• Home
  • Rajasthan News
  • Neem Ka Thana News
  • अजीतगढ़ में पेयजल संकट, ग्रामीणों ने जलदाय कार्यालय पर किया प्रदर्शन
--Advertisement--

अजीतगढ़ में पेयजल संकट, ग्रामीणों ने जलदाय कार्यालय पर किया प्रदर्शन

कस्बे के नीमकाथाना रोड स्थित बसंत विहार एवं अन्य कॉलोनियों में इन दिनों पेयजलापूर्ति कम होने से गुस्साए लोगों ने...

Danik Bhaskar | Feb 01, 2018, 02:25 PM IST
कस्बे के नीमकाथाना रोड स्थित बसंत विहार एवं अन्य कॉलोनियों में इन दिनों पेयजलापूर्ति कम होने से गुस्साए लोगों ने बुधवार को वार्ड पंच गुलबस्या बानो, अल्पसंख्यक नेता एजाज भाटी के नेतृत्व में जलदाय विभाग कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। इसके बाद जेईएन नूतन प्रकाश सैनी ने मौके पर पहुंचकर कार्मिकों को व्यवस्थित जलापूर्ति करवाने के निर्देश देकर मामला शांत करवाया। जैतून बानो, रूकसाना, मैमूना, सुशीला, बिदामी, रघुवीर, कैलाश ज्वाला, दीपक चौहान, महबूब लुहार, अब्दुल तेली समेत अनेक लोगों ने बताया कि उनके नलों में कम दबाव के कारण पानी आपूर्ति नहीं हो रहा है। विभाग को अनेक बार सूचित करने के बावजूद कोई सुनवाई नहीं हो रही है। बुधवार को पेयजल आपूर्ति में सुधार नहीं होने से गुस्साए लोग जलदाय कार्यालय पहुंचकर विभाग एवं कार्मिक के खिलाफ नारेबाजी करके धरने की चेतावनी दी। इसके बाद जेईएन नूतन प्रकाश सैनी कॉलोनी में पहुंच कर वस्तुस्थिति की जानकारी लेकर तत्काल लीकेजों को दुरुस्त करवाने एवं आपूर्ति को व्यवस्थित करवाने का आश्वासन देकर मामला शांत करवाया। कॉलोनी में आपूर्ति होने के बाद ही लोग कार्यालय से लौटे।

पलसाना के वाशिंदों ने दी आंदोलन की चेतावनी

पलसाना| कस्बे के माकपा कार्यकर्ताओं के द्वारा पलसाना में बढ़ते जल संकट के निवारण के लिए अधिशासी अभियंता के नाम जलदाय विभाग कार्यालय पलसाना में ज्ञापन दिया। श्यामलाल राव, प्रकाश अग्रवाल, पूर्व सरपंच भगवान सहाय जाखड़,सोनू अग्रवाल, सुवालाल, राजेन्द्र कादिया आदि ने ज्ञापन देकर पेयजल संकट के समाधान कराने की मांग की। ज्ञापन में बताया कि दो माह पूर्व कार्यकर्ताओं ने जलदाय विभाग का घेराव किया था। तब एक माह के दौरान अडिम्बा जोहड़ा शिश्यूं से 4 किमी पाइपलाइन डालकर पेयजल व्यवस्था में सुधार कराने, कस्बे में वर्षों पूर्व डाली गई पाइपलाइन बदलने, नवीन ट्यूबवैल खुदवाने का समझौता हुआ था। मगर दो माह बीत जाने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हुआ।

अजीतगढ़

पलसाना