Hindi News »Rajasthan »Nawa» विधायक नहीं दे रहे 25% राशि, 382 में से 4 स्कूलों में ही खुल पाई कंप्यूटर लैब

विधायक नहीं दे रहे 25% राशि, 382 में से 4 स्कूलों में ही खुल पाई कंप्यूटर लैब

भास्कर संवाददाता | मेड़ता सिटी कंप्यूटर शिक्षा स्कूली स्तर पर शत-प्रतिशत अनिवार्य करने की मंशा के अनुरूप...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 03, 2018, 05:30 AM IST

भास्कर संवाददाता | मेड़ता सिटी

कंप्यूटर शिक्षा स्कूली स्तर पर शत-प्रतिशत अनिवार्य करने की मंशा के अनुरूप मुख्यमंत्री ने बजट भाषण में सीनियर सैकंडरी स्कूलों में कंप्यूटर लैब खोलने की घोषणा की। मगर उनकी ही पार्टी के विधायक इसके लिए अपने कोटे से 25 प्रतिशत राशि भी स्वीकृत नहीं कर रहे हैं। ऐसे में जिले की 378 सरकारी स्कूलों में कंप्यूटर लैब खोलने की सरकारी योजना साकार नहीं हो रही है। कंप्यूटर लैब की लागत का 75 प्रतिशत हिस्सा सरकार वहन करेगी। 25 प्रतिशत हिस्सा क्षेत्र के विधायकों को अपने कोटे से देना होगा। हालात यह हैं कि 382 सीनियर स्कूलों में से मात्र 4 स्कूलों में ही कंप्यूटर लैब खुल पाई है। 378 स्कूलों में कंप्यूटर लैब के लिए क्षेत्र के विधायक अभिशंसा पत्र नहीं लिख रहे हैं। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद के अधिकारी विधायक कोटे से 25 प्रतिशत राशि का स्वीकृति पत्र प्राप्त करन के लिए चक्कर लगा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बजट भाषण में प्रदेश की सीनियर सैकंडरी स्कूलों में कंप्यूटर शिक्षा के लिए लैब खोले जाने की घोषणा की। एक स्कूल में लैब खुलने पर उस पर कुल 3 लाख 30 हजार रुपए का खर्च आंका गया। सरकार ने व्यवस्था करते हुए कहा कि इस कुल राशि का 75 प्रतिशत हिस्सा सरकार वहन करेगी मगर शेष 25% राशि विधायक कोटे से खर्च की जाएगी। इसके लिए प्रत्येक विधायक को एक लैब के लिए अपने कोटे से 75 हजार रुपए स्वीकृत करने होंगे।

भास्कर एक्सक्लूसिव

राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद (रमसा) से जुड़े अधिकारी विधायकों से लगातार संपर्क कर उनसे अभिशंसा पत्र की मांग कर रहे हैं। फिलहाल क्षेत्र के विधायक केवल आश्वासन दे रहे हैं। अभी तक किसी ने भी अभिशंसा पत्र जारी नहीं किया है। रमसा के अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक रामदेव सिंह पूनिया, कार्यक्रम अधिकारी आईसीटी नवरतन भाटी तथा अहसान गौरी आदि जिले के विधायकों के यहां कंप्यूटर लैब के लिए 25 प्रतिशत राशि का अभिशंसा पत्र लेने के लिए चक्कर लगा रहे हैं। हालांकि इन अधिकारियों को विधायकों ने भरपूर आश्वासन भी दिया है। जानकारों के अनुसार नागौर विधायक हबीबुरर्हमान ने अपने क्षेत्र में 18 कंप्यूटर लैब के लिए, डेगाना विधायक अजय क्लिक ने 25 लैब के लिए, खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने 15 लैब के लिए तथा नावां विधायक विजय सिंह चौधरी ने 15 लैब के लिए अभिशंसा जारी करने का आश्वासन दिया है। फिलहाल किसी का अभिशंसा पत्र रमसा को प्राप्त नहीं हुआ है।

कंप्यूटर लैब रहित स्कूलों की संख्या

विधानसभा क्षेत्र स्कूलों की सं.

परबतसर 35

नावां 37

डीडवाना 41

डेगाना 43

नागौर 30

मेड़ता 39

मकराना 29

खींवसर 46

लाडनूं 32

जायल 46

382 विद्यालयों में से 4 स्कूलों में खुली लैब

जिले की कंप्यूटर लैब रहित 382 सीनियर स्कूलों में से मात्र 4 स्कूलों में ही लैब खुल पाई है। मूंडवा ब्लॉक में राउमावि गोठड़ा, मौलासर ब्लॉक में राउमावि फोगड़ी, खींवसर ब्लॉक में राउमावि लालावास तथा कुचामन ब्लॉक में राउमावि, मूंडघसोई में कम्प्यूटर लैब खुल गई है। शेष 378 स्कूलों के लिए अभी तक विधायकों ने अनुशंसा नहीं की है।

विधायकों से अभिशंषा पत्र लेने के लिए लगा रहे चक्कर

झंुझुनूं, सीकर व जयपुर में शत-प्रतिशत स्कूलों में खुल गई लैब, हम सबसे निचले पायदान पर

कंप्यूटर लैब रहित स्कूलों में नागौर अंतिम पायदान पर है। झुंझुनूं, सीकर, जयपुर इन 3 जिलों में सभी सरकारी स्कूलों में कंप्यूटर लैब खुल चुकी हैं।

लैब में अन्य संसाधन भी देगी सरकार: इस योजना में यह प्रावधान भी किया है कि जैसे ही विधायक अपने कोटे से 25 प्रतिशत राशि कंप्यूटर लैब के लिए स्वीकृत करेंगे तो उसी समय सरकार भी लैब के लिए अन्य संसाधन जुटाने के प्रयास शुरू कर देगी। प्रावधानों के तहत कंप्यूटर लैब में फर्नीचर, लाइट फिटिंग, इन्वर्टर व प्रिंटर पेटे सरकार से अलग से बजट प्रदान करेगी।

मेरे पास नहीं पहुंचा कोई भी अधिकारी

मुख्यमंत्री बजट घोषणा में कंप्यूटर लैब खोले जाने की योजना लागू हुई थी। मैंने स्कूलों में फर्नीचर व बिजली उपकरण भी दिए है। कंप्यूटर लैब खोलने को लेकर किसी भी अधिकारी ने अब तक संपर्क नहीं किया है। अगर लैब के लिए कोई अभिशंसा चाहेगा तो जरूर जारी करूंगी। हम भी चाहते है कि ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को कंप्यूटर शिक्षा मिलें। मंजू बाघमार, विधायक, जायल

कंप्यूटर शिक्षा बच्चों का हक

विधायकों से संपर्क कर रहे हैं, प्रयास है जारी

सीएम ने बजट भाषण में कंप्यूटर रहित स्कूलों में लैब खोलने की घोषणा की थी। इसमें 75% राशि सरकार वहन करेगी व शेष 25 फीसदी राशि जनप्रतिनिधियों यथा विधायक व सांसद से लेनी है। हमने सभी विधायकों को इस बारे में अवगत कराया है फिलहाल 382 स्कूलों में से 4 में ही लैब खुल पाई। शेष 378 स्कूलों के लिए हम विधायकों से लगातार संपर्क कर रहे हैं। उम्मीद है कि विधायकों की अभिशंसा मिलते ही सभी स्कूलों में कंप्यूटर लैब खुल जाएगी। रामदेव सिंह पूनिया, एडीपीसी रमसा, नागौर

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Nawa News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: विधायक नहीं दे रहे 25% राशि, 382 में से 4 स्कूलों में ही खुल पाई कंप्यूटर लैब
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Nawa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×