Hindi News »Rajasthan »Neem Ka Thana» जरूरतमंद लोग सीकर से ब्लड लाते हैं मरीजों की सांसंे अटकी रहती हंै

जरूरतमंद लोग सीकर से ब्लड लाते हैं मरीजों की सांसंे अटकी रहती हंै

कपिल अस्पताल में मरीजों को पर्याप्त ब्लड नहीं मिलने से परेशानी उठानी पड़ रही है।मजबूरी में जरुरतमंद लोग 80 किमी दूर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 05:30 AM IST

कपिल अस्पताल में मरीजों को पर्याप्त ब्लड नहीं मिलने से परेशानी उठानी पड़ रही है।मजबूरी में जरुरतमंद लोग 80 किमी दूर सीकर से ब्लड लाते है। इससे मरीजों की सांसें अटकी रहती है।

मामला मुख्यमंत्री के जन संवाद कार्यक्रम में भी उठा था। सीएम ने कपिल अस्पताल में 50 यूनिट ब्लड स्टोरेज की व्यवस्था के निर्देश दिए थे। लेकिन अभी तक मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई। इससे लोगों में रोष है। दरअसल कपिल अस्पताल में 65 यूनिट तक ब्लड स्टोरेज की व्यवस्था है,लेकिन यहां केवल 5-7 यूनिट ब्लड ही उपलब्ध रहता है। यह ब्लड भी अस्पताल में भर्ती डिलीवरी वाली महिलाओं के लिए ही सुरक्षित रखा जाता है। यहां के निजी अस्पतालों में भर्ती मरीज तो सीकर से ही ब्लड लाते है।

यह है बड़ी समस्या

कपिल अस्पताल प्रशासन कभी रक्त संग्रहण शिविर नहीं लगाता। ऐसे में यहां पर्याप्त ब्लड नहींं मिलता। कपिल अस्पताल में कल्याण अस्पताल से ब्लड लाते है। लेकिन वहां केवल 5-7 यूनिट दिया जाता है। मामले में कपिल अस्पताल के ब्लड स्टोरेज इंचार्ज अम्मी लाल ने बताया कि यहां 65 यूनिट तक ब्लड रखा जा सकता है। लेकिन अधिक ब्लड उपलब्ध नही होता है। इंचार्ज बताते है कि अस्पताल में ब्लड बैंक होने से सभी को आसानी से ब्लड मिल सकता है।

हनुमान सेवा समिति ब्लड देने को तैयार

रक्तदान में प्रदेश स्तर पर सम्मानित हनुमान सेवा समिति कपिल अस्पताल को ब्लड देने को तैयार है। लेकिन अस्पताल प्रशासन यहा शिविर लगाने की व्यवस्था करें। समिति के मुकेश नाड ने बताया की लोग ब्लड के लिए भटक रहें है। सीएम के जन संवाद कार्यक्रम में भी समस्या रखी। इस संबंध में सीएमएचओ अजय चौधरी का कहना है की कपिल अस्पताल में 50 यूनिट ब्लड स्टोरेज की व्यवस्था जल्द शुरू की जाएगी। यहां एक और फ्रीज के लिए प्रपोजल भेजा है। मामले में सीएम ने निर्देश दिए थे।

पलसाना सीएचसी में दंत रोगियों की सुविधा नहीं

पलसाना| कस्बे के राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय में सुविधाओं के अभाव से दंत रोगियों को इलाज नहीं मिल रहा है । इससे मरीजों को निराश होकर लौटने को विवश होना पड़ रहा है । डेंटल चिकित्सक अभिषेक सिंह ने बताया की चिकित्सालय में करीब 400 का आउटडोर है , जहां करीब 50 मरीज प्रतिदिन डेंटल के रोगी उपचार के लिए चिकित्सालय आते हैं। लेकिन डेंटल चेयर के अभाव में डेंटल के मरीजों को पर्याप्त उपचार नहीं मिल रहा है। परेशान होकर मरीजों को सीकर जाना पड़ रहा है । संबंधित अधिकारियों को अवगत कराया जाने के बावजूद भी समस्या यथावत बनी हुई है । इससे रोगियों को सीकर जाने को विवश होना पड़ रहा है। इस संबंध में चिकित्सा अधिकारी प्रभारी डॉक्टर प्रभु दयाल बराला ने बताया की डेंटल चेयर के लिए उच्चाधिकारियों को अनेक बार अवगत कराया जा चुका है। विभाग को भी अवगत कराया गया हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Neem ka thana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×