--Advertisement--

लूट के आरोपी आठ साल बाद गिरफ्तार

सराधना में हवाला कारोबारी का अपहरण कर 20 लाख रुपए की लूट के मामले में आठ साल से फरार दो आरोपियों को मांगलियावास...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 05:30 AM IST
सराधना में हवाला कारोबारी का अपहरण कर 20 लाख रुपए की लूट के मामले में आठ साल से फरार दो आरोपियों को मांगलियावास पुलिस ने सोमवार को दिल्ली से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। नसीराबाद अदालत ने दोनाें को दो दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया।

मांगलियावास थाने के एएसआई सोहन सिंह रावत ने बताया कि नई दिल्ली के उत्तम विहार निवासी सुशील पुत्र श्रीराम यादव और उसके भाई सुनील यादव ने गिरोह के सरगना अजमेर के नया बाजार निवासी शैलेश कुमार, उत्तम नगर, नई दिल्ली निवासी आशु उर्फ अजय, अश्विनी कुमार, दिल्ली पुलिस के सिपाही संजय की मदद से गत 8 सितंबर 2010 की रात 9. 30 बजे सराधना में होटल अशोका मिडवे पर आकर रुकी वीडियोकोच बस में सवार हवाला कारोबारी गुजरात के मेहसाणा निवासी अल्पेश कुमार का अपहरण कर लिया और गेगल के खोडा गणेश के पास पेड़ से बांधकर उसके पास मौजूद 20 लाख रुपए व उसका मोबाइल छीन कर भाग छूटे। हवाला कारोबारी अल्पेश यह राशि अजमेर से ऊंझा लेकर जा रहा था। पुलिस ने अजमेर जिले में सघन नाकाबंदी कर आरोपियों की तलाश कर दी। पुलिस ने सिपाही संजय सिंह, आशु उर्फ अजय अश्विनी कुमार तथा अजमेर निवासी शैलेश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

लेकिन सुशील व सुनील यादव का सुराग नहीं लग पाया। दो दिन पहले मांगलियावास पुलिस को दोनों आरोपियों के दिल्ली में हाेने के समाचार मिले। सूचना मिलते ही मांगलियावास पुलिस हरकत में आ गई। मांगलियावास थाने के एएसआई सोहन सिंह रावत, कांस्टेबल सांवरलाल, बलवीर, अरविंद सिंह की अगुवाई में दिल्ली दबिश दी।

मुखबिर की बताई जगह पर दबिश पर दोनों सगे आरोपी भाइयों को गिरफ्तार कर मांगलियावास थाने ले आई। मांगलियावास पुलिस ने दोनों गिरफ्तार आरोपियों को नसीराबाद अदालत में पेश किया। जहां पुलिस की मांग पर उन्हें 2 दिन के पीसी रिमांड पर सौप दिया गया है।

अपराध

हवाला कारोबारी से लूटी थी रकम, सरगना सहित अन्य आरोपी पहले ही पकड़ मे आ चुके थे

जेठाना. 20 लाख की लूट के आरोपी।