--Advertisement--

किले से चोरी तोप 3 करोड़ में बेच रहे थे, खरीददार बनकर पहुंची पुलिस तो 7 हुए अरेस्ट

चोरी हुई तोप का बदमाश जयपुर व दिल्ली के एंटीक आइटम के खरीदारों से तीन करोड रुपए में सौदा कर रहे थे।

Dainik Bhaskar

Nov 25, 2017, 05:29 AM IST
seven arrest  stolen precious cannon from fatehgarh-fort

जयपुर. अजमेर के फतेहगढ़ किले से गत दिनों चोरी हुई तोप का बदमाश जयपुर व दिल्ली के एंटीक आइटम के खरीदारों से तीन करोड रुपए में सौदा कर रहे थे। भनक लगी तो पुलिस अफसर खरीदार बनकर पहुंच गए व बदमाशों से तोप की फाेटो ले ली। जांच में पता चला कि जो फोटो बदमाशों ने दी है वह चोरी हुई तोप की है। पुलिस ने आरोपियों को बुलाकर गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपियों नें बताया कि फार्म हाउस पर तोप की नाल में बारूद भरकर चलाने का भी प्रयास किया था। इससे तोप की नाल का आगे का हिस्सा थोड़ा टूट गया।

सरवाड़ थाना इंचार्ज राजेन्द्र सिंह कमांडो ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी रामवस्वरू जाट ,(50)कजोड खाती (50), श्योराज जाट (55) बाेराडा अजमेर का , जगदीश गुर्जर (45) ,घासी रैगर (40) फतेहगढ़ अजमेर का ,भैरूसिंह (43)डबरेला बरोडा का व रामसिंह बारी (45) फतेहगढ का रहने वाला है। आरोपियों ने 10 जुलाई की रात को फतेहगढ़ किले में रखी करीब छह क्विंटल वजनी तोप को चोरी कर पिकअप में रखकर ले गए और रामस्वरूप के फार्म हाउस में जमीन में गाड़ दी। इसके बाद तोप की फोटो लेकर दिल्ली व जयपुर के एंटीक आइटम खरीदने वाले लेागों से दलालों के माध्यम से संपर्क करते रहे। बाद में बदमाशों ने तोप को जमीन से निकाल कर पिकअप से दूसरी जगह ले गए। जहां तोप के नाल में बारूद भरकर चलाया। पुलिस ने तोप चोरी के काम में ली गई दोनों पिकअप बरामद कर ली है।

X
seven arrest  stolen precious cannon from fatehgarh-fort
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..