जयपुर

--Advertisement--

वर्ल्ड क्लास के लिए आरयू व सुखाड़िया यूनिवर्सिटी का दावा पेश करेगी राज्य सरकार

केंद्र ने 10 - 10 सरकारी और िनजी िववि. को वर्ल्ड क्लास का दर्जा देने का निर्णय किया है।

Dainik Bhaskar

Nov 15, 2017, 07:52 AM IST
claim to world class university
जयपुर. केंद्र ने 10 - 10 सरकारी और िनजी िववि. को वर्ल्ड क्लास का दर्जा देने का निर्णय किया है। राज्य सरकार ने राजस्थान यूनिवर्सिटी और मोहनलाल सुखािड़या यूनिवर्सिटी को वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी का दर्जा दिलाने के लिए एमएचआरडी में दावा करने का निर्णय लिया है। विश्वविद्यालयों के माध्यम से 20 नवंबर तक ये दावेदारी करा दी जाएगी। पिछले दिनों नई दिल्ली में रूसा के अंतर्गत हुई बैठक में इस दिशा में काम भी शुरु हुआ है। उधर प्राइवेट विश्वविद्यालयों में प्रदेश के बिट्स पिलानी और मणिपाल यूनिवर्सिटी भी वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी के लिए दावा रखेगी।
नियम राजस्थान यूनिवर्सिटी और मोहनलाल सुखाड़िया यूनिवर्सिटी लगभग सभी मापदंडों पर खरे हैं, लेकिन वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी के दर्जे के लिए 80 प्रतिशत टीचिंग व नॉन टीचिंग स्टाफ की अनिवार्यता का नियम है।
लेकिन हमारे इन विश्वविद्यालयों में 50 से 60 प्रतिशत ही टीचिंग व नॉन टीचिंग स्टाफ है। इस वजह से दोनों विश्वविद्यालय वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी के दर्जे की दौड़ से बाहर हो सकते हैं।
वर्ल्ड क्लास का फायदा क्या
पहली किश्त में ही 500 करोड़ रुपए मिलेंगे

वर्ल्ड क्लास यूनिवर्सिटी का दर्जा अगर हमारे किसी भी एक विश्वविद्यालयों को मिल गया तो केंद्र से पहली किश्त की सेंक्शन में कम से कम 500 करोड़ रुपए मिलेंगे। इसके बाद विभिन्न मदों में रुपए मिलने से लेकर कई फायदे मिलेंगे।
राज्य सरकार विवि. का पक्ष मजबूती से रख रही है। इन्हें पूरी मदद कर रही हैं। भर्तियों के लिए फाइनेंशियल मदद की जरूरत पड़ी तो और परमिशन दिलवा देंगे। उम्मीद है कि सबकुछ अच्छा होगा। -किरण माहेश्वरी उच्च शिक्षा मंत्री
X
claim to world class university
Click to listen..