• Home
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • सुप्रीम कोर्ट ने कहा- आदेश के पालन पर अगर अधिकारी की हत्या होगी तो हम आदेश देना ही बंद कर देंगे
--Advertisement--

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- आदेश के पालन पर अगर अधिकारी की हत्या होगी तो हम आदेश देना ही बंद कर देंगे

हिमाचल प्रदेश के कसौली में अवैध निर्माण हटवाने गई महिला अधिकारी की हत्या पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी...

Danik Bhaskar | May 03, 2018, 02:05 AM IST
हिमाचल प्रदेश के कसौली में अवैध निर्माण हटवाने गई महिला अधिकारी की हत्या पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी नाराजगी जताई। राज्य सरकार को फटकारते हुए कोर्ट ने कहा, आदेश लागू करवाने पर अगर अधिकारियों की हत्या होगी तो शायद हम कोई आदेश देना ही बंद कर दें। कोर्ट ने यह भी पूछा कि पुलिस के रहते आरोपी फरार कैसे हो गया?

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर मंगलवार को कसौली में 13 होटलों के अवैध निर्माण गिराने के लिए असिस्टेंट टाउन प्लानर शैलबाला अपनी टीम और पुलिस के साथ गई थीं। एक होटल मालिक विजय ठाकुर ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। हमले में एक अन्य अधिकारी घायल है।

बुधवार सुबह कसौली के एक एनजीओ की ओर से सीनियर एडवोकेट पीएस पटवालिया ने जस्टिस मदन बी लोकुर और दीपक गुप्ता की बेंच के समक्ष इसका उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि पुलिस की मौजूदगी में न केवल हत्या हुई, बल्कि आरोपी फरार हो गया। कोर्ट इस पर स्वत: संज्ञान ले। जस्टिस लोकुर ने कहा कि यह बेहद गंभीर मामला है। हैरानी है कि पुलिस के रहते महिला अधिकारी की हत्या कर आरोपी फरार हो गया। उसे पकड़ा क्यों नहीं गया? पुलिस क्या कर रही थी?



हिमाचल सरकार की ओर से पेश वकील ने कहा कि पुलिस टीम एक होटल में तोड़फोड़ कर रहे दस्ते के साथ थी। इसी बीच महिला अधिकारी साथ वाले होटल में गईं और मालिक विजय को होटल खाली करने के लिए कहा। इसी दौरान विजय ने गोली चला दी। पुलिस के पहुंचने तक आरोपी फरार हो गया था। जस्टिस लोकुर ने कहा कि ऑन ड्यूटी अधिकारी की हत्या बेहद गंभीर मामला है। यह मामला चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को भेज रहे हैं। चीफ जस्टिस गुरुवार को इस पर सुनवाई करेंगे।