• Home
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • हॉट एयर बैलून से विंग सूट जंप रिकॉर्ड बनानेे के लिए भरी उड़ान
--Advertisement--

हॉट एयर बैलून से विंग सूट जंप रिकॉर्ड बनानेे के लिए भरी उड़ान

फलोदी (जोधपुर) | खींचन गांव के मैदान से शनिवार को रिटायर लेफ्टिनेंट कर्नल सत्येंद्र वर्मा ने सबसे लंबे विंग सूट जंप...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:30 AM IST
फलोदी (जोधपुर) | खींचन गांव के मैदान से शनिवार को रिटायर लेफ्टिनेंट कर्नल सत्येंद्र वर्मा ने सबसे लंबे विंग सूट जंप का रिकॉर्ड बनाने के लिए हॉट एयर बलून से उड़ान भरी।





कर्नल के मीडिया कॉर्डिनेटर शेख सईस अहमद ने बताया कि रिकॉर्ड बनाने के लिए रविवार को फिर से उड़ान भरी जाएगी।



और विंग सूट जंप लगाया। शनिवार को सुबह 6.36 बजे खींचन गांव के पास मैदान में हॉट एयर बैलून को आकाश में उड़ाने के लिए तैयार किया गया। यहां से बैलून पायलट कर्नल मुकेश यादव के साथ लेफ्टिनेंट कर्नल सत्येंद्र वर्मा ने विंग सूट पहनकर उड़ान भरी। खींचन से उड़ान के बाद बैलून खींचन रेलवे स्टेशन की तरफ उड़ा और उसके बाद लोर्डिया गांव की तरफ गया। वहां से छीला, शैतानसिंह नगर रेल्वे स्टेशन से उड़ते हुए आमला गांव के रामदेव नगर के आसपास करीब सवा घंटे बाद 7.55 बजे उतारा गया। इससे पहले कर्नल सत्येंद्र वर्मा ने लोर्डिया गांव से आगे जंप लगाया। लेकिन जंप कितनी ऊंचाई से लगाया है। इसकी पुष्टि नहीं की गई है। बताया जा रहा है रविवार को फिर से उड़ान भरने व जंप के बाद ही जानकारी प्रदान की जाएगी।

जानकारी के कर्नल वर्मा 20 हजार फीट की ऊंचाई से लंबी विंग सूट जंप लगाकर रिकॉर्ड बनाना चाहते हैं।

गोवा से मंगवाया एयर बैलून

जानकारी सूट जंप के लिए उपयोग लिए जा रहे हॉट एयर बैलून को गोवा से मंगवाया गया है। इस हॉट एयर बैलून का वाल्यूम 2.50 लाख क्यूबिक फीट है। इसमें कुल आठ सिलेंडर लगे थे । तीन सिलेंडर 40 लीटर, 2 सिलेंडर 55 लीटर व 3 सिलेंडर 90 लीटर के लगाए गए थे। गोवा में इन बैलून को पर्यटकों व बैठाकर उड़ाया जाता है। इस बैलून को उड़ाने के लिए गैस के सिलेंडर लगाए जाते है। जिनसे गैस जलाकर इसको उड़ाया जाता है।

एयर ट्रैफिक लोड फ्री एरिया होने के कारण यहां भर रहे हैं उड़ान

जानकारी से अनुसार फलोदी के खींचन गांव में खुला एरिया होने व एयर ट्रैफिक लोड फ्री एरिया होने के कारण इस क्षेत्र को बैलून उड़ाने व जंप के लिए चुना गया है। शनिवार को बैलून उड़ाने से लेकर उतारने तक एयरफाेर्स स्टेशन फलोदी से एयर ट्रेफिक कंट्रोल के नियमित संपर्क रखा गया और बैलून उड़ाने से लेकर उतारने तक की जानकारी एटीसी को दी गई। कर्नल वर्मा ने इससे पूर्व एक फरवरी को बैलून उड़ाकर रिकॉर्ड बनाने का प्रयास किया था लेकिन तेज हवाअों के कारण उस समय कार्यक्रम सफल नहीं हाे सका।

फलोदी- 01- खींंचन गांव के मैदान से उड़ाने भरते हुए हॉट एयर बैलून।

फलोदी- 02-