• Hindi News
  • Rajasthan
  • Neem Ka Thana
  • डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर व स्वर्णिम चतुर्भुज रेल गलियारे के लिए तेजी से होगा काम, अितरिक्त टैक्स
--Advertisement--

डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर व स्वर्णिम चतुर्भुज रेल गलियारे के लिए तेजी से होगा काम, अितरिक्त टैक्स से निराशा

केंद्रीय बजट 2018 में रेल परिवहन की दिशा व दशा में अमूलचूल परिवर्तन के प्रयासों में तेजी लाने के संकेत दिए हैं। इसके...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:05 AM IST
डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर व स्वर्णिम चतुर्भुज रेल गलियारे के लिए तेजी से होगा काम, अितरिक्त टैक्स
केंद्रीय बजट 2018 में रेल परिवहन की दिशा व दशा में अमूलचूल परिवर्तन के प्रयासों में तेजी लाने के संकेत दिए हैं। इसके लिए दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-कोलकाता के बीच बन रहे स्वर्णिम चतुर्भुज रेल गलियारे के काम में तेजी लाने का वादा किया गया है। डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर परियोजना के काम में पिछले एक साल से काफी तेजी आई है। वर्ष 2019 तक डीएफसी तैयार हो जाएगा।

सीकर जिला उद्योग संघ सदस्य एवं नीमकाथाना मिनरल संघ संरक्षक दौलतराम गोयल ने बताया कि ईस्टर्न व वेस्टर्न कॉरिडोर के लिए बजट में तेजी लाने के संकेत मिले हैं। इससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। उद्योग जगत कोे फायदा होगा, लेकिन इंकमटैक्स स्लेब नहीं बढ़ाने, एक्साइज ड्यूटी बढ़ाने जैसे फैसलों से बेरोजगारी बढ़ेगी। गोयल ने बताया कि सीकर जिले में औद्योगिक विकास के लिए रेवाड़ी-फुलेरा के बीच कंटेनर डिपो बनाने की मांग उठाई थी। डीएफसीसी का कंटेनर डिपो बनने से सीकर-झुंझुनूं जिले में औद्योगिक विकास में तेजी आती। आम बजट से लोगों को राहत की उम्मीद थी, लेकिन अतिरिक्त टैक्स के बोझ से निराशा हुई है। कस्टम डूयटी बढ़ाने से आम उपयोग की वस्तुओं के दाम बढ़ेंगे। इससे मध्यम वर्ग प्रभावित होगा। आम बजट के साथ पेश रेल बजट से नीमकाथाना, श्रीमाधोपुर व रींगस के लोगों को विशेष उम्मीद थी, लेकिन नई रेल नहीं मिलने से निराशा हुई।

दौलतराम गोयल

इंडस्ट्रीज विकास के लिए योजना नहींं, टैक्स स्लेब में छूट नहीं, बेरोजगारी बढ़ेगी

नीमकाथाना से होकर निकलती विकास पर नई लाइन। डीएफसीसी रेल परियोजना का तैयार ट्रैक।

इलेक्ट्रिफिकेशन का काम पूरा, इस साल चलेगी ट्रेन-रेवाड़ी

फुलेरा के बीच मौजूदा ब्राॅडगेज ट्रैक के इलेक्ट्रिफिकेशन का काम अधिकांश रूप से पूरा हो गया है। इस साल इस पर ट्रेन चलने लगेगी। मिनरल संघ अध्यक्ष दौलतराम गोयल ने बताया कि रेल सेवाओं में विस्तार से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। रेलवे सलाहकार समिति सदस्यों ने रूट पर रेल सेवाओं में विस्तार की मांग पर सांसद व रेल मंत्री को भी ज्ञापन दिए थे। बजट से लोगों को उम्मीद थी कि ट्रैक पर लंबी दूरी की रेल मिलेगी। नई ट्रेन नहीं मिलने से लोगों को निराशा हुई है।

X
डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर व स्वर्णिम चतुर्भुज रेल गलियारे के लिए तेजी से होगा काम, अितरिक्त टैक्स
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..