• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pali
  • स्वच्छता एप : 10 लाख की जनसंख्या वाले ग्वालियर को भी 3 लाख की आबादी वाले पाली ने पछाड़ा
--Advertisement--

स्वच्छता एप : 10 लाख की जनसंख्या वाले ग्वालियर को भी 3 लाख की आबादी वाले पाली ने पछाड़ा

पाली | अखिल भारतीय स्तर पर 500 शहरों में तथा क्षेत्रीय स्तर पर 3541 शहरों समेत कुल 4041 शहरों के बीच चल रही स्वच्छता...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:30 AM IST
स्वच्छता एप : 10 लाख की जनसंख्या वाले ग्वालियर को भी 3 लाख की आबादी वाले पाली ने पछाड़ा
पाली | अखिल भारतीय स्तर पर 500 शहरों में तथा क्षेत्रीय स्तर पर 3541 शहरों समेत कुल 4041 शहरों के बीच चल रही स्वच्छता सर्वेक्षण में स्वच्छता एप डाउनलोड करने व इसके उपयोग पर देशभर में पाली पहले स्थान पर आ गया है। 10 लाख तक की आबादी वाले शहरों की श्रेणी में पाली शहर को सर्वाधिक 2 लाख 54 हजार 52 अंक मिले हैं, जबकि 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में प्रथम मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर को मात्र 1 लाख 86 हजार 395 अंक ही मिले हैं। इसके अलावा 1 लाख से कम अाबादी प्रथम तेलंगाना राज्य के बोडूप्पल शहर को 1 लाख 35 हजार 546 अंक मिले हैं। उल्लेखनीय है कि पाली शहर पिछले पांच दिन से पूरे देश में प्रथम स्थान पर है। 31 जनवरी तक हुए स्वच्छता एप की गणना में पाली शहर दूसरे नंबर पर रह, जबकि अब नलगोंडा को 5 हजार से अधिक अंक से पीछे कर प्रथम स्थान पर काबिज हुआ है।





गौरतलब है कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में स्वच्छता एप को लेकर देशभर के 4041 शहरों को तीन श्रेणी में बांटे गए थे। इसमें से प्रथम श्रेणी में 1 लाख से कम जनसंख्या वाले शहर, दूसरी श्रेणी में 1 लाख से अधिक और 10 लाख से कम जनसंख्या वाले शहर और तीसरी श्रेणी में 10 लाख से अधिक जनसंख्या वाले शहरों को शामिल किया गया था। इन सभी शहरों में पाली ने सर्वाधिक अंक हासिल कर प्रथम स्थान पर पहुंच गया है।

अब सिटीजन फीडबैक पर रहेगी नजर

स्वच्छता एप की गणना पूरी होने के बाद नगर परिषद 10 मार्च तक होने वाले सिटीजन फीडबैक में प्रथम स्थान प्राप्त करने में जुटेगी। सिटीजन फीडबैक में भी प्रथम स्थान हासिल करने को लेकर चेयरमैन महेंद्र बोहरा के नेतृत्व में नगर परिषद टीम ने रणनीति बनाना शुरू कर दिया है। चेयरमैन बोहरा ने बताया कि अधिक से अधिक फीडबैक करवाने को लेकर नगर परिषद द्वारा सरकारी विभाग, विद्यालयों, शहर में आयोजित हो रहे मेलों, ट्रेड फेयर में स्टाॅल लगाकर स्वच्छता एप डाउनलोड एवं सिटीजन फीडबैक करवाए जाएंगे।

स्वच्छता एप से नगर परिषद ने 2.50 लाख से अधिक शिकायतों का समाधान किया

स्वच्छता एप डाउनलोड करने वाले 13 हजार 778 शहरवासियों ने एप से 2 लाख 51 हजार 689 समस्याएं नगर परिषद के सामने अपलोड की। इस पर नगर परिषद ने 2 लाख 2 लाख 50 हजार 857 समस्याओं का समाधान कर दिया। हालांकि शहर में अभी भी कई समस्याएं जस की तस हैं।



स्वच्छता एप में देश में प्रथम आने का पूरा श्रेय शहरवासियों को

स्वच्छता एप डाउनलोड करवाने की गणना 31 जनवरी तक थी। इसमें पाली प्रथम स्थान पर है। इसका पूरा श्रेय पाली की जनता को जाता है। शहरवासियों की सकारात्मक पहल से ही पाली इस मुकाम पर पहुंचा है। अब 10 मार्च तक होने वाले सिटीजन फीडबैक बढ़ाने को लेकर कार्य किया जाएगा।

- महेंद्र बोहरा, चेयरमैन, नगर परिषद

X
स्वच्छता एप : 10 लाख की जनसंख्या वाले ग्वालियर को भी 3 लाख की आबादी वाले पाली ने पछाड़ा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..