जोधपुर

--Advertisement--

जिस हिस्ट्रीशीटर भंबानी को जुलाई में गोली मारी, अब श्रीराम नगर में उसके घर पर फायरिंग

छह माह बाद शहर में फिर फायरिग

Danik Bhaskar

Mar 09, 2018, 08:31 AM IST

जोधपुर. छह माह बाद गुरुवार को शहर में फिर फायरिंग की घटना हुई। चौहाबो के हिस्ट्रीशीटर दिनेश भंबानी को दूसरी बार निशाना बनाया गया। उसके श्रीराम नगर स्थित घर पर गुरुवार रात बाइक सवार बदमाश फायर कर भाग गए। गत वर्ष जुलाई में भी कुछ बदमाशों ने आशापूर्णा मॉल के बाहर भंबानी पर फायरिंग कर घायल कर दिया था।

सूचना मिलने पर चौहाबो थानाधिकारी देवेंद्रसिंह व टीम भंबानी के घर पहुंची। उसके घर लगे सीसी कैमरों की रिकॉर्डिंग से पता चला कि एक बाइक पर सवार दो बदमाशों ने पहले तो भंबानी के घर के बाहर चक्कर लगाए। फिर घर के बाहर और रोड पर कोई नहीं दिखा तो एक बदमाश बाइक पर रुका रहा। दूसरे ने भंबानी के घर पर दो फायर किए। एक गोली ड्राइंग रूम के मैन गेट पर लगी जिससे कांच टूट गया। दूसरा फायर दीवार पर लगा। इसके बाद बदमाश भाग गए।

जानकारी मिलने पर डीसीपी (वेस्ट) समीरकुमार सिंह के साथ एसीपी (वेस्ट) कमलसिंह, एसीपी (प्रताप नगर) स्वाति शर्मा, शास्त्री नगर थानाधिकारी अमित सिहाग मौके पर पहुंचे। गौरतलब है कि गत वर्ष मार्च से शहर में फायरिंग का सिलसिला शुरू हुआ था। इसके बाद फायरिंग की 8 घटनाएं हुईं। सितंबर में हुई अंतिम फायरिंग में बदमाशों ने सरदारपुरा में व्यापारी वासुदेव इसरानी की गोली मारकर जान ले ली थी।

बेटे का बर्थ-डे मना निकलते हुई थी फायरिंग

भंबानी गत वर्ष 13 जुलाई को बेटे का बर्थ-डे मनाकर शास्त्री नगर में आशापूर्णा मॉल से निकल रहा था। वहां बाइक सवार बदमाशों ने उस पर गोली चलाई थी। हमले में वो घायल हुआ था। इस केस में शास्त्रीनगर पुलिस ने गैंगस्टर कैलाश मांजू के साथी बदमाश राकेश मांजू, ओमप्रकाश खिलेरी, नारायणराम और रामनिवास विश्नोई को गिरफ्तार किया था।


दो साल बाद भी हाथ नहीं आया गैंगस्टर कैलाश मांजू
वासु मर्डर केस, डॉ. चांडक और मनीष जैन के घर सहित अन्य कारोबारियों को रंगदारी के लिए धमकाने और फायरिंग के मामलों में कुख्यात बदमाश कैलाश मांजू की भूमिका सामने आई थी। खुद भंबानी ने कैलाश मांजू पर रंगदारी के लिए जान से मारने की धमकी देने के आरोप लगाए थे। इतना कुछ होने के बावजूद कैलाश मांजू तकरीबन दो साल से फरार है। जोधपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीमें अब तक उसे पकड़ने में नाकाम रही है।

Click to listen..