• Home
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • मोदी बोले- हर गांव में पहुंची बिजली, अब हमारा लक्ष्य हर घर तक बिजली पहुंचाना है
--Advertisement--

मोदी बोले- हर गांव में पहुंची बिजली, अब हमारा लक्ष्य हर घर तक बिजली पहुंचाना है

कर्नाटक चुनाव में अब 11 दिन ही बचे हैं। मंगलवार को इस समर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उतर आए। उन्होंने प्रचार...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 02:15 AM IST
कर्नाटक चुनाव में अब 11 दिन ही बचे हैं। मंगलवार को इस समर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उतर आए। उन्होंने प्रचार की शुरुआत चामराजनगर में रैली से की। रैली में मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के हाल में किए हमलों पर पलटवार किया। मोदी ने कहा- कांग्रेस अध्यक्ष ने हाल ही में मुझे एक चुनौती दी। उन्होंने कहा कि अगर मैं संसद में 15 मिनट भी बोलूंगा तो मोदी जी बैठ नहीं पाएंगे। मोदी बोले- वे 15 मिनट बोलेंगे, ये भी एक बड़ी बात है।

पीएम बोले- मोदी को छोड़ो। मैं आपसे कहता हूं कि आप कर्नाटक के विकास को लेकर किसी भी भाषा में बिना कागज हाथ में लिए 15 मिनट बोल के दिखा दीजिए। चाहे वो आपकी माता जी की भाषा ही क्यों न हो। प्रधानमंत्री ने राहुल के संसद में 15 मिनट तक नहीं टिक पाने के बयान को गरीबों की अस्मिता से जोड़ते हुए कहा- वे कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ नाम के (नामदार) हैं, हम तो कामगार हैं। उनसे काम की अपेक्षा नहीं कर सकते। अब हमारा सपना है कि हर घर में बिजली पहुंचे।

जो लोग हमें गालियां देते हैं, उन्हें सोचना चाहिए कि क्या कारण है कि आजादी के बाद से उन घरों में बिजली नहीं पहुंची। हमने इसका बीड़ा उठाया है। मोदी कर्नाटक में 9 मई तक 21 रैलियां करेंगे। वे अब 3, 5, 6, 8 और 9 मई को प्रचार के लिए आएंगे। वहीं, राहुल गांधी अपने 8वें दौरे पर 3 मई को कर्नाटक पहुंचेंगे। इसके बाद वे एक और दौरा करेंगे।


42 मिनट की स्पीच में मोदी ने ‘15 मिनट’ पर 5 वार किए

राहुल, मनमोहन नहीं, मां की ही बात मान लेते

बिजली पर वादा याद दिलाया

यूपीए के पहले 2005 के कार्यकाल में पीए मनमोहन ने देश के हर गांव में बिजली पहुंचाने का वादा किया था। 2009 में सोनिया ने कहा था- हर घर में बिजली पहुंचाएंगे। मोदी बोले- 2014 तक आप बैठे रहे। 2014 के पहले 4 साल में कर्नाटक के 2 गांवों में ही बिजली पहुंची।

सिद्दारमैया के बहाने वंशवाद पर चोट

मुख्यमंत्री सिद्दारमैया के दो जगह से चुनाव लड़ने के बहाने मोदी ने वंशवाद का मुद्दा भी उठाया। बोले- हार के डर से सिद्दारमैया दो सीटों से लड़ रहे हैं। एक सीट से बेटे को भी लड़ा दिया, ताकि कोई सीट तो परिवार के पास रहे।

सम्मान पर आईना दिखाया

दिल्ली में राहुल ने कहा था- भाजपा में आडवाणी समेत बुजुर्गों का सम्मान नहीं होता। हम अपने बुजुर्गों का सम्मान करेंगे। इस पर मोदी ने आईना दिखाया- कांग्रेस अध्यक्ष तो भरी मीटिंग में मनमोहन के फैसले को फाड़ देते हैं और सम्मान की बात करते हैं।


राहुल की जुबानी लड़खड़ाहट पर तंज

एक रैली में राहुल गांधी विश्वेश्वरैया का सही नाम नहीं ले सके थे। रैली में मोदी ने इस पर चुटकी ली। बोले- 15 मिनट के भाषण में 5 बार में श्रीमान विश्वेश्वरैया का नाम नहीं ले सके।

वंदेमातरम की गरिमा याद दिलाई

कांग्रेस के हाल ही में कर्नाटक के कार्यक्रम में वंदेमारतम का छोटा प्रारूप बजाया गया। इस मोदी बोले- आज कांग्रेस में ऐसे लोग लीडरशिप कर रहे हैं, जिन्हें वंदेमातरम और देश के गौरव का पता नहीं है। कांग्रेस अध्यक्ष को देश का ज्ञान नहीं है।

‘2 रेड्‌डी+1 येद्दि’ है मोदी का फार्मूला: सीएम

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया ने कहा कि चुनाव जीतने का मोदी का फार्मूला ‘ दो रेड्डी + एक येद्दि’ है। सिद्दारमैया ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री ने भी दो स्थानों से चुनाव लड़ा था। वे इस मुद्दे पर मुझ पर ही आरोप लगा रहे हैं।

कांग्रेस के भ्रष्टाचार पर बोले

मोदी ने कहा- राज्य में 10% कमीशन पर काम होते हैं। कर्नाटक में लॉ एंड ऑर्डर फेल है। यहां न लॉ है न ऑर्डर है। यहां लोकायुक्त तक सलामत नहीं है। जहां-जहां कांग्रेस होती है। वहां अपराध, भ्रष्टाचार, परिवारवाद का बोलबाला होता है।


कर्नाटक में जब्ती का नया रिकाॅर्ड

4 महीने में 10 राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए उनमें मोदी 60 रैलियां कर चुके हैं