• Home
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • युवती की मौत के बाद भी तांत्रिक करते रहे झाड़-फूंक, बदबू से खुला राज, 4 गिरफ्तार
--Advertisement--

युवती की मौत के बाद भी तांत्रिक करते रहे झाड़-फूंक, बदबू से खुला राज, 4 गिरफ्तार

भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी गंगापुर सिटी में एक युवती तांत्रिकों की अवैध करतूतों की बलि चढ़ गई। वे एक युवती पर...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:20 AM IST
भास्कर न्यूज | गंगापुर सिटी

गंगापुर सिटी में एक युवती तांत्रिकों की अवैध करतूतों की बलि चढ़ गई। वे एक युवती पर भूत का साया बताकर खुद ही झाड़-फूंक में जुटे रहे, फिर जब उसकी मौत हो गई तो कमरे में ही शव को बंद रखकर यह कहते रहे कि इसे जीवित कर देंगे। आखिर कमरे से उठी बदबू सहन नहीं होने पर मामला पुलिस तक पहुंचा और 4 तांत्रिक गिरफ्तार कर लिए गए, जबकि मुख्य तांत्रिक गजेंद्र सिंह फरार हो गया। 35 वर्षीय युवती अनीता के भाई श्याम की ओर से दर्ज कराई गई रिपोर्ट में कहा गया है कि वे तीन भाई हैं और तीनों अलग-अलग जगह रहते हैं, जबकि उनकी मां उर्मिला व पिता ताराचंद तथा दो बहनें अनीता व मोहिनी गंगापुर सिटी में पुश्तैनी मकान में रहते हैं। श्याम ने कहा कि मुख्य तांत्रिक सपोटरा निवासी गजेंद्र उर्फ पप्पू शर्मा, उसकी प|ी मंजू शर्मा के अलावा अन्य तांत्रिक धूलवास निवासी गोपाल सिंह, मथुरा निवासी बंटी उर्फ संदीप शर्मा, महुकलां निवासी नीटू चौधरी ने माता-पिता को अंधविश्वास में डुबो दिया। 14 जनवरी को बहन अनीता बीमार हुई तो तांत्रिकों ने मां को डरा दिया कि उस पर भूत का साया है। अनीता को अस्पताल या डॉक्टर के पास ले गए तो वो मर जाएगी।

मृतका अनीता

शव से बदबू नहीं आए इसलिए करते रहे इत्र का छिड़काव

अनीता 15 जनवरी को बेहोश हो गई तो तांत्रिक उसे पहली मंजिल पर बने कमरे में ले गए। वहां मां के अलावा किसी सदस्य को नहीं जाने दिया। अनीता की मौत हो गई, लेकिन वे कहते रहे कि वह वापस आ जाएगी। बदबू नहीं आए इसलिए अगरबत्ती और इत्र आदि छिड़कते रहे। दूसरी बहन मोहिनी को भी वे घर से बाहर नहीं जाने देते थे। 27 फरवरी को मोहिनी मौका पाकर घर से निकली और भाई श्याम सिंह को इस बारे में बताया। इसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा।