• Home
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • बेटियों ने कहा : साइंस है पर लैब नहीं फिर कैसे पढ़ें सीएम बोलीं : सभी 89 नए स्कूलों में खुलेंगी लैब
--Advertisement--

बेटियों ने कहा : साइंस है पर लैब नहीं फिर कैसे पढ़ें सीएम बोलीं : सभी 89 नए स्कूलों में खुलेंगी लैब

भास्कर न्यूज | निंबाहेड़ा (चित्तौड़गढ़) मुख्यमंत्री वसुंधराराजे के सोमवार को निंबाहेड़ा में हुए जनसंवाद में...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 05:50 AM IST
भास्कर न्यूज | निंबाहेड़ा (चित्तौड़गढ़)

मुख्यमंत्री वसुंधराराजे के सोमवार को निंबाहेड़ा में हुए जनसंवाद में छोटीसादड़ी की बालिकाओं की पीड़ा प्रदेश के सभी नवक्रमोन्नत 89 स्कूलों के लिए सौगात बन गई। विद्यार्थियों ने कहा कि स्कूल में साइंस विषय तो है पर विज्ञान की दोनों प्रयोगशालाएं नहीं हैं तो विषय का क्या मतलब? सीएम ने इसे गंभीरता से लेते हुए विज्ञान में नवक्रमोन्नत राज्य के सभी 89 स्कूलों में रसायन व भौतिक शास्त्र की प्रयोगशालाएं खोलने की घोषणा कर दी। सीएम ने विभाग के अधिकारियों को इस पर तुरंत संज्ञान लेने के निर्देश भी दिए।

निंबाहेड़ा काॅलेज में तीन विषय खुलवाने का दिया आश्वासन

इसी तरह छात्रों ने निंबाहेड़ा कॉलेज में पीजी स्तर पर समाजशास्त्र व राजनीति विज्ञान विषय शुरू करने की मांग रखी। सीएम ने भूगोल विषय की मांग नहीं रखने पर आश्चर्य जताते हुए तीनों विषय खुलवाने का आश्वासन दिया। नगर के जेके आईटी प्रशिक्षण संस्थान में कार्यक्रम के पहले सत्र में मुख्यमंत्री ने सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों के साथ प्रोफेशनल, प्रबुद्धजन, पेंशनर्स व शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों से संवाद किया। समस्याएं सुनीं व सुझावों पर गौर किया। सवा तीन घंटे के पहले सत्र में कई मौकों पर अधिकारियों से जवाब तलब किए। एक छात्रा की मां ने पीड़ा बताई कि मेरी बेटी की उम्र 18 वर्ष से ऊपर होने से वह 11वीं व 12वीं में पालनहार योजना का लाभ नहीं ले पाएगी। उच्च अध्ययन बाधित हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने कृपलानी को सहयोग कराने को कहा।

जनसंवाद में सीएम ने विद्यार्थियों को बांटे लैपटॉप