--Advertisement--

पूजन के साथ हुआ होली दहन

राजसमंद . जेके मोड़ स्थित होली थान पर द्वारिकाधीश मंदिर की होली का दहन देखने के लिए उमड़ा जनसैलाब। धुलंडी पर गली...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:55 AM IST
राजसमंद . जेके मोड़ स्थित होली थान पर द्वारिकाधीश मंदिर की होली का दहन देखने के लिए उमड़ा जनसैलाब।

धुलंडी पर गली मोहल्लों में गूंजे फाग, बजी चंग और रसिया गान

राजसमंद | द्वारिकाधीश मंदिर की होली का दहन जेके मोड़ स्थित होलीथान पर मुहूर्त में हुआ। गुरुवार को भोग और आरती दर्शन के बाद में मंदिर से शाम सात बजे होलिका दहन के लिए सवारी रवाना हुई। इसमें ढोल-नगाड़े, बैंड-बाजों के साथ दो मशालची चल रहे थे। कीर्तनकारों ने कीर्तन से उल्लास दोगुना कर दिया। सवारी रेती मोहल्ला, सुखपाल छतरी, मेन चौपाटी होते हुए जेके मोड़ स्थित होलीथान पर पहुंची। जहां होली की पूजा के बाद मशालची ने होलिका का दहन किया। मंदिर अधिकारी भगवतीलाल पालीवाल, मुख्य समाधानी राजकुमार गौरवा, कोठा प्रभारी कमलेश पालीवाल, विनोद पालीवाल, खर्च भंडारी सोहनलाल पूर्बिया सहित शहरवासी उपस्थित रहे।

नाथद्वारा | डोलोत्सव पर प्रभु को श्रीमस्तक पर मोर पंख का कुल्हे जोड़, केसर के साटन के वस्त्र, मीनाकारी के आभरण धराए। अद्भुत डोल बनी मनमोहन, डोल नवलकिशोर झूले..., खेलत बसंत वर विट्ठलेश... सहित कीर्तन का गान किया।

कुंवारिया | होली स्थानक पर पंडित बद्रीलाल उपाध्याय के मंत्रोच्चार के साथ विधानपूर्वक होली की पूजा-अर्चना कर दहन किया। इसी तरह गलवा, जोधपुरा, रामपुरिया, गाड़रियावास, लालपुर, पीपली अहीरान, महासतियों की मादड़ी, फियावड़ी, लापस्या, खंडेल, देवली, गोवलिया सहित कई गांवों में होलिका पर्व मनाया।

आमेट | कस्बे के होलीथान, बड़ीपोल, गांधी चौक, रेलवे स्टेशन, मारू दरवाजा बाहर, खटीक मोहल्ला में शाम को मुहूर्त में होली का दहन किया। सेलागुड़ा, आगरिया, बीकावास, जिलोला, घोसुंडी, राछेटी, टीकर में भी होलिका दहन किया। होली चातुर्मास पर तेरापंथ सभा भवन में मुनि सुखलाल ने प्रवचन में दिए।

कुंभलगढ़ | केलवाड़ा, मजेरा, लखमावतों का गुडा, ओड़ा सहित सभी गांवों में रात को मुहूर्त में होली का दहन किया। पर्यटकों के साथ होटलकर्मियों ने भी होटलों में होली का दहन किया। होटलों में पर्यटकों ने अबीर-गुलाल से होली खेली। शनिवार को पुलिसकर्मियों ने होली खेली। ओड़ा चौकी पर चौकी प्रभारी भंवरसिंह के नेतृत्व में पुलिस जवानों व क्रय विक्रय सहकारी समिति अध्यक्ष प्रतापसिंह ओड़ा, सरपंच नोजाराम, भीमसिंह वावदा, चिटूसिंह, किशनसिंह, भंवरलाल गर्ग, कांस्टेबल दिनेशकुमार, केशरीमल सहित कई लोगों ने होली खेली।

चारभुजा | कस्बे में फागोत्सव मेला शुक्रवार को शुरू हुआ। सैवंत्री रूपनारायण मंदिर में 16 दिन तक मेले की धूम रहेगी। भगवान चारभुजानाथ के बाल स्वरूप को चांदी की पालकी में शृंगारित कर झूला झुलाया। झूले के दोनों तरफ कतार में खड़े पुजारियों ने हरजस का गान किया। झूले के दर्शन शाम 4 बजे खुले, जो 6 बजे आरती के साथ बंद हुए। फागोत्सव में चित्तौड़गढ़ से ईनानी परिवार के लोग पैदल जत्थे के साथ प्रभु के दर्शन करने पहुंचे। रंग पंचमी पर मंदिर परिसर में ही ठाकुरजी संग होली खेलेंगे। कस्बे में होली का दहन चारभुजानाथ की संध्या आरती के बाद रात 8 बजे किया। संध्या आरती के बाद पुजारी चंग बजाते-गाते हुए होलिका थान पर पहुंचे, जहां पंडित भोलेश्वर पालीवाल ने मंदिर के चौवटिया, भंडारी व सरपंच नाथूलाल गुर्जर ने विधि-विधान से मंत्रोच्चार के साथ पूजन करवाया। धुलंडी पर ढूंढ़ोत्सव मनाया। कसार में धुलंडी पर 12 बजे तक खेलने के बाद सामूहिक भोजन हुआ।

भीम | कस्बे के मानारावजी का वास में बरतु, पाटिया, देवनारायण कॉलोनी सहित जगह जगहों पर होलिका दहन हुआ।

लावासरदारगढ़ | कस्बें में नाई मोहल्ला, जाट हथाई, माली हथाई, खटीक मोहल्ला, रेगर मोहल्ला, आदर्श कॉलोनी, शास्त्री कॉलोनी, किला मार्ग, फूटी बावड़ी, बामणिया दरवाजा सहित करीब एक दर्जन मोहल्लों में होलिका दहन किया।

देवगढ़ | नगर में मारू दरवाजा के पास होली दहन किया। इस दौरान होली के डंडे को रस्सी से बांधकर तोड़ते वक्त होली का डंडा टूटकर बिजली की लाइन पर गिर गया। लाइन में स्पार्किंग होने से बिजली बंद हो गई। करीब आधा घंटा बिजली सप्लाई बंद रही।

आमेट

आमेट

कुंवारिया

नाथद्वारा

चारभुजाजी

राजसमंद

कुंभलगढ़