--Advertisement--

भास्कर न्यूज | गिरी/ सेंदड़ा (पाली)

महिला ने प्रेमी से कहा-मेरे पति को नहीं मारा तो तुझे नहीं मिलेगा मेरा प्यार आरोपी ने दो दोस्तों की मदद से गला...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:30 AM IST
महिला ने प्रेमी से कहा-मेरे पति को नहीं मारा तो तुझे नहीं मिलेगा मेरा प्यार

आरोपी ने दो दोस्तों की मदद से गला घाेंट मार डाला, शव कुएं में फेंका


भास्कर न्यूज | गिरी/ सेंदड़ा (पाली)

सेंदड़ा थाना क्षेत्र के गिरी गांव में गत 28 जून को लापता हुए बद्रीराम नायक (40) पुत्र अमराराम का शव गुरुवार को पुलिस ने गांव के पास एक कुएं से बरामद किया। आरोप है कि गांव के नेमाराम माली ने अपने दोस्त सुखा काठात व बगदाराम जाट की मदद से 28 जनवरी की शाम नेमाराम को इस बेरे पर ले गया और वहां गमछे से गला घोंट उसकी हत्या की। सबूत मिटाने के लिए तीनों आरोपियों ने शव कुएं में डाल दिया। एसपी दीपक भार्गव ने बताया कि इन तीनों आरोपियों के साथ पुलिस ने मृतक नेमाराम की प|ी संगीता (32) को भी हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। आरोपी संगीता व नेमाराम के बीच छह-सात साल से अवैध संबंध थे, जिसमें उसका पति रोड़ा बन रहा था। इसके कारण संगीता ने अपने पति की हत्या की साजिश रची और इसके लिए अपने प्रेमी नेमाराम माली को तैयार किया। संगीता ने अपने प्रेमी को धमकी भी दी थी कि यदि उसने उसके पति की हत्या कर रास्ते से नहीं हटाया तो वह खुद मर जाएगी अथवा अपने प्रेमी को किसी और से मरवा देगी। उसने प्रेमी को यह भी धमकी दी थी कि यदि हमेशा के लिए उसका प्यार चाहिए तो पति को रास्ते के लिए हटाए। इसके बाद ही उसने अपने दोनों दोस्तों की मदद से युवक की हत्या की।

घर वालों ने जताया एतराज तो चोरी-छिपे मिलने लगे : आरोपी नेमाराम खेती के साथ लाइट डेकोरेशन की दुकान से कमाया हुआ पैसा अपनी प्रेमिका संगीता पर खर्च करता था तो उसके घर का पूरा खर्च भी उठाता था। मृतक बद्रीराम मजदूरी करता था, जो शराब पीने का भी आदि था। उसके परिवार के लोगों ने नेमाराम के घर आने-जाने पर एतराज जताया था। करीब 6 माह पहले घरवालों ने नेमाराम से झगड़ा कर उसके घर आने पर पाबंदी लगा दी, जिसके बाद दोनों चोरी-छिपे मिलने लगे। इससे मृतक की प|ी पति व घर वालों से भी नाराज थी।

पति की हत्या के बाद प्रेमी से मांगे 20 हजार, दिए 2 हजार

सेंदड़ा थाना प्रभारी राजपुरोहित ने बताया कि मृतक बद्रीराम का अपने साथी मजदूर बगदाराम से भी शराब पीने के दौरान झगड़ा हुआ था, जिससे आरोपी बगदाराम भी मृतक से नाराज था। शराब पिलाने के बहाने आरोपी नेमाराम मृतक को अपने साथ गांव के पास सूने पड़े कुएं पर ले गया, जहां आरोपी बगदाराम व सुखा काठात पहले से ही शराब पी रहे थे। ज्यादा शराब के नशे में होने पर नेमाराम ने गमछे से बद्रीराम का गला घोंटा, बाकी दोनों आरोपियों ने उसके हाथ-पैर पकड़ लिए और हत्या के बाद शव कुएं में पटक दिया। घर आकर नेमाराम ने अपनी प्रेमिका को बताया कि उसने उसके पति को मार शव को ठिकाने लगा दिया है। इस पर उसने घर खर्च के लिए नेमाराम से 20 हजार रुपए मांगे, लेकिन उसने 2 हजार रुपए ही दिए।

मृतक बद्री नायक

कुएं से मृतक के शव को निकालते हुए।

प|ी नहीं आई ससुराल तो पड़ोसन से संबंध बनाए

सेंदड़ा एसएचओ विष्णुदत्त राजपुरोहित ने बताया कि आरोपी नेमाराम माली (28) पुत्र नाथूराम माली शादीशुदा है, लेकिन उसकी गलत हरकतों के कारण उसकी प|ी एक बार भी ससुराल नहीं आई। वह 2011 से गिरी गांव में मृतक के चाचा मांगीलाल नायक के पास ही रहता और खेती के साथ गांव में लाइट डेकोरेशन की दुकान भी चलाता था। मांगीलाल के कोई औलाद नहीं थी तो वह नेमाराम को अपने पुत्र की तरह रखता था। 2011 से उसने पड़ोस में रहने वाले बद्रीराम की प|ी से अवैध संबंध बना लिए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..