Hindi News »Rajasthan »Neem Ka Thana» भीष्म पितामह व श्रीकृष्ण के संवाद हुए

भीष्म पितामह व श्रीकृष्ण के संवाद हुए

अजीतगढ़| कस्बे के श्रीराधा कानजी मंदिर में हो रही संगीतमय भागवत कथा के दूसरे दिन गुरुवार को भीष्म पितामह एवं कृष्ण...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 06:05 AM IST

  • भीष्म पितामह व श्रीकृष्ण के संवाद हुए
    +1और स्लाइड देखें
    अजीतगढ़| कस्बे के श्रीराधा कानजी मंदिर में हो रही संगीतमय भागवत कथा के दूसरे दिन गुरुवार को भीष्म पितामह एवं कृष्ण के संवाद की कथा वाचन किया गया। कथा में आसपास के बड़ी संख्या में श्रोता पहुंच कर कथा का आनंद ले रहे हैं। कथा वाचक पं. जुगलकिशोर जोशी ने कहा कि पितामह एवं कृष्ण के मध्य संवाद में पितामह ने कहा कि जब प्राण तन से जाए तो गोविंद मेरे समक्ष रहना। कथावाचक ने कहा कि जो व्यक्ति भगवान की शरण में आकर ईश्वरीय भक्ति के अनुसार कर्म करता है, उसे किसी अन्य की शरण में जाने की आवश्यकता नहीं है। यजमान फूलचंद सैनी, रमेशचंद्र करीरीवाला, कार्यक्रम संयोजक नरेन्द्र बावलिया, पुजारी राजकुमार शर्मा, जीएल टेलर आदि थे।

    नानी बाई को मायरा आज से

    नेछवा| कस्बे के मुख्य बाजार में नानी बाई काे मायराे कथा का शुभारंभ शुक्रवार से होगा। इससे पहले सुबह सवा आठ बजे लक्ष्मीनाथ मंदिर से कलश यात्रा निकाली जाएगी। कथा का समय शाम सात से रात्रि 10 बजे तक होगा। गुरुवार को कथा के लिए बाजार में पांडाल लगाने का काम जारी था।

    धर्म

    अजीतगढ़ में भागवत कथा के दूसरे दिन उमड़े श्रोता

    अजीतगढ़. श्रीराधा कानजी मंदिर में भागवत कथा के दूसरे दिन उपस्थित श्रोता।

    भागवत कथा के शुभारंभ पर कलश यात्रा आज निकलेगी

    नीमकाथाना| आनंद मोदी चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा शुक्रवार से यहां छावनी स्थित अंतरिक्ष होटल एंड रिसोर्ट में भागवत कथा शुरू होगी। शुभारंभ पर सुबह सात बजे 251 कलशों की यात्रा निकाली जाएगी जो संतोषी माता मंदिर से रवाना होकर कथा स्थल पहुंचेगी। कथा आयोजन समिति अध्यक्ष अंतरिक्ष मोदी ने बताया कि व्यासपीठ से पूज्य महाराज पुंडरीक गोस्वामी कथा वाचन करेंगे। कथा दोपहर तीन बजे शाम सात बजे तक होगी। उसके बाद प्रतिदिन प्रसादी कार्यक्रम होगा। कथा 24 मई तक की जाएगी।

    सुरेरा में 11 दिवसीय मारुति पंचकुंडात्मक यज्ञ आज से

    दांतारामगढ़| श्री पंचमुखी हनुमानजी धाम सुरेरा में 11 दिवसीय मारुति पंचकुंडात्मक यज्ञ 18 से होगा। अनिल जैन ने बताया कि सीतारामदास बरड़ा धाम के सानिध्य में होने वाले यज्ञ मेंं 18 मई को कलश यात्रा निकाली जाएगी। वहीं अभिषेक व ब्राहाणादि वरण का कार्यक्रम होगा। 19 मई को गणपति पूजा, हनुमान मंत्र व सुंदरकांड होंगे। 20 मई को देव पूजन, व सुंदर कांड होंगे। 22 मई को देव व कुंड पूजन, अग्नि स्थापना व हवन होगा । वहीं 28 मई को पूर्णाहुति व प्रसाद वितरण का कार्यक्रम होगा ।

  • भीष्म पितामह व श्रीकृष्ण के संवाद हुए
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Neem ka thana

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×