--Advertisement--

सांड से मौत मामले में हाईकोर्ट ने कहा- मुआवजा दोषी अफसरों से क्यों न वसूला जाए?

जयपुर सांड के सींग मारने से अर्जेंटीना के पर्यटक जुआन की मौत के मामले में हाईकोर्ट।

Danik Bhaskar | Nov 23, 2017, 06:41 AM IST

जयपुर. जयपुर के चारदीवारी इलाके में सांड के सींग मारने से अर्जेंटीना के पर्यटक जुआन की मौत के मामले में हाईकोर्ट ने स्वप्रेरित प्रसंज्ञान लिया है। न्यायाधीश एम.एन. भंडारी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जेडीए व नगर निगम को नोटिस जारी कर पूछा है कि क्यों नहीं विदेशी पर्यटक की मौत का मुआवजा इस मामले में दोषी एजेंसी या जिम्मेदार अफसरों से वसूला जाए।

कोर्ट ने कहा कि नगर निगम लोगों से विकास के नाम पर यूडी टैक्स वसूलता है और जेडीए भी कॉलोनियों में सड़कों के लिए विकास शुल्क लेता है, लेकिन दोनों ही शहर के लोगों को मूलभूत सुविधाएं तक भी मुहैया नहीं करा पा रहे। जेडीए की कॉलोनियों में सड़कें ही नहीं हैं, जहां हैं, वहां हालात खराब हैं। एक ओर शहर को स्मार्ट सिटी बनाने की बात कही जा रही है, लेकिन शहर में कचरा फैला हुआ है, जिससे शहर की छवि देशभर में खराब हो रही है।

अदालत ने शहर में घूम रहे आवारा पशुओं गाय, सांड, बंदर, कुत्तों से लोगों को हो रही परेशानी और शहर की टूटी सड़कों व गड्ढों के संबंध में दोनों एजेंसियों से 30 नवंबर तक शपथ पत्र पेश करने को भी कहा है। मामले में सहयोग के लिए अधिवक्ता अनंत कासलीवाल को न्याय मित्र नियुक्त किया है।

अदालत ने दैनिक भास्कर सहित अन्य अखबारों की खबरों के आधार पर स्वप्रेरित प्रसंज्ञान लिया।