--Advertisement--

लड़की से छेड़छाड़ को लेकर दो समुदायों में झगड़ा, पथराव के बाद 5 गिरफ्तार

दो पक्षाें में आपस में झगड़ा हो गया और झगड़े में जमकर दोनों समुदायों में जमकर पथराव हुआ।

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 05:17 AM IST

करौली. जिला मुख्यालय के चटीकना मोहल्ले में एक युवती के साथ छेड़छाड़ के मामले को लेकर दो पक्षाें में आपस में झगड़ा हो गया और झगड़े में जमकर दोनों समुदायों में जमकर पथराव हुआ। मौके पर पहुंची कोतवाली थाना पुलिस ने मामले को शांत कराया और दोनों पक्षों के दो घायलाें को सामान्य चिकित्सालय में भर्ती करा मौके से पांच लोगों को शांति भंग करने के मामले में गिरफ्तार किया है।

वहीं झगड़े के बाद चटीकना मोहल्ले को पुलिस का छावनी में तब्दील कर दिया गया तो संदिग्ध स्थानों पर भी भारी मात्रा में पुलिस का जाब्ता तैनात किया गया है। अस्पताल चौकी प्रभारी रामासिंह एवं कांस्टेबल धारा सिंह ने चटीकना निवासी दिलीप पुत्र लक्ष्मण शर्मा के दर्ज पर्चाबयानों के आधार पर बताया कि वह शुक्रवार सुबह मोती पैलेस से अपने घर चटकीना आ रहा था। वह चटीकना पहुंचकर अपनी दोनों भांजियाें को उनके घर छोड़ने जा रहा था। तभी नासिर, जियाउद्दीन सहित कुछ लोगों ने युवती पर फब्तियां कसते हुए छेड़छाड की। इस पर दिलीप शर्मा ने इसका विरोध किया तो उन लोगों के साथ 10-15 अन्य लोगों ने दिलीप के लाठी, चैन आदि के साथ मारपीट शुरु कर दी। जिससे दिलीप घायल हो गया। जिसे सामान्य चिकित्सालय में भर्ती कराया गया।

एक-दूसरे पर जमकर फेंके पत्थर
दोनों पक्षों में हुई कहासुनी व झगड़े में दोनों समुदायों में जमकर पथराव हो गया। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर जमकर पथर दागे। सूचना पर चौकी प्रभाारी विजय सिंह छोंकर मौके पर पहुंचे वहीं कुछ देर बात ही कोतवाल देवेन्द्र जाखड़ भी मौके पर पहुंच गए और मामले को शांत कराया। इधर दो समुदायों में झगड़े की सूचना लगते ही चटीकना मौहल्ले में भारी पुलिस जाप्ता तैनात कर दिया गया। वहीं शहर के कई मुख्य चौराहों एवं संदिग्ध स्थानों पर पुलिस बल तैनात किया गया है। झगड़े की सूचना के बाद पुलिस ने मौके से नफीस उर्फ भूरा, शानू, आसिफ, नासिर, जियाउद्दीन को शांति भंग करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया।

पहले नाई की दुकान पर मारपीट
वहीं दूसरी ओर रुखसाना पत्नी साबुद्दीन ने बताया कि उसका बेटा जियाउद्दीन अपनी दोनों छोटी बेटियों की कटिंग कराने के लिए नाई की दुकान पर गया हुwआ था। जहां पर दिलीप शर्मा ने उसे देखने लगा। जब जियाउद्दीन ने इसका कारण पूछा तो दिलीप व जियाउद्दीन में कहासूनी हो गई और दिलीप व उसके अन्य 5-6 साथियों ने मारपीट शुरु कर दी। जैसे-तैसे उसका बेटा घर पहुंचा तो सभी लोग घर पर आ गए और उसके बेटे के साथ उसकी भी मारपीट की। जिसमें वह घायल हो गई और उसे सामान्य चिकित्सालय करौली में भर्ती कराया गया।