Hindi News »Rajasthan »Nawa» रामसिया के नवनिर्मित रामदेव मंदिर में मूर्ति स्थापना, तोषिणा में 51 जोड़ों ने दी आहुति

रामसिया के नवनिर्मित रामदेव मंदिर में मूर्ति स्थापना, तोषिणा में 51 जोड़ों ने दी आहुति

हरनावां| रामसिया गांव में शनिवार को भामाशाह लाहोटी परिवार द्वारा अपने पिता स्व. सीताराम लाहोटी की स्मृति में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 13, 2018, 05:45 AM IST

रामसिया के नवनिर्मित रामदेव मंदिर में मूर्ति स्थापना, तोषिणा में 51 जोड़ों ने दी आहुति
हरनावां| रामसिया गांव में शनिवार को भामाशाह लाहोटी परिवार द्वारा अपने पिता स्व. सीताराम लाहोटी की स्मृति में निर्मित करवाए गए बाबा रामदेव मंदिर में पंडित शिवप्रसाद गौड़ ने सुबह वैदिक रिती रिवाज के अनुसार हवन व पूजा करवा कर बाबा रामदेव सहित रामदरबार, राधाकृष्ण एवं गणपति की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा करवाई गई। भामाशाह राधेश्याम, रामअवतार, रामस्वरूप लाहोटी रामसिया ने अपने पैतृक गांव में रामदेव मंदिर का निर्माण करवा कर 3 दिवसीय पूजा पाठ करवाकर मूर्ति स्थापित करवाई। ग्रामीणों ने लाहोटी परिवार का सम्मान किया। इस मौके पर सत्यनारायण गौड़, गेहड़ा कला सरपंच महेन्द्र दान चारण, रामसिया सरपंच चैनाराम, पूर्व उप प्रधान कल्याणसिंह, गुमानसिंह, ताराचंद, नंदलाल लखारा, चुनाराम कुवाड़, शिवकरण खन्दोलिया, कमल गौड़, सीताराम लखारा, राकेश गौड़ आदि मौजूद थे।

केशरपुरा में श्याम बाबा मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा

लादडिय़ा. केशरपुरा में 51 जोड़ों ने दी हवन में आहुति।

लादडिय़ा| तोषीणा ग्राम पंचायत के केशरपुरा में शनिवार को श्याम बाबा की मूर्ति स्थापना की गई। तेजाराम फगोडिय़ा ने बताया कि इस अवसर पर रात्रि जागरण का आयोजन किया एवं सुबह हवन करवाया गया। जिसमें 51 जोड़ो ने हवन में आहुति दी एवं हवन संपूर्ण होने के बाद मूर्ति स्थापना की गई। कार्यक्रम के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। इससे पहले आयोजन को लेकर अलग-अलग जिम्मेदारी दी गईं। इस मौके पर परसाराम जड़ावटा, चुनाराम, मदनाराम चांदपुरा, शेराराम कचोलिया, रामूराम, शिवदानाराम, कर्नल नंदकिशोर ढाका, उमाराम डेरू, लालाराम, खिवाराम सहित कार्यकर्ता मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nawa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×