• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • मोमिनों ने अकीदत के साथ मनाया शब-ए-बारात पर्व, रोजा रख अदा की विशेष नमाज
--Advertisement--

मोमिनों ने अकीदत के साथ मनाया शब-ए-बारात पर्व, रोजा रख अदा की विशेष नमाज

पाली शबे बारात पर्व को लेकर आयोजित कार्यक्रम मे उपस्थित मोमिन भास्कर संवाददाता | पाली मुस्लिम समाज द्वारा...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 05:50 AM IST
मोमिनों ने अकीदत के साथ मनाया शब-ए-बारात पर्व, रोजा रख अदा की विशेष नमाज
पाली शबे बारात पर्व को लेकर आयोजित कार्यक्रम मे उपस्थित मोमिन

भास्कर संवाददाता | पाली

मुस्लिम समाज द्वारा सोमवार को शब-ए-बारात पर्व यानि इबादत की रात बड़ी अकीदत और एहतराम के साथ मनाया गया। पर्व को लेकर सुबह मोमिनों ने फज्र की नमाज अदा कर इबादत का सिलसिला शुरू किया जो मंगलवार सुबह फज्र की नमाज अदा करने तक चला। दिन भर मोमिनों ने रोजा रखा। साथ ही कुरआने पाक की तिलावत मगरीब की नमाज अदा करने बाद मस्जिदों में शबे बरात व विशेष नमाज अदा की गई। अशर की नमाज पढ़ने के बाद मोमिनों ने कब्रिस्तान में हाजरी, पीर औलिया के मजारों की जियारत कर अपने गुनाहों से माफी मांगी। वहीं दूसरी ओर मोमिनों ने अपने पूर्वजों को ईसाले शबाब पहुंचाने के मकसद से विभिन्न प्रकार के व्यंजन बना कर फातिहा ख्वानी की व गरीबों को सिरनी तकसीम की। छोटी मस्जिद के पेश इमाम मौलाना अंसार अहमद फैजानी ने बताया कि रहमतों के महीने रमजान से पहले मगफेरत का महीना शाबान आता है। जिसे रसूल अकरम सलललाहोअलैह वसललम ने गुनाहों को मिटाने वाला महीना करार दिया है। इस शाबान के महीने में शबे बरात की रात ऐसी भी आती है जिसमें अल्लाह अपने गुनहगार बंदों की दुआओं को सुनता है और उन लोगों को जहन्नुम से निजात देता है।

X
मोमिनों ने अकीदत के साथ मनाया शब-ए-बारात पर्व, रोजा रख अदा की विशेष नमाज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..