--Advertisement--

मरने से पहले पत्नी से फोन पर की ये बात, किले पर ऐसे लटकी मिली लाश

गुरूवार को बच्चों को छोड़ने निकले 40 साल के चेतन सैनी की लाश नाहरगढ़ किले की दीवार पर शुक्रवार को रस्सी से लटकी मिली।

Dainik Bhaskar

Nov 25, 2017, 04:38 AM IST
चेतन शास्त्री नगर का रहने वाला था। चेतन शास्त्री नगर का रहने वाला था।

जयपुर. गुरूवार को बच्चों को छोड़ने निकले 40 साल के चेतन सैनी की लाश नाहरगढ़ किले की दीवार पर शुक्रवार को रस्सी से लटकी मिली। घटनास्थल के पास करीब 20-22 पत्थरों पर कोयले से पद्मावती फिल्म से जुड़े विवादित बयान लिखे हुए थे। उधर, मरने से पहले शाम 5:30 बजे चेतन ने अपनी पत्नी नीतू को फोन कर कहा था कि वह रात 9 बजे तक घर पहुंच जाएगा, खाना बना लेना , लेकिन वह रात को घर नहीं पहुंचा। मौके के आलामात देखकर कोई भी इसे सुसाइड नहीं बता रहा...

चेतन के दाएं पैर के जूते में 10 बजे चाय के चार कप...12 बजे पत्थर कैसे

1. सवाल उठता कि आत्महत्या करनी है तो पत्थरों पर पद्मावती फिल्म को लेकर व चेतन तांत्रिक के बारे में भला कोई क्यों लिखेगा?

2. पुलिस ने चेतन के मोबाइल की जांच की तो पता चला करीब शाम सवा पांच बजे उसने उसी जगह से सेल्फी ली है। सेल्फी में वह अकेला है। उसके चेहरे पर किसी तरह का तनाव भी नजर नहीं आता।
3. पुलिस को सूचना मिलने के बाद लाश करीब 1 बजे बुर्ज से हटाई। छह घंटे तक एफएसएल से लेकर आला अफसर ने हर एविडेंस को देखा, मगर यह तय नहीं हो पाया कि हत्या है या आत्महत्या। हालांकि पुलिस ने अभी तक सामान्य मर्ग मानकर 174 में कार्रवाई की है।

4. सर्दी का समय है। पहाड़ी पर शाम 6 बजे इन दिनों रात हो रही है। शाम के समय बुर्ज पर घूमने और भी सैलानी आते हैं। युवकों की टोलियों यहां पतंगबाजी करती रहती है। रात में यहां घुप्प अंधेरा होता है। फिर बुर्ज के चौक में आपत्तिजनक बातें चेतन ने कब लिखीं...दिन ढलने से पहले कोई और भी इन बातों को लिखते देख सकता था और रात के अंधेरे में कोयले से चौक के खुरदरे फर्श पर लिखना कुछ अजीब लगता है।

- मोबाइल की टॉर्च जलाकर लिख सकता है...मगर कितनी बातें, कब तक लिखता? उसने नहीं लिखी तो किसने लिखी? ये सवाल पूरे शहर के जहन में गूंज रहे हैं। हालांकि पुलिस फुटेज खंगाल रही है कि चेतन किसके साथ यहां पहुंचा।

मेरे पति आत्महत्या नहीं कर सकते : नीतू
- मृतक की पत्नी नीतू ने बताया कि मेरे पास तो गुरुवार शाम को फोन आया था।इसके बाद वापस फोन किया तो रिसीव ने किया।

- वे कभी परेशान भी नहीं दिख रहे थे। आत्महत्या नहीं कर सकते है। इसकी जांच हाेनी चाहिए।

सोशल मीडिया से पता चला : रामरत्न

- मृतक के भाई का कहना है कि उसने चेतन को रातभर फोन किया। लेकिन उसने रिसीव नहीं किया।

- अगले दिन सोशल मीडिया पर सुबह 10 बजे करीब एक वीडियो आया तो उसको देखने के बाद मुझे भाई का शव होने का शक हुआ।

- इसके बाद मैं नाहरगढ़ किले पर जाने लगा तो पुलिस का फोन आ गया। तब यकीन हो गया।

-

चेतन का परिवार और पड़ोस सकते में
- रिश्तेदारों को पता चला तो एक-एक करके चेतन के घर पहुंचने लगे। चेतन चार भाईयों में सबसे बड़ा भाई था और घर में ही ज्वैलरी का काम करता था।

- चेतन अपने परिवार के साथ रहता था। चेतन के 14 साल की बेटी कोमल व 10 साल का बेटा यश सैनी है।

पड़ोस के लोगों का कहना है कि चेतन कॉलोनी में सबसे सीधा व अच्छा इंसान था। चेतन को किसी प्रकार की कोई गलत लत नहीं थी।

- वे नहीं मान पा रहे हैं कि चेतन आत्महत्या कर सकता है। गुरुवार को चेतन बाइक से बच्चों के स्कूल गया।

- बच्चों को स्कूल से घर छोड़ने के बाद वह नाहरगढ़ किले की तरफ चले गया था।

किले की 40 फीट की दीवार पर चेतन की लाश लटकी मिली। किले की 40 फीट की दीवार पर चेतन की लाश लटकी मिली।
चेतन के दाएं पैर के जूते में 10 बजे चाय के चार कप मिले। चेतन के दाएं पैर के जूते में 10 बजे चाय के चार कप मिले।
लोगों के मन में सवाल है कि पत्थरों पर पद्मावती फिल्म को लेकर व चेतन तांत्रिक के बारे में भला कोई क्यों लिखेगा? लोगों के मन में सवाल है कि पत्थरों पर पद्मावती फिल्म को लेकर व चेतन तांत्रिक के बारे में भला कोई क्यों लिखेगा?
सुबह लोगों ने किले पर लटकी देखी लाश। सुबह लोगों ने किले पर लटकी देखी लाश।
पुलिस ने उतारी लाश। पुलिस ने उतारी लाश।
चेतन की लाश मिलने की खबर सुबह पूरे शहर में फैल गई। चेतन की लाश मिलने की खबर सुबह पूरे शहर में फैल गई।
X
चेतन शास्त्री नगर का रहने वाला था।चेतन शास्त्री नगर का रहने वाला था।
किले की 40 फीट की दीवार पर चेतन की लाश लटकी मिली।किले की 40 फीट की दीवार पर चेतन की लाश लटकी मिली।
चेतन के दाएं पैर के जूते में 10 बजे चाय के चार कप मिले।चेतन के दाएं पैर के जूते में 10 बजे चाय के चार कप मिले।
लोगों के मन में सवाल है कि पत्थरों पर पद्मावती फिल्म को लेकर व चेतन तांत्रिक के बारे में भला कोई क्यों लिखेगा?लोगों के मन में सवाल है कि पत्थरों पर पद्मावती फिल्म को लेकर व चेतन तांत्रिक के बारे में भला कोई क्यों लिखेगा?
सुबह लोगों ने किले पर लटकी देखी लाश।सुबह लोगों ने किले पर लटकी देखी लाश।
पुलिस ने उतारी लाश।पुलिस ने उतारी लाश।
चेतन की लाश मिलने की खबर सुबह पूरे शहर में फैल गई।चेतन की लाश मिलने की खबर सुबह पूरे शहर में फैल गई।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..