंदोलन करेगा। समाज ने सभी अतिक्रमियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग भी की। इस मामले में छावनी अधिशाषी अधिकारी होशियार सिंह मीणा से बात करने पर उन्होंने बताया कि अतिक्रमण कानून का सीधा उल्लंघन है और ये जिसने भी कर रखा है उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। छावनी ईओ मीणा ने इस बात को गलत बताया कि औरों ने कर रखा है तो हम भी करेंगे। उन्होंने सभी अतिक्रमियों को चेतावनी दी कि नाले पर अतिक्रमण करने वालों के विरुद्ध शीघ्र पुन: कार्रवाई की जाएगी। यहां ये गौरतलब है कि ज्ञापन देते समय सिंधी समाज के सदस्यों ने नगर के कई अतिक्रमणों का जिक्र किया जिस पर ईओ मीणा ने वाटर फोरमैन सतीश कुमार, ओवरसियर विश्वेंद्र सिंह और सफाई अधीक्षक आशीष शर्मा को सिंधी समाज सदस्यों के साथ भेजकर अतिक्रमणों की स्थिति देखने और रिपोर्ट प्रस्तुत करने के आदेश दिए। ज्ञापन देते समय सेवा भारती के अध्यक्ष सुशील गदिया ने छावनी ईओ मीणा को बताया कि पोपसिंह मोहल्ले में जावेदन खान ने एक सरकारी हैंडपंप को हटाकर अतिक्रमण किया है उसे भी हटवाया जाए। जानकारी के अनुसार काली माई रोड मुकेरी मोहल्ला स्थित सिंधी समाज की धर्मशाला के पास सलीम नामक व्यक्ति ने 3 फुट की सरकारी गली को ही अतिक्रमण कर बंद कर दिया। इसी प्रकार सिंधी समाज सदस्यों ने रामचंद्र धर्मशाला के पीछे बाड़ा बनाकर किए गए अतिक्रमण को भी दिखाया। छावनी ईओ मीणा ने सभी अतिक्रमणों के विरुद्ध शीघ्र कार्रवाई की बात कही है।

नसीराबाद. छावनी ईओ को ज्ञापन देते सिंधी समाज के सदस्य।

X
अतिक्रमण हटाने के विरोध में आए सिंधी समाज के लोग
Click to listen..