• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Pali News
  • एएमयू में जिन्ना की तस्वीर के खिलाफ भाजपा सांसद ने वीसी को पत्र लिखा; योगी के मंत्री मौर्य बोले- जिन्ना तो महापुरुष
--Advertisement--

एएमयू में जिन्ना की तस्वीर के खिलाफ भाजपा सांसद ने वीसी को पत्र लिखा; योगी के मंत्री मौर्य बोले- जिन्ना तो महापुरुष

अलीगढ़| अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के छात्रसंघ भवन में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:10 AM IST
अलीगढ़| अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के छात्रसंघ भवन में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगने पर विवाद तेज हो गया है। यूपी में सत्तारूढ़ भाजपा में भी इस मुद्दे पर मतभेद सामने आ रहे हैं।

अलीगढ़ के भाजपा सांसद गौतम ने यूनिवर्सिटी के कुलपति को चिट्‌ठी लिखकर पूछा है कि जिन्ना की तस्वीर क्यों लगाई गई? सांसद ने कहा है कि तस्वीर लगानी ही है तो महेंद्र प्रताप सिंह जैसे महान लोगों की लगाएं, जिन्होंने यूनिवर्सिटी के लिए जमीन दान दी थी। दूसरी तरफ योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने जिन्ना को महापुरुष बताते हुए उनकी तस्वीर पर सवाल उठाने वालों पर ही निशाना साधा।





उन्होंने कहा, “इस राष्ट्र के निर्माण में जिन महापुरुषों का योगदान रहा है, उन पर उंगली उठाना घटिया बात है। बंटवारे से पहले जिन्ना का योगदान इस देश में था।’ उन्होंने कहा कि ऐसे बकवास बयान भले ही उनकी पार्टी के लोग दें या दूसरे दलों के, लोकतंत्र में इनकी मान्यता नहीं है।

वहीं, एएमयू के प्रवक्ता शैफी किदवई ने कहा, “ऐसा लगता है कि यह तस्वीर कई दशकों से यहां लटकी है। जिन्ना यूनिवर्सिटी के संस्थापक सदस्य थे और उन्हें स्टूडेंट यूनियन की लाइफटाइम मेंबरशिप दी गई थी। परंपरागत रूप से सभी लाइफटाइम सदस्यों की तस्वीरें छात्रसंघ भवन में लगी हैं।’

अलीगढ़| अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के छात्रसंघ भवन में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगने पर विवाद तेज हो गया है। यूपी में सत्तारूढ़ भाजपा में भी इस मुद्दे पर मतभेद सामने आ रहे हैं।

अलीगढ़ के भाजपा सांसद गौतम ने यूनिवर्सिटी के कुलपति को चिट्‌ठी लिखकर पूछा है कि जिन्ना की तस्वीर क्यों लगाई गई? सांसद ने कहा है कि तस्वीर लगानी ही है तो महेंद्र प्रताप सिंह जैसे महान लोगों की लगाएं, जिन्होंने यूनिवर्सिटी के लिए जमीन दान दी थी। दूसरी तरफ योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने जिन्ना को महापुरुष बताते हुए उनकी तस्वीर पर सवाल उठाने वालों पर ही निशाना साधा।





उन्होंने कहा, “इस राष्ट्र के निर्माण में जिन महापुरुषों का योगदान रहा है, उन पर उंगली उठाना घटिया बात है। बंटवारे से पहले जिन्ना का योगदान इस देश में था।’ उन्होंने कहा कि ऐसे बकवास बयान भले ही उनकी पार्टी के लोग दें या दूसरे दलों के, लोकतंत्र में इनकी मान्यता नहीं है।

वहीं, एएमयू के प्रवक्ता शैफी किदवई ने कहा, “ऐसा लगता है कि यह तस्वीर कई दशकों से यहां लटकी है। जिन्ना यूनिवर्सिटी के संस्थापक सदस्य थे और उन्हें स्टूडेंट यूनियन की लाइफटाइम मेंबरशिप दी गई थी। परंपरागत रूप से सभी लाइफटाइम सदस्यों की तस्वीरें छात्रसंघ भवन में लगी हैं।’

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..