Hindi News »Rajasthan »Nokha» पांचू और नोखा पंचायत समिति की खंगाली जाएगी एक-एक पंचायत

पांचू और नोखा पंचायत समिति की खंगाली जाएगी एक-एक पंचायत

नोखा और पांचू पंचायत समिति की एक-एक पंचायत में भ्रष्टाचार की गड़बड़ी आने के बाद अब दोनों पंचायत समिति की प्रत्येक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 06:25 AM IST

नोखा और पांचू पंचायत समिति की एक-एक पंचायत में भ्रष्टाचार की गड़बड़ी आने के बाद अब दोनों पंचायत समिति की प्रत्येक पंचायत को खंगालने की तैयारी हो रही है। दिल्ली से आई टीम ने राज्य सरकार और स्थानीय जिला प्रशासन से इस पूरे मामले की गहराई तक जाने के निर्देश दिए हैं। उसकी दिल्ली रिपोर्ट भी मांगी है। इसलिए अब पंचायती राज जयपुर और स्थानीय जिला प्रशासन के अधिकारी संयुक्त रूप से मिलकर जांच करेंगे। स्थानीय अधिकारियों को अब जयपुर से निर्देश मिलने का इंतजार है। उल्लेखनीय है कि जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक में उप जिला प्रमुख इंदु तर्ड ने भी टीएफसी-एसएफसी का मुद्दा उठाया था। अब वृहद स्तर पर होने वाली जांच में अब ये मामला भी आने की संभावना है। महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना के जॉब कार्ड, श्रमिक, कहां कितने श्रमिकों ने काम किया और कितने का भुगतान हुआ। इस सबकी डिटेल ली जाएगी क्योंकि बुधवार को दिल्ली से आए अधिकारियों ने जो जांच की उसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई है ताकि जिसने बयान दिए वो बाद में मुकर न जाएं। टीम के सामने आया कि पांच हजार रुपए में जॉब कार्ड बेचने का गोरखधंधा खूब पनप रहा है। उसके पूरे रैकेट को पकड़ने के निर्देश दिए गए हैं।

पिछले कार्यकाल के सरपंचों के खिलाफ जांचों का निस्तारण नहीं सरपंच और अन्य जनप्रतिनिधियों के खिलाफ पिछले कार्यकाल में लगे आरोपों की जांच अब तक पूरी नहीं हुई। करीब 60 जनप्रतिनिधियों के खिलाफ पंचायती राज में गड़बड़ी का आरोप लगा था लेकिन अब तक उन शिकायतों का न तो निस्तारण हुआ और न ही किसी पर आरोप तय हुए। वर्तमान कार्यकाल की शिकायतों का ढेर लगने लगा।

बुधवार को कुछ शिकायतों के आधार पर कार्रवाई की गई है। अब दोनों पंचायत समिति की प्रत्येक ग्राम पंचायत की जांच होगी। इसमें जयपुर से भी अधिकारी शामिल होंगे। सिर्फ एक योजना ही नहीं प्रत्येक योजनाओं को इसमें शामिल करेंगे। अजीत सिंह राजावत, सीईओ जिला परिषद

इधर... जयपुर से आई टीम ने गजनेर में की जांच

गजनेर | मनरेगा योजना में भ्रष्टाचार की शिकायत पर गुरुवार को जयपुर से टीम आई। पंचायतीराज विभाग, जयपुर से आई टीम में अतिरिक्त आयुक्त साइन अली, राजेंद्र सिंह कैन, मुकेश व विजय आदि शामिल थे। उन्होंने गजनेर के साथ ही चांडासर ग्राम पंचायत में मनरेगा में हुए विकास कार्यों का भौतिक निरीक्षण किया। रिकॉर्ड का जांचा। मोडिया मानसर गांव में पहुंचकर रामलाल ओड के खेत में बने जलकुंड की गुणवत्ता देखी। उनके साथ कोलायत बीडीओ रामचंद्र मीणा, एईएन राघवेंद्र सिंह बीका आदि थे। गजनेर सरपंच जेठाराम कुम्हार ने टीम को विकास कार्य दिखवाए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nokha

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×