Hindi News »Rajasthan News »Pali News» टैक्सटाइल को जीएसटी में राहत, जवाई पुनर्भरण व फूड प्रोसेसिंग पार्क मिलने की भी उम्मीद

टैक्सटाइल को जीएसटी में राहत, जवाई पुनर्भरण व फूड प्रोसेसिंग पार्क मिलने की भी उम्मीद

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:30 PM IST

जिले में फूड प्रोसेसिंग पार्क की मंजूरी मिलने की भी बड़ी उम्मीद भास्कर संवाददाता | पाली लोकसभा में गुरुवार को...
जिले में फूड प्रोसेसिंग पार्क की मंजूरी मिलने की भी बड़ी उम्मीद

भास्कर संवाददाता | पाली

लोकसभा में गुरुवार को पेश होने वाले आम बजट से पाली को काफी उम्मीदें हैं। शहर के टैक्सटाइल उद्योगों को जीएसटी में राहत मिलने के साथ ही जिले में फूड प्रोसेसिंग पार्क की मंजूरी मिलने की आशा भी है, तो 3 साल से पाली, जालोर व सिरोही के लिए महत्वाकांक्षी जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट को लेकर स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने केंद्र सरकार के समक्ष पुरजोर दावा पेश किया है। जवाई के लिए केंद्रीय जल आयोग इसके लिए डीपीआर बनवाने के साथ ही फिजिकल एलिजिब्लिटी रिपोर्ट भी विशेष तकनीकी अधिकारियों को भेजकर बनवा चुका है। फूड प्रोसेसिंग व जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट पाली के हिस्से में आने का दावा इसलिए मजबूत माना जा रहा है कि यहां के सांसद पीपी चौधरी केंद्र में प्रभावशाली मंत्री है। इसके अलावा कई ट्रेनों के फेरे बढ़ाने व ठहराव को भी मंजूरी मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

कई ट्रेनों के फेरे बढ़ाने व ठहराव को भी मंजूरी मिलने की उम्मीद जताई

टैक्सटाइल उद्योगों को जॉब वर्क पर जीएसटी में छूट की पूरी उम्मीद

टैक्सटाइल उद्योग को टर्फ अनुदान की निर्धारित व्यवस्था के साथ ही जीएसटी संबंधित जरूरी संशोधन की जरूरत है। इस उद्योग में जोब वर्क करने वाले उद्यमियों के लिए जीएसटी में सर प्लस रिफंड की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में कलर से लेकर अलग अलग उत्पादों पर भरे गए जीएसटी का रिफंड आनुपातिक रूप से नहीं मिल पा रहा है। जीएसटी में तीन रिटर्न भरने की प्रक्रिया को छोटी उद्यमी जटिल मानते हुए 10 करोड़ का टर्न ओवर तक एक ही रिटर्न के घोषणा की उम्मीद कर रहे हैं। साथ ही पूरे जॉब पर जीएसटी से छूट भी मिल सकती है।

जीएसटी में टैक्सटाइल को राहत

नए उद्योगों को आयकर में छूट के लिए 80 अाई, जीएसटी मासिक रिटर्न की संख्या 10 करोड़ के टर्न ऑवर वालों के लिए सिर्फ एक जॉब वालों को आईटीसी 4 फार्म से राहत मिले। - नेमीचंद अखावत, सीए

कृषि अनुसंधान बढ़ाया जाए

कृषि अनुदान को बढ़ाया जाना चाहिए। मध्यप्रदेश पैटर्न पर 10 प्रतिशत ऋण राशि केंद्र सरकार वहन करे ऐसा कुछ होना चाहिए। - एसी गुप्ता, अर्थशास्त्री

आयकर में छूट की सीमा बढ़ाई जानी चाहिए

पिछले काफी समय से देशवासी आयकर छूट की सीमा बढ़ाने का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन हर साल निराश होना पड़ता है। आयकर छूट सीमा 3 लाख रुपए तक बढ़ा दी जानी चाहिए। - परेश बाफना, दवा व्यवसायी

रेल कनेक्टिविटी बढ़े

पाली से जुड़े साप्ताहिक गाडिय़ों के फेरों की संख्या बढाने, जन्म भूमि एक्सप्रेस के पाली में ठहराव सहित रेल कनेक्टिविटी बढ़ाई जाए। - जयनारायण अरोड़ा, ट्रेवल एजेंट

पूरे देश में पाली का पापड़ बडी, केर, सांगरिया, तिल, रायड़ा प्रसिद्ध, इसलिए फूड पार्क की संभावना

वैसे यहां के तापमान वायु का वेग और मौसम के मिजाज के मुताबिक यहां फूड प्रोसेसिंग पार्क की स्थापना से रोजगार के नए अवसर जुटाए जा सकते हैं। पापड़ बडी, केर, सांगरिया, तिल, रायड़ा व तारामीरा सहित यहां के कई उत्पाद देश भर में लोकप्रिय है। इनकी प्रोसेसिंग यूनिट के लिए अलग से फूड प्रोसेसिंग पार्क शहर को इस बजट में मिलना चाहिए।

उद्योगों की जरूरत मुताबिक शैक्षणिक संस्थान खुले

पाली के स्थानीय उद्योगों की जरूरतों को पूरा करने वाले शैक्षणिक संस्थान खोलने मेंं केंद्रीय बजट मददगार बने। - डॉ रवि दाधीच, बजट विशेषज्ञ

फूड प्रोसेसिंग पार्क बने

फूड प्रोसेसिंग पार्क की यहां स्थापना से सूखी सब्जियों की ब्रांडिंग व रोजगार के अवसर बढेंग़े। टैक्सटाइल से जुड़ी आईडीपीएस योजना के अच्छे परिणाम की उम्मीद है। - विनय बंब, अध्यक्ष, आरटीएचपी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Pali News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: टैक्सटाइल को जीएसटी में राहत, जवाई पुनर्भरण व फूड प्रोसेसिंग पार्क मिलने की भी उम्मीद
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Pali

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×