• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nasirabad
  • अवैध मीट मांस की दुकानेंं बंद करवाने व समझौते की पालना की मांग
--Advertisement--

अवैध मीट मांस की दुकानेंं बंद करवाने व समझौते की पालना की मांग

Nasirabad News - नसीराबाद| बूचड़खाने हटाओ संघर्ष समिति ने शुक्रवार को छावनी अधिशाषी अधिकारी होशियार सिंह मीणा को ज्ञापन देकर नगर...

Dainik Bhaskar

Mar 10, 2018, 06:10 AM IST
अवैध मीट मांस की दुकानेंं बंद करवाने व समझौते की पालना की मांग
नसीराबाद| बूचड़खाने हटाओ संघर्ष समिति ने शुक्रवार को छावनी अधिशाषी अधिकारी होशियार सिंह मीणा को ज्ञापन देकर नगर में चल रही अवैध मीट मांस की दुकाने बंद करवाने और बूचड़खाने हटाओ संघर्ष समिति के आंदोलन के दौरान हुए समझौते की शर्तों को लागू करवाने की मांग की है।

समिति के अध्यक्ष सुशील गदिया और मिश्रीलाल जिंदल ने ज्ञापन में बताया कि छावनी परिषद सीमा में छावनी बोर्ड द्वारा मीट मांस की दुकानें संचालित करने हेतु कोई लाइसेंस जारी नहीं किया गया है उसके बावजूद छावनी परिषद की मिलीभगत से बालाजी मंदिर के रास्ते में पेट्रोल पंप क्षेत्र में, पुराने बस स्टैंड शिव मंदिर के पास, सब्जी मंडी क्षेत्र व पलसानिया रोड के पास मीट-मांस की दुकानें संचालित हो रहे है।

गदिया व जिंदल ने बताया कि 10 अगस्त 2015 को सभी प्रशासनिक अधिकारियों एवं राज्य सरकार के मंत्री वासुदेव देवनानी व समिति के बीच आंदोलन समाप्त करने हेतु समझौता हुआ था लेकिन समझौते की पालना आज तक नहीं की जा रही है। समझौते के अनुसार शेष बूचड़खाने तोड़ने, क्षेत्र की तारबंदी करवाने, क्षेत्र में पुलिस चौकी खाेलने, अधिकारियों द्वारा अवैध पशुवध की निगरानी करने, अवैध मीट मांस की दुकानें बंद करवाने और आंदोलन के दौरान किए गए मुकदमे वापिस लेने की शर्तें पूरी की जानी थी। लेकिन प्रशासन द्वारा आज तक समझौते की पालना नहीं की गई। गदिया ने ज्ञापन में उक्त सभी मांगों को 15 दिन में पूरी करने अन्यथा समिति द्वारा पुन: आंदोलन करने की चेतावनी दी है जिसकी जिम्मेदारी छावनी व प्रशासन की होगी।

X
अवैध मीट मांस की दुकानेंं बंद करवाने व समझौते की पालना की मांग
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..