• Hindi News
  • Rajasthan
  • Padampur
  • तीसरे दिन एसपी पड़े नरम, चारों मांगें मानी आंदोलन खत्म, होली से पहले अमन चैन
--Advertisement--

तीसरे दिन एसपी पड़े नरम, चारों मांगें मानी आंदोलन खत्म, होली से पहले अमन-चैन

Padampur News - भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर वार्ड 47 के लापता युवक की मौत मामले में कार्रवाई न होने पर लोगों ने बुधवार सुबह...

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 05:45 AM IST
तीसरे दिन एसपी पड़े नरम, चारों मांगें मानी आंदोलन खत्म, होली से पहले अमन-चैन
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

वार्ड 47 के लापता युवक की मौत मामले में कार्रवाई न होने पर लोगों ने बुधवार सुबह इंदिरा चौक पर सभा कर आक्रोश जताया। एसपी ने जनप्रतिनिधियों एवं समाज के लोगों से हुई वार्ता में जवाहरनगर थाना प्रभारी शकील अहमद को हटाने, तोड़फोड़ करने वालों पर जमानती धाराओं में कार्रवाई करने व शांति भंग में गिरफ्तार किए गए युवकों को निजी मुचलकों पर छोड़ने व युवक आकाश के हत्यारों को शीघ्र पकड़ने की मांगें मान लीं। तब लोग शांत हुए और तीसरे दिन युवक आकाश के शव का पोस्टमार्टम करवाया गया। परिजनों ने शाम को युवक का पदमपुर रोड स्थित कल्याण भूमि में अंतिम संस्कार कर दिया। शाम को एसपी ने जवाहरनगर इलाके में जी नगर धर्मशाला में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में समाज के लोगों व जनप्रतिनिधियों को शहर में एकता स्थापित करने और हर परिस्थिति में पुलिस का सहयोग करने की अपील की।

लापता युवक की मौत से आक्रोशित लोग बुधवार सुबह 9 बजे ही इंदिरा चौक पर इकट्ठे होने लगे थे। जवाहरनगर पुलिस थाने में सोमवार को हुई तोड़फोड़ से सबक लेते हुए इस बार पुलिस ने माहौल बिगड़ने की आशंका में पहले ही सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त कर लिए थे। इसके चलते इंदिरा चौक, जवाहरनगर पुलिस थाना के सामने, बीरबल चौक, सुखाड़िया सर्किल सहित जिला अस्पताल में बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात रहा। गौरतलब है कि 18 फरवरी को वार्ड नंबर 47 निवासी लापता हुए आकाश इंदौरा पुत्र सुखलाल इंदौरा शौच के लिए घर से बाहर पुरानी शुगर मिल के गड्ढे की तरफ गया और वापस नहीं लौटा। परिजनों ने 19 फरवरी को जवाहरनगर पुलिस थाना में उसकी गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी। फिर सोमवार सुबह उसका शव मिला।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट

एसपी से वार्ता के बाद समाज व परिजनों की मांग पर प्रशासन ने मेडिकल बोर्ड का गठन किया। इसमें डॉ. गिरधारी लाल, डॉ. सुखपाल बराड़ और डॉ. संजय शर्मा शामिल रहे। बोर्ड के डॉक्टर्स ने बताया कि प्रथम दृष्टया आकाश इंदौरा की मौत का कारण दम घुटना ही सामने आया है। लेकिन, डॉक्टर्स ने मृतक का विसरा जांच के लिए बीकानेर मेडिकल कॉलेज भेज दिया है।

डॉक्टर्स के अनुसार शव पर अंदरूनी अथवा बाहरी चोटों के निशान या कोई फ्रैक्चर नहीं था। दाएं हाथ की कोहनी पर एक नील का निशान जरूर देखने में आया, जिसे ज्यादा गंभीर नहीं माना गया। पोस्टमार्टम के बाद रिपोर्ट सौंप दी गई।

श्रीगंगानगर। आकाश इंदौरा के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसपी से वार्ता करते जनप्रतिनिधि। वार्ता में भाजपा, कांग्रेस व माकपा नेताओं के अलावा आकाश के परिजन व समाज के लोग शामिल हुए।

जमानती धाराओं में होगी तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ कार्रवाई: इंदिरा चौक पर सभा के दौरान पांच सदस्यीय कमेटी पुलिस अफसरों से बात करने के लिए एसपी के पास पहुंची। इसमें माकपा नेता हेतराम बेनीवाल, कांग्रेसी नेता राजकुमार गौड़, समाज सेवक एवं व्यापारी जयदीप बिहाणी, लेबर यूनियन के प्रधान किशोरी लाल सिवाण मौजूद रहे। इस दौरान एसपी ने पुलिस थाना में हुई टूट फूट की चर्चा की तो जनप्रतिनिधियों ने इसकी जिम्मेदारी लेते हुए वापस सब ठीक कराने का विश्वास दिलाया। तब जाकर एसपी ने तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ जमानती धाराओं में कार्रवाई का आश्वासन दिया। वहीं, जवाहरनगर पुलिस थाना में शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किए गए युवकों को निजी मुचलकों पर ही छोड़ दिया गया।

शांतिभंग में गिरफ्तार लोगों को छोड़ने के आदेश शाम 5 बजे जेल पहुंचे, रिहाई 9:30 बजे: सेंट्रल जेल से रिहा आरोपियों को छोड़ने के मामले में फिर लेटलतीफी किया जाना सामने आया है। सोमवार को जवाहरनगर पुलिस थाने पर पथराव के बाद शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार लोगों को बुधवार को जमानत मिल गई। शाम पांच बजे जेल में रिहाई आदेश पहुंचने के बाद भी रात 9 बजे तक उन्हें नहीं छोड़ा गया। इस पर जेल के बाहर खड़े लोगों ने शोरशराबा कर भाजपा नेता महेश पेड़ीवाल को फोन कर मामले से अवगत कराया। इसके बाद पेड़ीवाल ने जेल अधीक्षक से बात कर मामले से अवगत कराया। तब जेल प्रशासन ने आरोपी विनोद, प्रदीप, राजेश और मोहम्मद अली को रिहा किया गया।

...न पड़े रंग में भंग: पुलिस ने युवक को श्रद्धांजलि दी, समाज ने चोटिल पुलिसवालों से माफी मांगी

युवक आकाश का अंतिम संस्कार करने के बाद एसपी हरेंद्र महावर आला पुलिस अफसरों सहित जीनगर धर्मशाला में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में पहुंचे और युवक की मौत पर अफसोस जताते हुए श्रद्धांजलि दी। वहीं, धानका समाज के लोगों सहित इलाके के लोगों ने भी सोमवार सुबह हुई घटना में जिन पुलिसकर्मियों के चोटें लगी, उसके लिए उनसे माफी मांगी। एसपी ने इलाके में सौहार्दपूर्ण वातारण बनाए रखने की अपील करते हुए मृतक के आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार कर सलाखों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। श्रद्धांजलि सभा में भाजपा नेता अमित कारगवाल, धर्मेंद्र मौर्य, राजेश नागर, दिनेश मेघवाल सहित अनेक लोग मौजूद थे।

प्रथम दृष्टया मौत का कारण दम घुटना माना

X
तीसरे दिन एसपी पड़े नरम, चारों मांगें मानी आंदोलन खत्म, होली से पहले अमन-चैन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..