• Hindi News
  • Rajasthan
  • Nohar
  • एपीओ की गई पीटीआई को वापस लाने के लिए छात्राओं ने स्कूल के मुख्य दरवाजे पर जड़ा ताला
--Advertisement--

एपीओ की गई पीटीआई को वापस लाने के लिए छात्राओं ने स्कूल के मुख्य दरवाजे पर जड़ा ताला

Nohar News - भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर मटका चौक स्थित राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में गत दिनों प्रिंसीपल व...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 05:40 AM IST
एपीओ की गई पीटीआई को वापस लाने के लिए छात्राओं ने स्कूल के मुख्य दरवाजे पर जड़ा ताला
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

मटका चौक स्थित राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में गत दिनों प्रिंसीपल व पीटीआई में गुटबाजी के चलते उत्पन्न विवाद दोनों को एपीओ को किए जाने के बावजूद माहौल अभी तक ठीक नहीं हुआ है। बुधवार को करीब 50 छात्राओं ने पीटीआई को दुबारा स्कूल में लगाने की मांग को लेकर मुख्य दरवाजे पर ताला जड़ दिया और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। सूचना मिलते ही एडीईओ माध्यमिक मनोहरलाल चावला, एसडीएम यशपाल आहूजा व कोतवाली पुलिस स्कूल पहुंची। लेकिन छात्राओं ने इनकी एक भी बात नहीं सुनी और कलेक्टर से मिलने की मांग पर अड़ी रहीं। इस बीच एसडीएम ने स्कूल के दूसरे गेट पर लगे ताले को तुड़वाया और अन्य छात्राओं को स्कूल के अंदर भेजकर पढ़ाई शुरू कराई। जानकारी के अनुसार स्कूल सुबह 9:20 बजे लगता है लेकिन बुधवार को छात्राओं ने सुबह 9 बजे ही पहुंचकर मुख्य दरवाजे पर ताला जड़ दिया और दरवाजे के सामने सड़क पर बैठकर प्रदर्शन करने लगीं। मामले की गंभीरता को देखते हुए सुबह 10:16 बजे डीईओ माध्यमिक तेजा सिंह भी मौके पर पहुंचे और छात्राओं से हाथ जोड़कर ताला खोलने व पढ़ाई करने का आग्रह किया लेकिन छात्राएं नहीं मानीं। उन्होंने आरोप लगाया कि पीटीआई चरणजीत सिंह को गलत एपीओ किया गया है। छात्राओं के न मानने पर उनके माता-पिता को बुलाकर ताला खुलवाया और मामला शांत कराया। उल्लेखनीय है कि गत दिनों प्रिंसीपल बलविंद्र कौर व पीटीआई चरणजीत कौर को शिक्षा विभाग की ओर से एपीओ कर बीकानेर भेज दिया था तब माना जा रहा था कि मामला शांत हो चुका है। लेकिन माहौल अब भी ठीक नहीं हुआ है।

छात्राओं का आरोप-प्रैक्टिकल के लिए शिक्षकों को देने पड़ते हैं रुपए

छात्रा लक्ष्मी सोनी ने रोते हुए डीईओ को बताया कि उन्हें हर साल स्कूल में होने वाले अलग-अलग विषयों के प्रैक्टिकल के लिए शिक्षकों को रुपए देने पड़ते हैं। इसके बारे में कई बार शिकायत की जा चुकी है लेकिन आज तक इस संबंध में कोई भी कार्रवाई नहीं हुई है। छात्रा प्रीती शर्मा ने कहा कि इस विवाद के चलते हमारी पढ़ाई खराब हो रही है, और शिक्षा विभाग कोई सुध नहीं ले रहा है।

डीईओ ने छात्राओं की बुलाई सभा, शिक्षकों को लगाई फटकार

स्कूल पर ताला लगाने का मामला शांत होने के बाद डीईओ माध्यमिक तेजा सिंह ने स्कूल में सभी छात्राओं की सभा बुलाई। इसमें डीईओ ने छात्राओं की समस्याएं सुनीं। इसके बाद शिक्षकों की बैठक भी बुलाई। बैठक में डीईओ ने शिक्षकों को फटकार लगाते हुए कहा कि आप लोगों को शर्म आनी चाहिए कि आपके स्कूल की छात्राओं ने गेट पर ताला जड़कर प्रदर्शन किया। आप सब लोग समय रहते मामले को शांत कर सकते थे, लेकिन आपने ऐसा नहीं किया। उन्होंने टीचरों शिक्षकों को भविष्य में इस तरह की लापरवाही नहीं बरतने के निर्देश दिए।

श्रीगंगानगर. मटका चौक स्कूल के मुख्य द्वार पर ताला लगाकर बैठी छात्राओं से समझाइश करते डीईओ माध्यमिक तेजा सिंह व अन्य।

श्रीगंगानगर. मटका चौक स्थित सरकारी स्कूल पर ताला जड़कर प्रदर्शन करती छात्राएं।

प्रिंसीपल-पीटीआई विवाद में जो भी निर्दोष होगा उसे स्कूल में वापस लगा दिया जाएगा

डीईओ माध्यमिक तेजा सिंह के मुताबिक प्रिंसीपल व पीटीआई विवाद की अभी जांच चल रही है। जांच पूरी होने के बाद ही साफ हो पाएगा कि दोषी कौन है। जांच में जो निर्दोष होगा वह वापस स्कूल में आ जाएगा।

X
एपीओ की गई पीटीआई को वापस लाने के लिए छात्राओं ने स्कूल के मुख्य दरवाजे पर जड़ा ताला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..