जोधपुर

--Advertisement--

प्रोटोकॉल तोड़ ऑटो में बैठे इंटरनेशनल कोर्ट के जज, अपनों से मिलने संकरी गलियों में गए

सादगी दिखा प्रोटोकॉल को परे रखा और ऑटो में सवार हो गए जस्टिस भंडारी ।

Danik Bhaskar

Nov 29, 2017, 08:14 AM IST
जस्टिस दलबीर भंडारी (दाएं)। जस्टिस दलबीर भंडारी (दाएं)।

जोधपुर. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के जज अगर दौरे पर हों तो सुरक्षा संबंधी कड़ा प्रोटोकॉल फॉलो होता है। लेकिन, अगर जस्टिस दलबीर भंडारी हों, और शहर उनका अपना जोधपुर हो तो प्रोटोकॉल पीछे रह जाता है, और अपणायत आगे आ जाती है। मंगलवार सुबह यही हुआ। जस्टिस भंडारी के कुछ परिजनों ने उन्हें भीतरी शहर स्थित मकान चलने का निमंत्रण दिया। भंडारी ने आमंत्रण को सहर्ष स्वीकार किया, सादगी दिखा प्रोटोकॉल को परे रखा और ऑटो में सवार हो गए। यहां से वे राजस्थानी भाषा संघर्ष समिति के इंटरनेशनल संयोजक प्रेम भंडारी के साथ संकरी गलियों में स्थित भिश्तियों का बास उनके पुश्तैनी मकान में पहुंचे। वे भंडारी के पिता प्रो. एसपीसी भंडारी व माता से मिले। दोपहर की फ्लाइट से जस्टिस भंडारी दिल्ली रवाना हो गए।

प्रोटोकॉल में पायलट-एस्कॉर्ट कार, आरपीएस व जवान

प्रोटोकॉल के अनुसार जस्टिस भंडारी के लवाजमे में आगे पायलट गाड़ी चलती, बीच में उनकी कार व इसकेे पीछे एस्कॉर्ट गाड़ी चलती। आरपीएस ऑफिसर सीमा हिंगोनिया के साथ हथियारबंद जवान तैनात किए गए।

Click to listen..