--Advertisement--

स्वाइन फ्लू के बाद अब डराने लगा डेंगू का डंक

हैल्थ रिपोर्टर. जयपुर| शहर में स्वाइन फ्लू का कहर थमा भी नहीं है कि अब डेंगू और चिकनगुनिया जैसी मौसमी बीमारियों ने...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:20 AM IST
स्वाइन फ्लू के बाद अब डराने लगा डेंगू का डंक
हैल्थ रिपोर्टर. जयपुर| शहर में स्वाइन फ्लू का कहर थमा भी नहीं है कि अब डेंगू और चिकनगुनिया जैसी मौसमी बीमारियों ने पैर पसारना शुरू कर दिया है। शहर में तेजी से फैलते डेंगू के डंक से चिकित्सा महकमा सकते में है। शहर में फोगिंग, घर-घर सर्वे और एंटीलार्वा का छिड़काव करने के दावे खोखले नजर आ रहे हैं। पिछले 2 साल में इन तीन माह (जनवरी-मार्च) की अवधि में डेंगू के 8 मरीज सामने आए थे, वहीं इस साल इन तीन महीनों में 460 मरीज सामने आ चुके हैं। इनमें से एक की मरीज की तो भी हो चुकी है। वहीं पिछले तीन महीने में स्वाइन फ्लू का आंकड़ा 1 हजार 294 तक पहुंच गया है। इनमें से 113 लोग मौत के मुंह में जा चुके है। ये आंकड़ा भी दो सालों में अब तक सर्वाधिक है।

परकोटे में सबसे ज्यादा मामले

डेंगू के सबसे ज्यादा मरीज परकोटे से आ रहे हैं। दूसरे नंबर पर वैशाली नगर और तीसरे नंबर पर राजापार्क और तिलक नगर के लोग डेंगू के चपेट में आ रहे हैं। वर्ष 2016 में दो और 2017 में 6 मरीज डेंगू पॉजिटिव पाए गए थे। दूसरी तरफ वर्ष 2018 में इन्हीं महीनों में 460 मरीज पॉजिटिव आ चुके हैं। जनवरी माह में सबसे ज्यादा 194 मरीज सामने आए हैं। मार्च में भी यह आंकड़ा 100 से ऊपर पहुंच गया है।

पहले सितंबर में आते थे डेंगू के केस : एसएमएस के मेडिसन विभाग के डॉ. रमन शर्मा के मुताबिक स्वाइन फ्लू का जोर सितंबर से मार्च तक का होता है, लेकिन अब तो इनका सिलसिला जारी है। वहीं डेंगू का प्रकोप बारिश और बारिश के बाद रहता है, जिस क्षेत्र में पानी भरा रहता है, उस क्षेत्र में यह ज्यादा प्रभावी रहता है।

X
स्वाइन फ्लू के बाद अब डराने लगा डेंगू का डंक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..