Hindi News »Rajasthan »Nathdwara» चौरासी खंभ में विराजे द्वारकाधीश : द्वारकाधीश मंदिर में फागोत्सव

चौरासी खंभ में विराजे द्वारकाधीश : द्वारकाधीश मंदिर में फागोत्सव

चौरासी खंभ में विराजे द्वारकाधीश : द्वारकाधीश मंदिर में फागोत्सव के तहत बुधवार को चौरासी खंभ का मनोरथ हुआ। एक घंटे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 05:05 AM IST

चौरासी खंभ में विराजे द्वारकाधीश : द्वारकाधीश मंदिर में फागोत्सव
चौरासी खंभ में विराजे द्वारकाधीश : द्वारकाधीश मंदिर में फागोत्सव के तहत बुधवार को चौरासी खंभ का मनोरथ हुआ। एक घंटे तक चले दर्शन में श्रद्धालुओं की कतार रही। मनोरथ में मंदिर के रतन चौक में केले के 84 पौधों का बगीचा बनाया।

राल के अंतिम दर्शन : द्वारकाधीश मंदिर में पांच रंग की गुलाल से ठाकुरजी को होली खेलाई। शाम को भोग आरती के बाद कमल चौक में रसिया गान हुआ। शयन के दर्शनों में फागोत्सव में राल के आखिरी दर्शन हुए।

श्रीनाथजी मंदिर में जमा रसिया गान : श्रीनाथजी मंदिर मेंं बुधवार रात को रसिया गान खूब जमा। द्वारिकाधीश मंदिर में राजभोग दर्शन के दौरान ठाकुरजी को झूले में विराजित किया। दोपहर एक बजे राजभोग के दर्शन करीब एक घंटे तक चले।

आज से दो दिन उल्लास के

भास्कर न्यूज | नाथद्वारा

जिले के तीनों कृष्णधाम नाथद्वारा में श्रीनाथजी, कांकरोली में द्वारकाधीशजी और गढ़बोर में चारभुजानाथ के मंदिरों में होली और धुलंडी पर चंग, रसिया गान और अबीर-गुलाल का रंग छाएगा। होली दहन के साथ ही दशा माता की पूजा, डोलाेत्सव, गेर नृत्य की शुरुआत होगी। गणगौर को लेकर बालिकाएं सेवरा निकालेगी। होली का दहन गुरुवार को प्रदोष काल में शाम को होगा। श्रीनाथजी मंदिर की होली का दहन शाम 7.39 बजे के मुहूर्त में होगा। शुक्रवार को धुलंडी और शनिवार को मंदिर में डोलोत्सव मनाया जाएगा। होली पर श्रीनाथजी की हवेली में तिलकायत फाग खेलाएंगे। धुलंडी पर शुक्रवार को शहर में बादशाह की सवारी निकलेगी। गुर्जरपुरा मोहल्ले से शाम को आरती दर्शन के बाद सवारी मंदिर की परिक्रमा करेगी। सवारी में भक्तों को विशेष पकोड़े बांटे जाएंगे।

आज धवल वस्त्र में सजेंगे नंदनंदन : होली पर श्रीनाथजी प्रभु को धवल वस्त्र, पाग, उस पर मोरपंख चंद्रिका, मीना के आभरण धराकर शृंगारित किया जाएगा।

चारभुजानाथ गढ़बोर : धुलंडी से पंद्रह दिन तक फागोत्सव की धूम, झूले में विराजेंगे छोगाला छैल

चारभुजा. होली का दहन गुरुवार रात को 7 बजकर 39 मिनट से 8 बजकर 49 मिनट के मुहूर्त के बीच होगा। शाम को मंदिर में संध्या आरती के बाद देवस्थान के कर्मचारी, पुजारी, चोवटिया, भंडारियों के साथ चारभुजावासी होली चौक पर पूजन करने जाएंगे। शुक्रवार को धुलंडी से पंद्रह दिवसीय फागोत्सव मेले की शुरुआत हो जाएगी। सेवंत्री रूपनारायण मंदिर में होने वाले फाग महोत्सव मेले को लेकर देवस्थान के पुजारी, कर्मचारी तैयारी में व्यस्त रहे।

फागोत्सव में झूले के दर्शन होंगे : चारभुजानाथ मंदिर में फागोत्सव के तहत झूले के दर्शन शाम चार बजे से छह बजे तक होंगे। भक्तों को ठाकुरजी के संग गुलाल खेलाया जाएगा। चारभुजानाथ और सेवंत्री के रूपनारायण मंदिर में फागोत्सव के दर्शन का समय एक ही रहेगा। मंदिर में शुक्रवार रात से पंद्रह दिन तक गैर नृत्य होगा। गैर नृत्य संध्या आरती के बाद रात आठ बजे से साढ़े नौ बजे तक होगा।

नाथद्वारा . द्वितीय गृहनिधि विट्ठनाथजी मंदिर में और कल्याणराय महाराज ने वैष्णवों को फाग खेलाया। ठाकुरजी के बगीची में दर्शन करने उमड़े श्रद्धालु।

उडें़गे रंग-होगी तरंग, गाएंगे रसिया-बजेगी चंग

द्वारकाधीश मंदिर : शाही लवाजमे के साथ पहुंचेंगे होली दहन करने, एक दिन का फाग

राजसमंद. द्वारकाधीश मंदिर में गुरुवार को सूर्यास्त के बाद होली दहन होगा। होली पर संध्या आरती के दर्शन मंदिर अधिकारी की अगुवाई में मंदिर से सेवक, ग्वाल शाही लवाजमे के साथ कीर्तन कतरे हुए होली थड़ा पहुंचेंगे। इसके बाद शयन के दर्शन खुलेंगे। शुक्रवार को सभी दर्शनों का समय यथावत रहेगा। शनिवार को डोलोत्सव मनाया जाएगा। इसके तहत चार भोग में गुलाल उड़ाया जाएगा। सुबह सवा सात बजे मंगला के दर्शन होंगे। नौ बजे शृंगार, ग्वाल के दर्शन अनिश्चित होंगे। राजभोग के दर्शन साढ़े ग्यारह बजे होंगे। डोल के दर्शन में ठाकुरजी को झूले में विराजित किया जाएगा। डोलोत्सव पर पहले भोग के दर्शन दोपहर डेढ़ बजे होंगे। इसके बाद साढ़े तीन बजे डोलोत्सव के तहत अंतिम भोग के दर्शन होंगे। इसमें गुलाल उड़ाया जाएगा। यहां डोलोत्सव पर ठाकुरजी के फागोत्सव का समापन होगा।

होली पर दर्शन का समय यथावत रहेगा

श्रीनाथजी मंदिर होली पर दर्शन का समय आम दिनों की भांति रहेगा। सुबह 5 बजे मंगला के दर्शन खुलेंगे। 7 बजे शृंगार, 9.15 बजे ग्वाल, 11.30 बजे राजभोग, 3.30 बजे उत्थापन, 5.30 भोग आरती के दर्शन होंगे।

डोलोत्सव पर बदलेगा दर्शनों का समय : डोलोत्सव पर शनिवार को दर्शनों के समय में बदलाव रहेगा। सुबह मंगला झांकी के दर्शन 5 बजे होंगे। शृंगार, ग्वाल झांकी के दर्शन नहीं होंगे। राजभोग की चार झांकियों के दर्शन होंगे। पहले राजभोग के दर्शन दोपहर एक बजे होंगे। शाम 4 बजे राजभोग के दर्शन शाम 6 बजे तक होंगे। इसके बाद उत्थापन, भोग आरती व शयन के दर्शन होंगे। इस दिन श्रीजी प्रभु को इस दिन धवल वस्त्र, पाग धराकर अनूठा शृंगार अंगीकार करवाया जाएगा। डोल तिवारी में ध्रुव बारी के नीचे डोल बंधेगा। इसे आम्र मोर, मालती और विभिन्न फूलों से सजाएंगे। अधिवासन करने के बाद लालन प्रभु को डोल में विराजित करेंगे। तिलकायत की साक्षी में हवेली में अबीर-गुलाल उड़ाया जाएगा। हवेली परिसर में सजावट होगी।

यह रहेगी व्यवस्थाएं

अस्पताल : होली, धुलंडी पर आरके अस्पताल में मरीजों को चौबीस घंटे डॉक्टरों की राउंडवार ड्यूटी लगाई है। पीएमओ डॉ. सीएल डूंगरवाल ने बताया कि आपातकालीन सेवा के लिए ऑन कॉल डॉक्टर भी रहेंगे। एक एंबुलेंस कोतवाली थाना राजनगर में खड़ी रहेगी। जिले में 108 एंबुलेंस सेवा जारी रहेगी।

आग बुझाने के लिए जिले में नौ दमकल : राजसमंद नगर परिषद की पांच दमकल रहेगी। एक दमकल कोतवाली थाना राजनगर में खड़ी रहेगी। चार ऑन कॉल मौके पर पहुंचेंगी। आग लगने पर 101 व राजसमंद दमकल कार्यालय के 02952-221224 पर कॉल कर सकते हैं। आमेट, देवगढ़, नाथद्वारा नगर पालिका व दरीबा माइंस की भी दमकल को भी कॉल कर सकते हैं।

सख्ती : एएसपी मनीष त्रिपाठी ने बताया कि त्योहार पर शांति, सौहार्द के लिए हर जगह जाप्ता रहेगा। पुलिस के साथ ही एमबीसी, क्यूआरटी के जवान भी तैनात किए हैं। धुलंडी पर वाहन पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ सख्त अभियान चलाएंगे। विशेष टीम भी गठित की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Nathdwara News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: चौरासी खंभ में विराजे द्वारकाधीश : द्वारकाधीश मंदिर में फागोत्सव
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Nathdwara

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×